Breaking News
कोहली आईसीसी रैंकिंग में शीर्ष पर कायम, कुलदीप शीर्ष 10 में शामिल         ||           आज का दिन : राजेश खन्ना         ||           राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति और राज्‍यपालों की गाड़ियों पर अब जल्‍द दिख सकती है नंबर प्लेट         ||           रणबीर कपूर ने कहा मैं माचो हीरो बनने के काबिल नहीं हूं         ||           आईओए ने कोर्ट के आदेश के बाद एशियन गेम्स 2018 में हैंडबॉल टीम को दी मंजूरी         ||           जॉन अब्राहम ने कहा पहले असफलता से डरता था, लेकिन अब कोई डर नहीं         ||           सेंसेक्स 147 अंक की गिरावट पर बंद         ||           सरकार ने गन्ने का समर्थन मूल्य 255 से बढाकर 275 रुपये प्रति क्विंटल किया         ||           वायु सेना का मिग-21 एयरक्राफ्ट हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में दुर्घटनाग्रस्त         ||           इंग्लैंड के खिलाफ पहले तीन टेस्ट मैचों के लिए भारतीय टीम की घोषणा         ||           अविश्वास प्रस्ताव पर विपक्षी एकता के खिलाफ एनडीए सरकार की होगी पहली परीक्षा         ||           इमरान की पार्टी को आतंकी संगठन ने दिया समर्थन         ||           आरएलएलपी ने बीजेपी से बिहार में जदयू से अधिक सीटें और एनडीए नेता का पद मांगा         ||           पहलवान साजन ने जूनियर एशियाई चैंपियनशिप में जीता स्वर्ण         ||           कप्तान विराट कोहली ने कहा बल्लेबाज रहे हार की वजह         ||           राहुल गांधी ने भाजपा से पूछा, वो कौन है जो कमजोरों को तलाशकर कुचल देता है         ||           ग्रेटर नोएडा में इमारत गिरने से तीन की मौत         ||           संसद का मानसून सत्र आज से         ||           शेयर बाजार के शुरूआती कारोबार में तेजी का असर         ||           इंग्लैंड ने फिर पकड़ा जीत वाला रुट, भारत को 8 विकेट से हराकर सीरीज 2-1 से जीती         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> ये है हमारे सबसे ज्यादा'परोपकारी' अमीर, चुपचाप जुटे है सेवा में

ये है हमारे सबसे ज्यादा'परोपकारी' अमीर, चुपचाप जुटे है सेवा में


Vniindia.com | Wednesday September 09, 2015, 09:34:48 | Visits: 450







ह्यूस्टन, 9 सितंबर (अनुपमा जैन,वीएनआई) दुनिया के सबसे परोपकारी धनाढ्यो मे सात भारतीय भी है जो चुपचाप अपनी कमाई का बड़ा हिस्सा परोपकार मे लगा रहे है.मशहूर पत्रिका फोर्ब्स एशिया की ‘हीरोज़ ऑफ फिलेंथ्रेपी’ (परोपकार के नायक) की 9वीं सूची ने परोपकारी कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने वाले 13 एशिया प्रशांत देशों के दानदाता धनाढ्यों की एक सूची तैयार की है जिसमे सात भारतीय है

मददगारो की इस सूची में जिस भारतीय का नाम शीर्ष पर है, केरल में जन्मे और दुबई में रहने वाले उद्योगपति सनी वर्की , जिन्होंने बिल गेट्स और वारेन बफे द्वारा शुरू की गई ‘गिविंग प्लेज’ (संपत्ति का एक हिस्सा कल्याणार्थ देने के संकल्प) की पहल के तहत जून के महीने में अपने 2.25 अरब डॉलर (लगभग 15 हजार करोड़ रुपये) का आधा हिस्सा दान में देने की घोषणा की थी. वर्की दुबई स्थित जीईएमएस कंपनी के संस्थापक हैं. 14 देशों में इस कंपनी के 70 निजी स्कूल है.

इसके बाद इस सूची में आईटी कंपनी इन्फ़ोसिस के चार सह संस्थापकों को शामिल किया गया है.इनमें सेनापथे गोपालकृष्णन, नंदन नीलेकणी और एसडी शिबूलाल के नाम हैं. उऩ्हें स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में विशेष तौर पर योगदान के लिए शामिल किया गया है.

इन्फ़ोसिस के एक और सह-संस्थापक एनआर नारायणमूर्ति के बेटे रोहन का नाम हार्वर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस को 52 लाख डॉलर देने के लिए शामिल किया गया है. रोहन ने ये राशि प्राचीन भारतीय साहित्यिक कृतियों को बढ़ावा देने के लिए उपलब्ध कराई है.

इस सूची में लंदन के उद्योगपति भाई- सुरेश रामकृष्णन और महेश रामकृष्णन के नाम भी शामिल हैं.इन दोनों भाईयों ने भारत भर में 4,000 से अधिक लोगों को सिलाई का प्रशिक्षण देने के लिए तीस लाख अमरीकी डालर का गोगदान दिया.इन दान प्राप्तकारों में 2004 की सुनामी पीड़ित और ज़रूरतमंद महिलाएं भी शामिल हैं.वी एन आई.

Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें