Breaking News
मेक्सिको में फिर आए भूकंप में चार लोगो की मौत         ||           जम्मू एवं कश्मीर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में आतंकवादी ढेर         ||           राजधानी दिल्ली में सुबह बदली छाई         ||           उप्र में मुठभेड़ में 4 लुटेरे गिरफ्तार, 2 फरार         ||           मेक्सिको में भूकंप से मरने वालों की संख्या 305 हुई         ||           भारत इंदौर वनडे में सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा         ||           वार्नर ने कहा हमारे खिलाड़ी स्पिनरों को खेल सकते हैं         ||           अखिलेश ने कहा बनावटी समाजवादियों से सावधान रहें, नेताजी हमारे साथ         ||           मारिन, वेई और एक्सेलसेन जापान ओपन फाइनल में         ||           कांग्रेस ने कहा चांडी को मंत्रिमंडल से बर्खास्त करें         ||           अनुपम खेर ने कहा शेखर कपूर मेरे सच्चे मित्र         ||           जद(यू) ने कहा कर्मो का फल भोग रहे हैं लालू         ||           प्रणव-सिक्की की जोड़ी जापान ओपन के सेमीफाइनल में हारी         ||           बिहार में सिरफिरे आशिक ने चाकू गोदकर लड़की की हत्या की         ||           प्रधानमंत्री मोदी मेरे लिए पूजा के समान है स्वच्छता         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने उप्र में पशुधन आरोग्य मेले का उद्घाटन किया         ||           बिहार में मौसम साफ         ||           राजधानी दिल्ली में आज जारी रहेगी बारिश         ||           उप्र में बादल छाए, बारिश से तापमान में गिरावट         ||           अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी गोलीबारी में बीएसएफ के दो जवानों सहित पांच घायल         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> रालोद ने कहा किसानों के साथ छल कर रही है योगी सरकार

रालोद ने कहा किसानों के साथ छल कर रही है योगी सरकार


admin ,Vniindia.com | Monday September 11, 2017, 04:22:18 | Visits: 26







लखनऊ, 11 सितंबर (वीएनआई)| राष्ट्रीय लोकदल ने उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा की जा रही कर्ज माफी को किसानों के साथ छलावा करार देते हुए, साथ ही गन्ना और चावल के मिल मालिकों के साथ सरकार की सांठगांठ का भी आरोप लगाया है। 



रालोद के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मसूद अहमद ने आज कहा, एक ओर यह सरकार किसानों की आर्थिक स्थिति पर आंसू बहाने का नाटक करती है और दूसरी ओर कर्जमाफी के नाम पर भद्दा मजाक करती है। सरकार के प्रभारी मंत्रियों द्वारा विभिन्न जनपदों में बांटे जा रहे कर्जमाफी प्रमाण पत्र की आड़ में सरकार करोड़ों रुपया टेंट आदि लगाने के नाम पर खर्च कर रही है तथा स्टेज पर बुलाकर किसानों की आर्थिक स्थिति का मखौल बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा, कई जनपदों में आठ रुपये, 25 रुपये, 55 रुपये से लेकर 238 रुपये तक की कर्जमाफी का प्रमाण पत्र देकर किसानों को बेइज्जत किया जा रहा है, जो सर्वथा निंदनीय है।



डॉ. अहमद ने कहा, गन्ना किसान अब तक स्वयं को सुखी नहीं महसूस कर पा रहा और पुन: गन्ना के आवंटन का समय आ गया है। धन्ना सेठों ने अपनी-अपनी मिलों के लिए दौड़ लगानी शुरू कर दी है ताकि अधिक से अधिक गन्ने का आवंटन उनकी मिल के पक्ष में हो सके, भले ही किसानों के लिए उस मिल की दूरी अधिक क्यों न हो। उन्होंने कहा कि यही स्थिति कमोबेश धान किसानों की भी है, जहां चावल के मील मालिकों द्वारा भी धान की सीधी खरीद में अपनी भागीदारी सरकार द्वारा सुनिश्चित करने का प्रयास किया जा रहा है। दोनों ही स्थितियां किसानों के लिए लाभप्रद नहीं हो सकतीं। रालोद प्रदेश अध्यक्ष ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि प्रदेश सरकार द्वारा जल्द ही गन्ना किसानों की मिलों का आवंटन नजदीक की मिलों में न किया गया और धान किसानों को धान क्रय केंद्रों पर उचित सुविधाएं न दी गईं तो रालोद के कार्यकर्ता और किसान धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य होंगे, जिसकी जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की होगी।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें