Breaking News
भारत ने अंडर-19 विश्व कप में जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया         ||           पाकिस्तानी गोलीबारी में जम्मू एवं कश्मीर में दो की मौत         ||           भारत-इजराइल : नई संभावनाओं का सफर         ||           बॉलीवुड हस्तियों का दिल नेतन्याहू ने जीता         ||           एलएफडब्ल्यू फिनाले की शो स्टॉपर बनेंगी करीना         ||           राजधानी दिल्ली में घना कोहरा, वायु गुणवत्ता अत्यधिक खराब स्तर पर         ||           प्रिंस हैरी और मेगन पहले अधिकारिक वेल्स दौरे पर         ||           शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में हल्की बढ़त असर         ||           यूरोप दौरे पर जाएंगे रेक्स टिलरसन         ||           टैक्सी चालकों की गोवा में एकदिनी हड़ताल         ||           अमोनिया गैस का टैंकर गोवा में पलटा, दो लोग अस्पताल में भर्ती         ||           अमेरिकी डॉलर में गिरावट का असर         ||           अमेरिकी शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद         ||           जोकोविक आस्ट्रेलियन ओपन के तीसरे दौर में पहुंचे         ||           कांग्रेस ने कहा मोदी और सुषमा ने डोकलाम पर राष्ट्र को गुमराह किया         ||           राहुल गाँधी से अमरिंदर ने मुलाकात की         ||           योगी ने कहा मदरसों को बंद करना समस्या का हल नहीं         ||           आईसीसी के साल के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खिलाड़ी बने कोहली         ||           'पद्मावत' पर 3 राज्यों में लगा प्रतिबंध सर्वोच्च न्यायालय ने हटाया         ||           देश में निर्मित अग्नि-वी मिसाइल का सफल परीक्षण         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> ईरान परमाणु समझौते की समीक्षा का रूस ने जोरदार विरोध किया

ईरान परमाणु समझौते की समीक्षा का रूस ने जोरदार विरोध किया


admin ,Vniindia.com | Sunday January 14, 2018, 03:10:00 | Visits: 38







मास्को, 14 जनवरी (वीएनआई)| ईरान के परमाणु समझौते की समीक्षा के बारे में अमेरिका के नवीनतम बयान को लेकर रूस के अधिकारियों ने कहा है कि  मॉस्को का दृष्टिकोण अस्वीकृति वाला है और वह इस समझौते को रद्द करने के किसी भी प्रयास को रोकने के लिए हर संभव उपाय करेगा। 



रूस के उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव ने संवाददाताओं से कहा कि रूस, ईरान परमाणु समझौते में बदलाव के लिए अपने यूरोपीय सहयोगियों के साथ वार्ता के आयोजन की अमेरिकी घोषणा से चिंतित है। उन्होंने कहा, इन वार्ताओं से परमाणु समझौते और इस पूरे परिस्थिति के प्रति हमारे दृष्टिकोण पर कोई असर नहीं पड़ेगा। हम इसका गंभीरतापूर्वक विश्लेषण करेंगे और इन घटनाओं पर निर्णय लेना जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि 2015 में ईरान और रूस, फ्रांस, चीन, ब्रिटेन, अमेरिका और जर्मनी द्वारा हस्ताक्षित इस समझौते को संशोधित नहीं किया जा सकता है और मास्को ऐसे किसी भी प्रयास का विरोध करेगा। 



अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि वह आखिरी बार ईरान के लिए परमाणु समझौते के तहत प्रतिबंधों में राहत देंगे। उन्होंने धमकी देते हुए कहा कि अगर अमेरिकी कांग्रेस और उसके यूरोपीय सहयोगियों ने समझौते की कथित 'विनाशकारी खामियों' को ठीक नहीं किया तो अमेरिका इस समझौते से बाहर हो जाएगा।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें