Breaking News
न्यूजीलैंडः स्कार्फ से बंधा प्रेम,दृढता का बंधन         ||           शत्रुघ्न सिन्हा 28 मार्च को राहुल गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस का हाथ थामेंगे         ||           बीसीसीआई ने कहा रविचंद्रन अश्विन को मर्यादा बनाए रखनी चाहिए         ||           विपक्ष ने कहा चौकीदार ने देश के साथ गद्दारी की         ||           गिरिराज सिंह ने कन्हैया को बताया 'पापड़ फोड़ पहलवान'         ||           यूपी के महागठबंधन में एसपी, बीएसपी और आरएलडी के साथ जुड़े दो और दल         ||           राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी को अनिल अंबानी का चौकीदार कहा         ||           सैम पित्रोदा को कांग्रेस ने चुनाव प्रचार की दी जिम्मेदारी         ||           बसपा ने फतेहपुर सीकरी से बदला प्रत्याशी         ||           जया प्रदा बीजेपी में हुईं शामिल, आजम खान के खिलाफ लड़ सकती हैं चुनाव         ||           मुरली मनोहर जोशी टिकट नहीं मिलने से नाराज         ||           पेट्रोल और डीजल के दाम आज नहीं बढ़ें         ||           अरविंद केजरीवाल ने कहा दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिला तो हम यहां 10 सिंगापुर बना देंगे         ||           ईरान में बाढ़ में मरने वालो की संख्या 19 पहुंची         ||           कन्हैया कुमार ने गिरिराज सिंह पर तंज कसा, बोले 'वीजा मंत्री' बेगूसराय जाने पर दुखी हो गए         ||           भाजपा ने 40 स्टार प्रचारकों की सूची जारी की, अडवाणी और जोशी का नाम नहीं         ||           छत्तीसगढ़ के सुकमा में मुठभेड़ में 4 नक्सली ढेर         ||           मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष बनाए गए मिलिंद देवड़ा         ||           न्यूज़ीलैण्ड : स्कार्फ से बंधा प्रेम, दृढ़ता का बंधन         ||           अरुण जेटली ने राहुल गांधी की 12000 न्यूनतम महीने वाली स्कीम को धोखा बताया         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> पुलवामा आतंकी हमले पर चीन की संवेदना में पाकिस्तान व जैश का जिक्र नही

पुलवामा आतंकी हमले पर चीन की संवेदना में पाकिस्तान व जैश का जिक्र नही


admin ,Vniindia.com | Saturday February 16, 2019, 11:36:30 | Visits: 59







खास बातें


1 पुलवामा आतंकी हमले पर चीन की संवेदना में पाकिस्तान व जैश का जिक्र नही







नई दिल्ली,16 फरवरी(वी एन आई) चीन ने पुलवामा आतंकी हमले  में मारे गये लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए सभी प्रकार के आतंकवाद की तीव्र भर्त्सना की है  तथा कहा हैं कि आतंकवाद समूची मानवता का शत्रु हैं. उस ने कहा हैं कि  क्षेत्र के देशों को सहयोग बढाना चाहिये , आतंकवाद के खतरे से मिल कर निबटना चाहिये और क्षेत्र में शांति और सुरक्षा बरकरार रखी जानी चाहिये.


 


चीन के विदेश मंत्री तथा स्टेट कोंसलर वॉग यी ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को भेजे एक संवेदना संदेश में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा   में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों की शहादत पर चीन ने गहरी सहानुभूति तो जताई है, मगर उसने अपने संदेश में पाकिस्तान अथवा पाक स्थित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद का  कोई जिक्र नहीं किया है, जिस आतंकी गुट ने इस आतंकी हमले की जिम्मेवारी ली है.विदेश मंत्री  स्वराज को शुक्रवार को भेजे अपने शोक संदेश में यी ने कहा कि जब उन्हें पता चला कि कश्मीर में एक  आत्मघाती हमला किया गया है और इससे भारी संख्या में सुरक्षा कर्मी हताहत हुए हैं तो वह स्तब्ध रह गए.चीन हर तरह के आतंकवाद का मजबूती से विरोध करता है और इसकी कड़ी निंदा करता है.


 


दरअसल,संयुक्त राष्ट्र द्वारा प्रतिबंधित पाकिस्तान स्थित आतंकी गुट जैश  ने इस हमले के फौरन बाद ही  इस हमले की जिम्मेवारी  ली थी.    भारत कह चुका है कि उस के पास पुलवामा हमले में पाकिस्तान के हाथ होने के ऐसे सबूत हैं, जिस पर कोई विवाद नहीं हो सकता. हालांकि, भारत के आरोपों को पाकिस्तान सरकार नकार चुकी है. पाकिस्तान ने कहा है कि ‘हम बिना किसी जांच के हमले का संबंध पाकिस्तान से जोड़ने के भारतीय मीडिया और सरकार के किसी भी आक्षेप को खारिज करते है'. 


 


जैश ्को  उस की आतंकी गतिविधियों की वजह से संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंधित संगठन की सूची में डाल  चुका है,लेकिन उस के  सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी की सूची में डाले जाने के संयुक्त राष्ट्र में विचाराधीन ्भारत के प्रस्ताव  पर चीन ने इस नये आतंकी हमले के बाद भी समर्थन नही देने का अपना पुराना  रूख यथावत रखा ्है. अगर अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की आतंकवादियों की सूची में डाला जाता है तो उसपर दुनिया भर में यात्रा करने पर रोक लगेगी और उसकी संपत्तियों को जब्त कर लिया जाएगा.जैश इस से पहले भी भारत मे अनेक आतंकी हमलों मे लिप्त रहा हैं.


 


 


दरअसल, इससे पहले गुरुवार को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 78 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान बाईं ओर से ओवरटेक कर विस्फोटक से लदी एक कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी.  विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 40 जवान शहीद हो गए.वी एन आई 


 


 


 






 





 


Attachments area


 



 




 



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें