Breaking News
कांग्रेस ने उम्मीदवारों की एक और लिस्ट जारी की         ||           राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को 15 मिनट बहस का दिया चैलेंज         ||           जया प्रदा ने कहा पिता आम्रपाली कहता है, बेटा अनारकली         ||           सपा ने मिर्जापुर सीट पर प्रत्याशी बदल राम चरित्र निषाद को दिया टिकट         ||           शिवराज सिंह चौहान ने प्रज्ञा ठाकुर को 'भारत की निर्दोष बेटी' बताया         ||           श्रीलंका हमले में जेडीएस के चार नेताओं की मौत, दो लापता         ||           मायावती ने साध्वी प्रज्ञा के 'धर्मयुद्ध' वाले बयान पर कसा तंज         ||           भारतीय विदेश सचिव गोखले की चीनी विदेश मंत्री से मुलाकात         ||           राहुल गांधी ने 'चौकीदार चोर है' बयान पर सुप्रीम कोर्ट में खेद जताया         ||           आज का दिन : Earth Day         ||           कांग्रेस ने दिल्ली की 6 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा की         ||           अमित शाह ने कहा फर्जी केस बनाकर साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को फंसाया गया         ||           सोनिया-प्रियंका की आज रायबरेली में रैली, राहुल अमेठी में करेंगे रोड शो         ||           पेट्रोल और डीजल के दाम आज नहीं बदले         ||           दिल्ली-एनसीआर में सताएगी गर्मी, तमिलनाडु-कर्नाटक में हो सकती है तेज बारिश         ||           ओडिशा में बीजेपी और बीजेडी उम्मीदवार की कार पर बम से हमला         ||           प्रधानमंत्री मोदी के काफिले की तलाशी लेने वाले मोहम्मद मोहसिन का तबादला         ||           श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट से अब तक 290 लोगों की मौत         ||           तीन भारतीय नागरिकों की श्रीलंका सीरियल ब्लास्ट में मौत         ||           तमिलनाडु के मंदिर में भगदड़ से 7 श्रद्धालुओं की मौत         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> दिल्ली में धूल के दौरान घर में रहें, मास्क पहनें

दिल्ली में धूल के दौरान घर में रहें, मास्क पहनें


admin ,Vniindia.com | Friday June 15, 2018, 10:08:57 | Visits: 417







नई दिल्ली, 15 जून (वीएनआई)| चिकित्सकों ने एनसीआर में अचानक हवा की गुणवत्ता गंभीर स्तर तक बिगड़ने से घर के अंदर रहने व मास्क पहनने की सिफारिश की। 



हवा की गुणवत्ता धूल के तूफान की वजह से गिरी जो बुधवार को शुरू हुआ और इसके आज तक बने रहने की संभावना है। बीएलके सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल के प्रमुख सलाहकार व निर्देशक आर.के.सिंघल ने कहा, अस्थमा जैसे सांस से जुड़े रोग वाले लोगों के लिए, क्रोनिक ऑबस्ट्रक्टिव एयरवेज डिजीज (सीओएडी) या एम्फिसीमा में धूल की मात्र में थोड़ी भी बढ़ोतरी उनके लक्षणों को खराब बना सकती है। धूल के कणों के काफी बारीक होने से सांस में जाने से आंखों में जलन, खांसी, छींक, बुखार व अस्थमा का दौरा पड़ सकता है। धूल के संपर्क में ज्यादा देर तक रहने से शिशुओं, छोटे बच्चों व बुजुर्ग लोगों में स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं पैदा होने की संभावना है।



एनसीआर में बुधवार को अचानक से गर्मी व धूल में बढ़ोतरी देखने को मिली। यह धूल राजस्थान, ईरान और अफगानिस्तान से हवाओं के जरिए आई। यहां तक कि गुरुवार को एनसीआर पर धूल की चादर बनी रही और न्यूनतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह मौसम के औसत तापमान से पांच डिग्री ऊपर रहा। सिंघल ने कहाउच्च पर्टिकुलेट मैटर (पीएम) राजधानी में 10 स्तर पर रहा। यह तेज हवा की रफ्तार की रफ्तार की वजह से रहा, जिसने पड़ोसी राजस्थान से धूल के कणों को अपने में समेट लिया। दक्षिणी दिल्ली के आरकेपुरम इलाके में रियल टाइम हवा गुणवत्ता सूचकांक गुरुवार की सुबह 999 स्तर के पार चला गया।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें