Breaking News
कोलकाता ने राजस्थान को हराकर आईपीएल-11 के क्वालीफायर-2 में जगह बनाई         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कुमारस्वामी को बधाई दी         ||           विपक्षी एकता की झलक कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में         ||           कुमारस्वामी को राजनाथ ने दी बधाई         ||           कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री को उद्धव ठाकरे ने शुभकामनाएं दीं         ||           डिविलियर्स ने कहा मैं थक चुका हूं         ||           आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम को नया प्रायोजक मिला         ||           रूपाणी ने कहा भाजपा 2019 में भी गुजरात की सभी लोकसभा सीटें जीतेगी         ||           मोबीस्टार ने किफायती स्मार्टफोन भारत बाजार में उतारे         ||           एबी डिविलियर्स ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा         ||           सेंसेक्स 306 अंक की गिरावट पर बंद         ||           कमल हासन ने तूतीकोरिन गोलीबारी पीड़ितों से मुलाकात की         ||           मुलायम ने बंगला खाली करने के लिए 2 वर्ष का समय मांगा         ||           कुमारस्वामी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली         ||           स्टालिन ने पलनीस्वामी के इस्तीफे की मांग की         ||           कमलनाथ ने कहा मंडी में मौत के मुंह में समा रहे हैं किसान         ||           केंद्रीय गृह मंत्रालय ने तमिलनाडु हिंसा पर रिपोर्ट मांगी         ||           कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह की तैयारियां पूरी         ||           तूतीकोरिन में तनावपूर्ण शांति, मृतकों की संख्या बढ़कर 10 हुई         ||           शपथ लेने से पहले कुमारस्वामी ने मैसूर के मंदिर में प्रार्थना की         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> शरद यादव ने कहा मुझे अयोग्य करार देने के लिए 'हर तरफ' से दबाव था

शरद यादव ने कहा मुझे अयोग्य करार देने के लिए 'हर तरफ' से दबाव था


admin ,Vniindia.com | Thursday December 07, 2017, 09:36:11 | Visits: 109







नई दिल्ली, 7 दिसम्बर (वीएनआई)| वरिष्ठ नेता शरद यादव ने आज कहा कि उन्हें राज्यसभा की सदस्यता से अयोग्य करार देने के लिए 'हर तरफ' से दबाव था और उन्हें यह पहले से ही पता था कि क्या फैसला लिया जाने वाला है। 



शरद यादव ने कहा, मुझे पता था कि यह (अयोग्य करार दिया जाना) होने जा रहा है। कुछ मीडिया के लोगों ने इसके बारे में लिखा था। मैंने इसके लिए खुद को मानसिक रूप से तैयार कर लिया था। मुझे कोई पछतावा नहीं है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यह अंत नहीं है और सिद्धांतों की लड़ाई जारी रहेगी। हालांकि, शरद यादव ने अपने को अयोग्य करार देने के लिए राज्यसभा के सभापति एम.वेंकैया नायडू पर हमला करने से परहेज किया और उन्हें पुराना मित्र बताया। उन्होंने कहा, वह मेरे पुराने मित्र हैं। लेकिन, राजनीति में परिस्थितियां बदलती हैं। अभी भी संस्थान (राज्यसभा सभापति) के लिए मेरे मन में बहुत सम्मान है। लोग आते हैं और जाते हैं, लेकिन संस्थान बने रहते है और हमें उनका आदर करना चाहिए।



शरद यादव को अयोग्य करार देने का नोटिस सोमवार की रात करीब 10.30 बजे उनके निवास पर दिया गया। इस दौरान शरद यादव गुजरात के दौरे पर थे।यह पूछे जाने पर क्या वह सोचते हैं कि बिहार के मुख्यमंत्री व जनता दल युनाइटेड के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने उनके उच्च सदन से निष्कासन में तेजी लाने का दबाव बनाया है, इस पर शरद यादव ने कहा, मैं समझता हूं कि सभी तरफ से दबाव रहा होगा। जनता दल युनाइटेड के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, लेकिन, मैं इसे निष्कासन के तौर पर नहीं देखता। मैं इसे एक विराम के तौर पर देखता है। अब मैं पूरी तरह से खुद को पार्टी की गतिविधियों में समर्पित करूंगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बिहार में महागठबंधन को तोड़कर भाजपा से हाथ मिलाने के बाद शरद यादव, नीतीश से अलग हो गए। महागठबंधन में लालू प्रसाद की राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस व जनता दल युनाइटेड शामिल थी। नीतीश ने महागठबंधन से किनारा कर जुलाई-अगस्त में भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें