Breaking News
संगीतकार गायक पंकज मालिक की पुण्य तिथि पर         ||           हार्दिक पटेल ने कहा देश तोड़ने की राजनीति करने वालों से राष्ट्रभक्ति का सार्टिफिकेट नहीं चाहिए         ||           करण जौहर की 'रणभूमि' 2020 में दिवाली पर होगी रिलीज         ||           रोजर फेडरर एटीपी रैंकिंग में नडाल को पछाड़कर शीर्ष पर पहुंचे         ||           रीता जोशी ने कहा उप्र की नई पर्यटन नीति से लोगों को मिलेगा रोजगार         ||           ड्युम्नी ने कहा साझेदारी की कमी से हारे         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा भारत प्रौद्योगिकी का फायदा उठाने की बेहतर स्थिति में         ||           सेंसेक्स 236 अंकों की गिरावट पर बंद         ||           मालदीव के राष्ट्रपति ने आपातकाल के विस्तार के लिए कहा         ||           मप्र में भाजपा के राज्यमंत्री छेड़छाड़ मामले में फंसे, पार्टी ने किया निलंबित         ||           गुंडप्पा विश्वनाथ ने कहा कोहली तोड़ सकते हैं सारे रिकॉर्ड         ||           एक खुबसूरत द्वीप सिर्फ महिलाओ के लिये, लेकिन कीमत भी है भारी भरकम !         ||           वेंकैया नायडू ने कहा विभिन्न जाति, संप्रदाय, धर्म, लिंग के बावजूद, भारत एक है         ||           आज का दिन :         ||           जेडीयू ने कहा भ्रष्टाचार की विरासत संभालने के लिए 'दंडवत' हो रहे तेजस्वी         ||           भाजपा ने गोरखपुर से उपेंद्र शुक्ल, फूलपुर से कौशलेंद्र पटेल को उम्मीदवार बनाया         ||           पाकिस्तानी विदेश मंत्री ख्वाजा रूस दौरे पर जाएंगे         ||           कतर ओपन जीतीं क्वितोवा, शीर्ष-10 में होगी वापसी         ||           हार्दिक पटेल मप्र में भाजपा के लिए मुसीबत बनेंगे         ||           मलेशिया में केबल कारों में फंसे 89 पर्यटकों को सकुशल निकाला गया         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> उप्र में गन्ने की खेती से जुड़े युवा बनेंगे उद्यमी

उप्र में गन्ने की खेती से जुड़े युवा बनेंगे उद्यमी


admin ,Vniindia.com | Sunday February 11, 2018, 10:36:00 | Visits: 30







लखनऊ, 11 फरवरी (वीएनआई)| उत्तर प्रदेश की राजधानी में स्थित भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान ने गुड़ के कारोबार से जुड़े किसानों को उद्यमी बनाने के लिए नई शुरुआत की है। 



संस्थान के अधिकारियों का दावा है कि यहां के वैज्ञानिकों ने रसायनयुक्त गुड़ बनाने की विधि बनाई है और इससे वह उन युवाओं को मदद करना चाहते हैं, जो गुड़ के कारोबार को अपना व्यवसाय बनाना चाहते हैं। भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान का दावा है कि इससे गन्ना उत्पादन करने वाले किसानों को काफी फायदा मिलेगा। लखनऊ स्थित गन्ना संस्थान लंबे समय से बेहतर गन्ना उत्पादन करने के लिए किसानों की मदद कर रहा है। इससे आगे बढ़कर अब संस्थान ने गुड़ का उत्पादन करने की योजना बनाई है। संस्थान के निदेशक डॉ. ए.डी. पाठक के मुताबिक, बिहार में ज्यादातर चीनी मिलें बंद होने से किसानों ने गन्ने का उत्पादन कम कर दिया था। इसे देखते हुए संस्थान ने गन्ना किसानों को उद्यमी बनाने की योजना बनाई है। ये उद्यमी किसानों से गन्ना खरीदकर वैज्ञानिक विधि से स्वादिष्ट एवं सेहतमंद गुड़ बनाएंगे। संस्थान के वैज्ञानिकों की मानें तो गुड़ उत्पादन के लिए बिहार और उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में नई इकाइयों की शुरुआत की गई है। योजना की सफलता देखने के बाद इसे दूसरे जिलों में भी जल्द ही शुरू किया जाएगा। 



वैज्ञानिकों का मानना है कि कि गुड़ की उत्पादकता बढ़ाने के लिए गुड़ निर्माण भट्ठी और चिमनी को बेहतर तरीके से डिजाइन किया गया है। गुण निर्माण में चिमनी से कम धुआं निकलेगा, जिससे पर्यावरण को भी प्रदूषित होने से बचाया जा सकता है। गन्ना अनुसंधान केंद्र के वैज्ञानिकों ने गुड़ को पूरी तरह से रसायनयुक्त रखा है, जिसकी वजह से यह सेहत के लिए भी काफी अच्छा साबित होगा। संस्थान से जुड़े वैज्ञानिकों ने बताया कि युवाओं को गुड़ तैयार करने में मदद दी जाएगी। कोई भी युवा गुड़ बनाने की कार्ययोजना का प्रस्ताव तैयार कर संस्थान से संपर्क कर सकता है। यदि उनका प्रस्ताव संस्थान को पसंद आएगा, तो उसे अपना कारोबार शुरू करने में संस्थान की ओर से मदद दी जाएगी। इसके अलावा युवा उद्यमियों की ओर से तैयार किए जाने वाले गुड़ को संस्थान की तरफ से बाजार भी मुहैया कराया जाएगा। इसके लिए बाबा रामदेव के ब्रांड 'पतंजलि' से करार किया गया है।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें