Breaking News
अखिलेश यादव ने कहा भाजपा ने भारत को 'राष्ट्रीय शर्म' की हालत में पहुंचा दिया         ||           विदेश मंत्री सुषमा ने चीन के राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति से मुलाकात की         ||           मेघालय से अफस्पा हटा, अरुणाचल में आठ थाना क्षेत्रों तक सीमित         ||           विपक्षी दल नायडू के फैसले के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय जाएंगे         ||           मोंटे कार्लो जीतकर एटीपी रैंकिंग में शीर्ष पर बने हुए हैं नडाल         ||           सिमोना हालेप डब्ल्यूटीए रैंकिंग में शीर्ष पर बरक़रार         ||           सेंसेक्स 35 अंकों की तेजी पर बंद         ||           राहुल ने कहा मोदी सरकार सर्वोच्च न्यायालय का दमन कर रही है         ||           केरल में राज्यसभा सीट के लिए कांग्रेस में खींचतान         ||           शमशाद बेगम की पुण्य तिथि पर `         ||           आज का दिन :         ||           रोहित ने कहा हमारी बल्लेबाजी अच्छी नहीं थी         ||           बिहार में भाजपा सांसद का बेटा शराब के नशे में गिरफ्तार         ||           जम्मू एवं कश्मीर में प्रदर्शनकारियों और सेना के बीच संघर्ष में एक छात्र घायल         ||           दिल्ली में तीन मंजिला इमारत में भीषण आग, 2 लोगो की मौत         ||           अमेरिका के टेनेसी में गोलीबारी, 4 लोगो की मौत         ||           लीबिया में झड़प, 2 लोगो की मौत         ||           नाइजीरिया में गोलीबारी, 10 लोगो की मौत         ||           अपनी अनमोल आँखों का गर्मी में रखें खास ख्याल         ||           पूजा भट्ट ने कहा मुझे उस युग में ले चलिए, जब लोग अच्छे थे         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> ईरान परमाणु समझौते की समीक्षा का रूस ने जोरदार विरोध किया

ईरान परमाणु समझौते की समीक्षा का रूस ने जोरदार विरोध किया


admin ,Vniindia.com | Sunday January 14, 2018, 03:10:00 | Visits: 59







मास्को, 14 जनवरी (वीएनआई)| ईरान के परमाणु समझौते की समीक्षा के बारे में अमेरिका के नवीनतम बयान को लेकर रूस के अधिकारियों ने कहा है कि  मॉस्को का दृष्टिकोण अस्वीकृति वाला है और वह इस समझौते को रद्द करने के किसी भी प्रयास को रोकने के लिए हर संभव उपाय करेगा। 



रूस के उप विदेश मंत्री सर्गेई रयाबकोव ने संवाददाताओं से कहा कि रूस, ईरान परमाणु समझौते में बदलाव के लिए अपने यूरोपीय सहयोगियों के साथ वार्ता के आयोजन की अमेरिकी घोषणा से चिंतित है। उन्होंने कहा, इन वार्ताओं से परमाणु समझौते और इस पूरे परिस्थिति के प्रति हमारे दृष्टिकोण पर कोई असर नहीं पड़ेगा। हम इसका गंभीरतापूर्वक विश्लेषण करेंगे और इन घटनाओं पर निर्णय लेना जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि 2015 में ईरान और रूस, फ्रांस, चीन, ब्रिटेन, अमेरिका और जर्मनी द्वारा हस्ताक्षित इस समझौते को संशोधित नहीं किया जा सकता है और मास्को ऐसे किसी भी प्रयास का विरोध करेगा। 



अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि वह आखिरी बार ईरान के लिए परमाणु समझौते के तहत प्रतिबंधों में राहत देंगे। उन्होंने धमकी देते हुए कहा कि अगर अमेरिकी कांग्रेस और उसके यूरोपीय सहयोगियों ने समझौते की कथित 'विनाशकारी खामियों' को ठीक नहीं किया तो अमेरिका इस समझौते से बाहर हो जाएगा।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें