Breaking News
प्रधानमंत्री मोदी आज 25 लाख चौकीदारों से करेंगे बात         ||           महबूबा मुफ्ती ने कहा लोकसभा चुनाव तक भारत-पाक में तनाव रहेगा         ||           जर्मनी ने मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के लिए पहल की         ||           मोदी ने कहा कांग्रेस ने प्रेस से सेना तक कुछ नहीं छोड़ा         ||           अरुणाचल प्रदेश में भाजपा के 2 मंत्री और 6 विधायक एनपीपी में शामिल         ||           गोवा विधानसभा में आज होगा फ्लोर टेस्ट         ||           जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष देश के पहले लोकपाल बने         ||           आज का दिन : आचार्य कृपलानी         ||           यूपी में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय की बहू कांग्रेस में जाएंगी         ||           शिवपाल यादव की प्रसपा ने 31 लोकसभा सीटों पर उतारे प्रत्याशी         ||           कर्नाटक में निर्माणाधीन बिल्डिंग गिरी, 70 लोग फंसे         ||           शशि थरूर ने कहा भाजपा लोकसभा चुनाव को 'खाकी चुनाव' में बदलने की कोशिश कर रही         ||           प्रियंका गांधी ने गंगा यात्रा के दूसरे दिन मिर्जापुर में लोगों से मुलाकात की         ||           दलाई लामा ने कहा भारत से ही हो सकता है मेरा उत्तराधिकारी         ||           त्रिपुरा में भाजपा के उपाध्यक्ष सुबल भौमिक ने दिया इस्तीफा         ||           डीएमके ने कहा सत्ता में आए तो राजीव के हत्यारों को करेंगे रिहा         ||           अजित डोभाल ने कहा पुलवामा में सीआरपीएफ के बलिदान को न भूले हैं और न भूलेंगे         ||           आरजेडी ने कांग्रेस से कहा 8 सीटों पर लड़ो या अकेले रहो         ||           नीदरलैंड में ट्राम में गोलीबारी से 3 लोगो की मौत         ||           प्रमोद सावंत गोवा के नए मुख्यमंत्री बने         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> तमिलनाडु के विवादास्पद खेल जल्लीकट्टू पर से प्रतिबंध हटा

तमिलनाडु के विवादास्पद खेल जल्लीकट्टू पर से प्रतिबंध हटा


Vniindia.com | Friday January 08, 2016, 03:03:49 | Visits: 759







नई दिल्ली 8 जनवरी (वीएनआई) केंद्र सरकार ने तमिलनाडु में सांड को काबू में करने के विवादास्पद खेल 'जल्लीकट्टू यानी ' मंजू विरट्टू (सांड को काबू करना ), पर से प्रतिबंध हटा दिया है। तमिलनाडु में जल्लीकट्टू एक लोकप्रिय खेल रहा है, मदुरई के पास स्थित कई गाँवों में जनवरी में पोंगल के मौके (फसल कटाई का त्यौहार ) पर मट्टू पोंगल के दिन विशेष तौर पर जल्लीकट्टू यानी सांड को काबू में करने के खेल का आयोजन होता है. हालांकि पशुप्रेमी संगठन इस खेल का विरोध करते रहे हैं पर अब पर्यावरण और वन मंत्रालय ने एक अधिसूचना जारी करते हुए खेल को मंज़ूरी दे दी है.इससे तमिलनाडु में जश्न का माहौल बन गया है
तमिलनाडु में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं और इसे देखते हुए ये फ़ैसला अहम माना जा रहा है. तमिलनाडु सरकार के अलावा कई किसान संगठनों ने भी मांग की थी कि केंद्र सरकार क़ानून में बदलाव करे.तमिलनाडु के राजनीतिक दल इस प्रतिबंध को हटाने की मांग कर रहे थे।
पर्यावरण मंत्रालय ने 2011 की अधिसूचना में थोड़ा बदलाव करके आज नई अधिसूचना जारी की, जिसमें जल्लीकट्टू और देश के कुछ राज्यों में होने वाली परंपरागत बैलगाड़ी दौड़ पर से प्रतिबंध हटा दिया गया है। , अधिसूचना केअनुसार जल्लीकट्टू के तहत सांड या बैलों को 15 मीटर के दायरे के अंदर ही काबू करना होगा। महाराष्ट्र, कर्नाटक, पंजाब, हरियाणा, केरल और गुजरात में होने वाले परंपरागत बैलगाड़ी दौड़ पर भी लगी रोक हट गई है। बशर्ते ये दौड़ एक विशेष ट्रैक पर ही कराई जाए, जो दो किलोमीटर से ज्यादा लंबा ना हो। पूर्वोत्तर के दौरे पर गये पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि उचित सुरक्षा और जानवरों पर अत्याचार नहीं करने की शर्त पर जल्लीकट्टू की इजाजत दी गई है।
तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता ने जल्लीकट्टू पर से प्रतिबंध हटाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया है। इस अधिसूचना के बाद तमिलनाडु में जश्न सा माहौल है।
गौरतलब है किं सुप्रीम कोर्ट ने मई 2014 में केंद्र सरकार के तब के नोटिफ़िकेशन को सही ठहराया था जिस पर जल्लीकट्टू पर बैन लगाया गया था

Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें