Breaking News
वाटसन का आईपीएल-11 में दमदार शतक, चेन्नई ने बनाये 204 रन         ||           जेटली ने कहा कांग्रेस राजनीतिक हथियार के तौर पर महाभियोग का कर रही है प्रयोग         ||           सीए ने कहा इंग्लैंड दौरे से पहले होगी नए कोच, वनडे कप्तान की घोषणा         ||           गेल ने कहा सहवाग ने मुझे चुनकर आईपीएल को बचा लिया         ||           राहुल गाँधी ने न्यायाधीश लोया मामले पर कहा, भारतीय सच्चाई देख सकते हैं         ||           भाजपा ने लोया मामले में अपने सांसदों से कहा, राहुल पर हमला बोलें         ||           सेंसेक्स 12 अंकों की गिरावट पर बंद         ||           शकील बदायूँनी की पुण्यतिथि पर         ||           आज का दिन:         ||           चिदंबरम ने ईंधन की कीमतों को लेकर सरकार पर साधा निशाना         ||           दिल्ली उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश राजिन्द्र सच्चर का निधन         ||           केंद्र की वादाखिलाफी के विरोध में चंद्रबाबू नायडू का एकदिवसीय अनशन         ||           'द वॉक ऑफ मिजवान' के रैंप पर रणबीर, दीपिका ने जलवा बिखेरा         ||           राफेल नडाल मोंटे कार्लो मास्टर्स के क्वार्टर फाइनल में         ||           7 विपक्षी दलों ने प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव सौंपा         ||           नरोदा पाटिया नरसंहार मामले में कोडनानी बरी         ||           राष्ट्रमंडल सम्मेलन अधर में छोड़कर दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति स्वदेश लौटे         ||           राजधानी दिल्ली में बारिश के आसार         ||           अनिल कपूर ने कहा 'चलती का नाम गाड़ी' का रीमेक बनाने के लिए तैयार         ||           एंटोनियो गुटेरेस ने कहा संयुक्त राष्ट्र कर्मियों पर हमले बढ़े         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> सर्वोच्च न्यायालय का पटाखों पर राष्ट्रव्यापी प्रतिबंध को लेकर केंद्र को नोटिस

सर्वोच्च न्यायालय का पटाखों पर राष्ट्रव्यापी प्रतिबंध को लेकर केंद्र को नोटिस


admin ,Vniindia.com | Friday December 01, 2017, 02:30:02 | Visits: 67







नई दिल्ली, 1 दिसम्बर (वीएनआई)| सर्वोच्च न्यायालय ने पटाखे बनाने, जलाने और उनकी बिक्री पर राष्ट्रव्यापी प्रतिबंध लगाने की मांग करती एक याचिका पर सुनवाई करते हुए आज केंद्र को नोटिस जारी किया। इस याचिका में किसानों द्वारा पराली जलाने पर भी राष्ट्रव्यापी प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है। 



न्यायमूर्ति ए.के. सिकरी और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ ने अर्जुन गोपाल नामक एक बच्चे की याचिका का जवाब देने के लिए केंद्र को चार सप्ताह का समय दिया है। बच्चे का प्रतिनिधित्व वकील गोपाल शंकरनारायण कर रहे हैं। अन्य याचिकाकतार्ओं ने भी अदालत का दरवाजा खटखटाया है। वे बनाने, जलाने और उनकी बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की मांग कर रहे है क्योंकि इसके कारण वायु प्रदूषण में इजाफा हो रहा है, जिसकी पहले से ही गंभीर स्थिति है।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें