Breaking News
पंजाब ने चेन्नई को दिया 154 का लक्ष्य         ||           भारतीय महिला हॉकी टीम एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में हारी         ||           राष्ट्रपति कोविंद चार दिन के अवकाश पर शिमला पहुंचे         ||           पेट्रोल, डीजल की कीमतें दिल्ली में रिकॉर्ड उच्च स्तर पर         ||           छग के दंतेवाड़ा में विस्फोट, 5 जवान शहीद         ||           जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति मई के अंत में चुनाव की तारीखों का ऐलान करेंगे         ||           मेलानिया ट्रंप किडनी की सर्जरी के बाद व्हाइट हाउस लौटीं         ||           कश्मीर में संघर्ष में नाबालिग घायल         ||           भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के असम दौरे से पहले आरटीआई कार्यकर्ता गिरफ्तार         ||           ईरान का यूरोप से परमाणु समझौते के प्रति प्रतिबद्ध रहने का आग्रह         ||           शेयर बाजार में घरेलू कंपनियों के नतीजों, विदेशी संकेतों पर रहेगी नजर         ||           कोलकाता ने हैदराबाद को 5 विकेट से हराया         ||           राजस्थान ने बेंगलोर को 30 रनों से हराया         ||           ममता बनर्जी ने कहा येदियुरप्पा का इस्तीफा लोकतंत्र की जीत         ||           प्रधानमंत्री मोदी का ओडिशा दौरा 26 मई को         ||           भारतीय महिला हॉकी टीम ने एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी में द. कोरिया से ड्रॉ खेला         ||           कर्नाटक में मुख्यमंत्री येदियुरप्पा का इस्तीफा         ||           चिदंबरम ने कहा सर्वोच्च न्यायालय का शुक्रिया         ||           येदियुरप्पा और श्रीरामुलू का लोकसभा से इस्तीफा         ||           कांग्रेस ने कहा मतदान के समय हमारे सभी विधायक उपस्थित रहेंगे         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> शेयर बाजारों की तेजी गायब (साप्ताहिक समीक्षा)

शेयर बाजारों की तेजी गायब (साप्ताहिक समीक्षा)


admin ,Vniindia.com | Saturday November 11, 2017, 09:38:45 | Visits: 72







मुंबई, 11 नवंबर | बीते सप्ताह शेयर बाजार में मुनाफावसूली के कारण पिछले पांच सप्ताहों से आई तेजी गायब हो गई। साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 371 अंकों या 1.1 फीसदी की गिरावट के साथ 33,314.56 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 130.75 अंकों या 1.25 फीसदी की गिरावट के साथ 10,321.75 पर बंद हुआ। इस दौरान बीएसई का मिडपैक सूचकांक 150.42 अंकों या 0.9 फीसदी की गिरावट के साथ 16,562.69 पर तथा स्मॉलकैप सूचकांक 212.21 अंकों या 1.19 फीसदी की गिरावट के साथ 17,643.82 पर बंद हुआ। 



सोमवार को सेंसेक्स में तेजी दर्ज की गई और यह 45.63 अंकों या 0.14 फीसदी की तेजी के साथ 33,731.19 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 0.70 अंकों या 0.01 फीसदी की गिरावट के साथ 10,451.80 पर बंद हुआ। मंगलवार को सेंसेक्स 360.43 अंकों या 1.07 फीसदी की गिरावट के साथ 33,370.76 पर बंद हुआ, वहीं निफ्टी 101.65 अंकों या 0.97 की गिरावट के साथ 10,350.15 पर बंद हुआ।  बुधवार को एक बार फिर बाजार में गिरावट दर्ज की गई और सेंसेक्स 151.95 अंकों या 0.46 फीसदी की गिरावट के साथ 33,218.81 पर तथा निफ्टी 47 अंकों या 0.45 फीसदी की गिरावट के साथ 10,303.15 पर बंद हुआ। गुरुवार को सेंसेक्स 32.12 अंकों या 0.10 फीसदी की तेजी के साथ 33,250.93 पर तथा निफ्टी 5.80 अंकों या 0.06 फीसदी की वृद्धि के साथ 10,308.95 पर बंद हुआ।  शुक्रवार को भी बाजार में तेजी का रुख रहा और सेंसेक्स 63.63 अंकों या 0.19 फीसदी की तेजी के साथ 33,314.56 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 12.80 अंकों या 0.12 फीसदी की तेजी के साथ 10,321.75 पर बंद हुआ। 



बीते सप्ताह सेंसेक्स के तेजी वाले शेयरों में - लार्सन एंड टूब्रो (2.35 फीसदी), आईसीआईसीआई बैंक (3.66 फीसदी) और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (2.52 फीसदी) प्रमुख रहे।सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे- रिलायंस इंडस्ट्रीज (6.57 फीसदी), हीरो मोटोकॉर्प (2.29 फीसदी), आईटीसी (1.53 फीसदी), ल्यूपिन (20.53 फीसदी), सिप्ला (4.78 फीसदी), महिंद्रा एंड महिंद्रा (0.63 फीसदी), भारती एयरटेल (7.31 फीसदी), मारुति सुजुकी (0.63 फीसदी) और टाटा मोटर्स (5.43 फीसदी)। व्यापक आर्थिक आंकड़ों के मोर्चे पर, प्रत्यक्ष कर संग्रहण के अक्टूबर के अनंतिम आंकड़ों में पिछले साल की तुलना में 15.2 फीसदी की तेजी दर्ज की गई और यह 4.39 लाख करोड़ रुपये रही। वैश्विक मोर्चे पर, बैंक ऑफ जापान (बीओजे) अपनी सितंबर बैठक के मिनट्स सोमवार को जारी करेगा। जापान का सेवा क्षेत्र लगातार दो सालों से तेजी पर है तथा अक्टूबर में इसमें तेज वृद्धि दर्ज की गई। जापान का निक्केई-मार्किट सर्विसेज पर्चेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स अक्टूबर में मजबूत होकर 53.4 पर रहा। इस सूचकांक में 50 से कम मंदी का और 50 से अधिक तेजी का सूचक है। अमेरिका में बेरोजगारी दर सितंबर में 4.1 फीसदी रही, जबकि अक्टूबर में अमेरिकी अर्थव्यवस्था में 2,61,000 नई नौकरियां पैदा हुई। --आईएएनएस



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें