Breaking News
जॉन अब्राहम ने कहा पहले असफलता से डरता था, लेकिन अब कोई डर नहीं         ||           सेंसेक्स 147 अंक की गिरावट पर बंद         ||           सरकार ने गन्ने का समर्थन मूल्य 255 से बढाकर 275 रुपये प्रति क्विंटल किया         ||           वायु सेना का मिग-21 एयरक्राफ्ट हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में दुर्घटनाग्रस्त         ||           इंग्लैंड के खिलाफ पहले तीन टेस्ट मैचों के लिए भारतीय टीम की घोषणा         ||           अविश्वास प्रस्ताव पर विपक्षी एकता के खिलाफ एनडीए सरकार की होगी पहली परीक्षा         ||           इमरान की पार्टी को आतंकी संगठन ने दिया समर्थन         ||           आरएलएलपी ने बीजेपी से बिहार में जदयू से अधिक सीटें और एनडीए नेता का पद मांगा         ||           पहलवान साजन ने जूनियर एशियाई चैंपियनशिप में जीता स्वर्ण         ||           कप्तान विराट कोहली ने कहा बल्लेबाज रहे हार की वजह         ||           राहुल गांधी ने भाजपा से पूछा, वो कौन है जो कमजोरों को तलाशकर कुचल देता है         ||           ग्रेटर नोएडा में इमारत गिरने से तीन की मौत         ||           संसद का मानसून सत्र आज से         ||           शेयर बाजार के शुरूआती कारोबार में तेजी का असर         ||           इंग्लैंड ने फिर पकड़ा जीत वाला रुट, भारत को 8 विकेट से हराकर सीरीज 2-1 से जीती         ||           कोहली और धोनी ने खेली जुझारू पारी, भारत ने इंग्लैंड को दिया 257 का लक्ष्य         ||           आज का दिन : कानन देवी         ||           शी जिनपिंग के पोस्टर पर स्याही फेंकने वाली चीनी महिला गिरफ्तार         ||           चुनाव आयोग ने लाभ का पद मामले में आप विधायकों को याचिकाकर्ता से जिरह करने की अनुमति नहीं दी         ||           स्वामी अग्निवेश पर भाजपा कार्यकर्ताओं का हमला         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> उप्र में छाया घना कोहरा, सप्ताह के अंत तक मौसम में बदलाव की उम्मीद

उप्र में छाया घना कोहरा, सप्ताह के अंत तक मौसम में बदलाव की उम्मीद


admin ,Vniindia.com | Wednesday January 10, 2018, 10:49:00 | Visits: 150







लखनऊ, 10 जनवरी (वीएनआई)| उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और राज्य के अधिकांश इलाकों में सुबह से ही घना कोहरा छाया हुआ है। मौसम विभाग का दावा है कि पिछले 10 वर्षो के दौरान जनवरी में ऐसी ठंड नहीं पड़ीं। लगभग एक सप्ताह से तापमान दो डिग्री सेल्सियस से लेकर 15 डिग्री सेल्सियस के बीच अटका हुआ है। हालांकि, इस सप्ताह के अंत तक मौसम के रुख में बदलाव होने की उम्मीद है। 



उप्र मौसम विभाग के निदेशक जे पी गुप्ता के अनुसार, बुधवार को दिन में दोपहर बाद ही धूप निकलेगी। इस सप्ताह के अंत तक न्यूनतम और अधिकतम तापमान में कमी आने की उम्मीद है। इस बार मैदानी इलाकों में सर्दी में बारिश न होने की वजह से भी तापमान एक ही चक्र के आसपास टिका हुआ है। गुप्ता ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ भी उतना प्रभावी नही रहा जिससे चक्रवाती परिस्थतियां बन सकें। इसकी वजह से पहाड़ी क्षेत्रों से आने वाली सर्द हवाएं बिना किसी रुकावट के मैदानी इलाकों तक पहुंच रही हैं। इससे ठंड ज्यादा बढ़ गई है। प्रसिद्घ मौसम विज्ञानी प्रो ध्रुवसेन हालांकि इसे ग्लोबल वार्मिंग का असर बता रहे हैं। उनका कहना है कि पारिस्थतिकी तंत्र को नुकसान पहुंचने की वजह से मौसम के रुख में बदलाव देखने को मिल रहा है। 



मौसम विभाग ने दावा किया है कि पिछले साल लखनऊ में कुछ समय के लिए जरूर तापमान एक डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था लेकिन उस समय भी अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस के आसपास दर्ज किया गया था। यह पहला मौका है जब जनवरी में न्यूनतम तापमान और अधिकतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस से 15 डिग्री सेल्सियस के बीच अटका हुआ है। मौसम विभाग के मुताबिक, बुधवार को हालांकि लखनऊ का न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि अधिकतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किए जाने का अनुमान है। लखनऊ के अतिरिक्त बुधवार को गोरखपुर का न्यूनतम तापमान सात डिग्री, कानपुर का 5.8 डिग्री, बनारस का 5.7 डिग्री, इलाहाबाद का 7.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें