Breaking News
लापरवाही से गाड़ी चलाने के आरोप में रहाणे के पिता हिरासत में         ||           लालू ने आरोप लगाया, जद (यू) ने आत्मचिंतन की दी सलाह         ||           कांग्रेस ने कहा सोनिया ने राजनीति नहीं छोड़ी है         ||           प्रियंका और कैटरीना पुरस्कार समारोह में प्रस्तुति देंगी         ||           उत्तर कोरिया पर जापान ने नए एकतरफा प्रतिबंध लगाए         ||           सेंसेक्स में 216 अंकों की तेजी पर बंद         ||           रूस में राष्ट्रपति चुनाव अगले साल 18 मार्च को         ||           अफरीदी ने टी-10 मैच में ली हैट्रिक         ||           भूमि पेडनेकर ने कहा मुझे मेकअप पसंद है         ||           कश्मीर में अलगाववादी नेता मीरवाइज हिरासत में लिए गए         ||           आस्ट्रेलिया एशेज सीरीज में खराब शुरुआत के बाद संभला         ||           तेजस्वी ने कहा एग्जिट पोल पर खुश होने वाले बिहार चुनाव परिणाम को याद करें         ||           आज का दिन:         ||           तीन तलाक पर विधेयक को मंत्रिमंडल की मंजूरी         ||           'न्यूटन' ऑस्कर की दौड़ से हुई बाहर         ||           सोनिया गाँधी ने कहा अब मेरी भूमिका रिटायर होने की         ||           करीना ने कहा सोहा सशक्त महिला हैं         ||           राजस्थान रॉयल्स का आईपीएल टीमों ने स्वागत किया         ||           सर्वोच्च न्यायालय ने आधार को लिंक करने की समय सीमा बढ़ाई         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने सरदार पटेल को उनकी पुण्यतिथि पर याद किया         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> शरद यादव ने कहा मुझे अयोग्य करार देने के लिए 'हर तरफ' से दबाव था

शरद यादव ने कहा मुझे अयोग्य करार देने के लिए 'हर तरफ' से दबाव था


admin ,Vniindia.com | Thursday December 07, 2017, 09:36:11 | Visits: 44







नई दिल्ली, 7 दिसम्बर (वीएनआई)| वरिष्ठ नेता शरद यादव ने आज कहा कि उन्हें राज्यसभा की सदस्यता से अयोग्य करार देने के लिए 'हर तरफ' से दबाव था और उन्हें यह पहले से ही पता था कि क्या फैसला लिया जाने वाला है। 



शरद यादव ने कहा, मुझे पता था कि यह (अयोग्य करार दिया जाना) होने जा रहा है। कुछ मीडिया के लोगों ने इसके बारे में लिखा था। मैंने इसके लिए खुद को मानसिक रूप से तैयार कर लिया था। मुझे कोई पछतावा नहीं है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह अंत नहीं है और सिद्धांतों की लड़ाई जारी रहेगी। हालांकि, शरद यादव ने अपने को अयोग्य करार देने के लिए राज्यसभा के सभापति एम.वेंकैया नायडू पर हमला करने से परहेज किया और उन्हें पुराना मित्र बताया। उन्होंने कहा, वह मेरे पुराने मित्र हैं। लेकिन, राजनीति में परिस्थितियां बदलती हैं। अभी भी संस्थान (राज्यसभा सभापति) के लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है। लोग आते हैं और जाते हैं, लेकिन संस्थान बने रहते है और हमें उनका आदर करना चाहिए।



शरद यादव को अयोग्य करार देने का नोटिस सोमवार की रात करीब 10.30 बजे उनके निवास पर दिया गया। इस दौरान शरद यादव गुजरात के दौरे पर थे।यह पूछे जाने पर क्या वह सोचते हैं कि बिहार के मुख्यमंत्री व जनता दल युनाइटेड के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने उनके उच्च सदन से निष्कासन में तेजी लाने का दबाव बनाया है, इस पर शरद यादव ने कहा, मैं समझता हूं कि सभी तरफ से दबाव रहा होगा। जनता दल युनाइटेड के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, लेकिन, मैं इसे निष्कासन के तौर पर नहीं देखता। मैं इसे एक विराम के तौर पर देखता है। अब मैं पूरी तरह से खुद को पार्टी की गतिविधियों में समर्पित करूंगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बिहार में महागठबंधन को तोड़कर भाजपा से हाथ मिलाने के बाद शरद यादव, नीतीश से अलग हो गए। महागठबंधन में लालू प्रसाद की राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस व जनता दल युनाइटेड शामिल थी। नीतीश ने महागठबंधन से किनारा कर जुलाई-अगस्त में भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें