Breaking News
राहुल गांधी का जन्मदिन कांग्रेस ने मनाया         ||           कांग्रेस ने कहा भाजपा ने कश्मीर को बर्बाद कर दिया         ||           उमर अब्दुल्ला ने कहा जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने का जनादेश नहीं         ||           श्रीलंका और वेस्टइंडीज के बीच सेंट लूसिया टेस्ट ड्रॉ पर समाप्त         ||           ओवैसी ने कहा राज्यपाल शासन से कश्मीर में हालात सामान्य नहीं होंगे         ||           भारतीय महिला हॉकी टीम ने जीत के साथ किया स्पेन दौरे का समापन         ||           ममता बनर्जी ने राहुल को 48वें जन्मदिन पर बधाई दी         ||           शिवसेना के स्थापना दिवस पर ममता ने उद्धव को बधाई दी         ||           उमर अब्दुल्ला राज्यपाल वोहरा से मिलने पहुंचे         ||           शिवसेना ने कहा बीजेपी-पीडीपी गठबंधन राष्ट्र विरोधी था         ||           नितिन गडकरी 'सतत विकास के लिए जल 2018-2028’ में भाग लेने के लिए ताजिकिस्तान रवाना         ||           सेंसेक्स 262 अंकों की गिरावट पर बंद         ||           जम्मू एवं कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस्तीफा दिया         ||           जम्मू एवं कश्मीर में पीडीपी-बीजेपी गठबंधन टूटा         ||           नेपाल के प्रधानमंत्री चीन दौरे के लिए रवाना         ||           ओली ने कहा चीन के साथ सहयोग बढ़ाने का इच्छुक नेपाल         ||           मनीष सिसोदिया और जैन को अस्पताल से छुट्टी मिली         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल को जन्मदिन की बधाई दी         ||           महाराष्ट्र में विषाक्त भोजन खाने से 4 लोगो की मौत         ||           रूस की नजरें फीफा विश्व कप में दूसरी जीत पर         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> आज है नवदुर्गा के तीसरे स्वरूप ‘चन्द्रघण्टा’ की पूजा

आज है नवदुर्गा के तीसरे स्वरूप ‘चन्द्रघण्टा’ की पूजा


admin ,Vniindia.com | Tuesday March 20, 2018, 01:22:00 | Visits: 122







नई दिल्ली 20 मार्च (वीएनआई) 18 मार्च से वासंतिक नवरात्र शुरू हो गया है। इस बार की नवरात्रि मान्यता के आधार पर केवल 8 दिन की ही हैं। इसमें 24 मार्च को अष्टमी की पूजन की जाएगी। इस दिन श्रद्धालु माता के महागौरी रूप की आराधना करते हैं। इसके बाद 25 तारीख को श्रीराम नवमी मनाई जाएगी, साथ ही माता की नवमी पूजन भी की जाएगी। आज वासंतिक नवरात्रि का तीसरा दिन है।  



मां भगवती की तीसरी शक्ति ‘चन्द्रघण्टा’की उपासना तथा विग्रह का पूजन-आराधन किया जाता है. नवरात्र के तीसरे दिन चन्द्रघण्टा की पूजा इसलिए होती है क्योंकि माता का पहला रूप और दूसरा रूप भगवान शिव को पाने के लिए है। जब मातारानी भगवान शिव को पति रूप में प्राप्त कर लेती हैं तब वह अपने आदिशक्ति रूप में आ जाती हैं। 



इनका यह स्वरूप परम शान्तिदायक और कल्याणकारी है. इनके मस्तक में घण्टे के आकार का अर्धचन्द्र है, इसी कारण से इन्हें चन्द्रघण्टा देवी कहा जाता है. इनके शरीर का रंग स्वर्ण के समान चमकीला है. इनके दस हाथ हैं. इनके दसों हाथों में खड्ग आदि शस्त्र तथा बाण आदि अस्त्र विभूषित हैं. इनका वाहन सिंह है. नवरात्र की दुर्गा उपासना में तीसरे दिन की पूजा का अत्यधिक महत्व है. इस दिन साधक का मन ‘मणिपूर’ चक्र में प्रविष्ट होता है. मां चन्द्रघण्टा की कृपा से उसे अलौकिक वस्तुओं के दर्शन होते हैं. मां चन्द्रघण्टा की कृपा से साधक के समस्त पाप और बाधाएं विनष्ट हो जाती हैं. इनकी आराधना सद्य: फलदायी हैं. हमें निरन्तर उनके पवित्र विग्रह को ध्यान में रखते हुए साधना की ओर अग्रसर होने का प्रयत्न करना चाहिए. उनका ध्यान हमारे इहलोक और परलोक दोनों के लिए परमकल्याणकारी और सद्गति को देने वाला है 



मां चंद्रघंटा की उपासना करने का मंत्र बहुत ही आसान है। मां दुर्गा की भक्ति पाने के लिए इस मंत्र का जाप करना चाहिए। 

मंत्र इस प्रकार है: पिण्डजप्रवरारूढ़ा चण्डकोपास्त्रकेर्युता। 

प्रसादं तनुते मह्यं चंद्रघण्टेति विश्रुता॥



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें