Breaking News
कुलभूषण जाधव केस मे इंटरनेशन कोर्ट में सुनवाई शुरू         ||           राहुल की मौजूदगी मे कांग्रेस में शामिल हुए सांसद कीर्ति आजाद         ||           मारा गया पुलवामा आतंकी हमले का मास्टरमाइंड ग़ाज़ी         ||           आज का दिन :         ||           आज का दिन :         ||           वायु शक्ति-2019         ||           क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया का अनूठा विरोध         ||           पुलवामा हमला-कश्मीर के पॉच अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटाई गई         ||           महानायक शहीदों की आर्थिक मदद के लिए आगे आए हैं.         ||           Hyderabad Special Tomato Chutney         ||           ब्रिटेन ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान से सटे सीमाई इलाकों से दूर रहने की सलाह दी         ||           पुलवामा आतंकी हमले पर चीन की संवेदना में पाकिस्तान व जैश का जिक्र नही         ||           ठोको ताली-सिद्धू का कपिल शर्मा शो से जाना पहले से तय था         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा हम छेाड़ते नहीं, किसी ने छेड़ा तो छोड़ते नहीं         ||           राजनाथ सिंह ने इंटेलीजेंस के अफसरों से मुलाकात की         ||           वंदे भारत एक्सप्रेस         ||           लोकसभा चुनाव की तारीखों के बाद जारी होगा IPL 2019 का कार्यक्र्म         ||           सब दलों कि मीटिंग बैठक में गृह मंत्री बोले- सुरक्षा बलों को पूरी छूट         ||           आज का दिन :         ||           चयन टी 20 टीम का         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> सर्वोच्च न्यायलय ने दिल्ली में कूड़े पर उप राज्यपाल को लगाई फटकार

सर्वोच्च न्यायलय ने दिल्ली में कूड़े पर उप राज्यपाल को लगाई फटकार


admin ,Vniindia.com | Thursday July 12, 2018, 04:07:00 | Visits: 103







नई दिल्ली, 12 जुलाई, (वीएनआई) दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल को सर्वोच्च न्यायलय ने कूड़ा निस्‍तारण मामले पर कड़ी फटकार लगाते हुए कहा है कि उप राज्यपाल कार्यालय दिल्ली में कूड़े के निस्‍तारण को लेकर उचित कदम नहीं उठाया। 



सर्वोच्च न्यायलय ने कहा कि दिल्ली में कचरे को मैनेज करने के लिए पर्याप्त प्रभावी उपाय नहीं किए।एलजी अनिल बैजल ने कोर्ट से कहा था कि कूड़ा निस्‍तारण की जिम्‍मेदारी नगर निगम की है और वह उसकी निगरानी के इंचार्ज हैं। न्यायलय में सुनवाई के दौरान एमिकस क्‍यूरी कॉलिन गोंजाल्‍वेस ने कहा कि बैठकों में एलजी कार्यालय से कोई भी नहीं आया। यह जानकर जजों ने एलजी को कहा, 'आप कहते हैं 'मेरे पास पावर है, मैं सुपरमैंन हूं।' लेकिन आप कुछ करते नहीं।' अदालत ने उप राज्यपाल से कूड़ा बटोरने वालों को आइडेंडिटी कार्ड मुहैया कराने और पूरे मामले पर दोपहर 2 बजे तक अपडेट करने का आदेश भी दिया है।



इससे पहले सुनवाई के दौरान न्यायलय ने कहा था कि दिल्ली कचरे के पहाड़ के नीचे दबी जा रही है और मुंबई पानी में डूब रहा है, लेकिन सरकारें कुछ नहीं कर रही हैं। सर्वोच्च न्यायलय ने बीते मंगलवार को कचरा प्रबंधन की अपनी नीतियों पर हलफनामा दाखिल न करने पर 10 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों पर जुर्माना लगाया था। बता दें कि दिल्ली में जगह-जगह फैले कचरे ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें