Breaking News
फिल्म 'पद्मावती' का पहला पोस्टर जारी         ||           उप्र में बूंदाबांदी से गर्मी और उमस से राहत         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्र को नवरात्रि की शुभकामनाएं दी         ||           भारत और आस्ट्रेलिया कोलकाता वनडे आज होंगे आमने-सामने         ||           राहुल गांधी ने कहा भारत में असहिष्णुता से विदेशों में छवि बिगड़ी         ||           राजधानी दिल्ली में आज बदली छाई         ||           डोनाल्ड ट्रंप ने भूकंप प्रभावित मेक्सिको की मदद के लिए हाथ बढ़ाया         ||           शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में तेजी का असर         ||           मेक्सिको में तीन दिवसीय राष्ट्रीय शोक का ऐलान         ||           भूकंप से मेक्सिको में मरने वालों की संख्या 230 हुई         ||           जापान में भूकंप के तेज झटके         ||           वित्तमंत्री जेटली ने कहा अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए पैकेज जल्द         ||           मायावती ने कहा योगी का श्वेत पत्र अपनी कमियों को छिपाने का जरिया         ||           पटना ने प्रो कबड्डी लीग में घर में हासिल की रोमांचक जीत         ||           अखिलेश यादव ने कहा योगी सरकार का श्वेत पत्र सफेद झूठ         ||           सेंसेक्स 2 अंक की गिरावट पर बंद         ||           शिवराज सिंह चौहान ने नवरात्रि की शुभकामनाएं दीं         ||           भारतीय बास्केट में कच्चे तेल की कीमत 54.76 डॉलर प्रति बैरल         ||           आम आदमी पार्टी ने कहा ईंधन कीमतों को अंतर्राष्ट्रीय बाजार से जोड़ा जाए         ||           बीसीसीआई ने पद्म भूषण के लिए धौनी के नाम की सिफारिश की         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> रविशंकर प्रसाद ने कहा आधार और निजता के बीच संतुलन बनाने की जरूरत

रविशंकर प्रसाद ने कहा आधार और निजता के बीच संतुलन बनाने की जरूरत


admin ,Vniindia.com | Wednesday September 13, 2017, 11:04:37 | Visits: 35







नई दिल्ली, 13 सितम्बर (वीएनआई)| इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी रवि शंकर प्रसाद ने आज कहा कि आधार डेटा उपयोगिता और निजता के बीच संतुलन कायम रखने की जरूरत है। 



प्रसाद ने संयुक्त राष्ट्र द्वारा भारत वित्तीय समावेशन पर आयोजित एक सम्मेलन में कहा, आधार डेटा उपलब्धता, उपयोगिता, गोपनीयता और गुमनामीपन के बीच संतुलन बनाने की जरूरत है। सर्वोच्च न्यायालय ने 24 अगस्त को निजता के अधिकार को मौलिक अधिकार घोषित किया था, जिसकी गारंटी देश का संविधान देता है। इस फैसले से आधार से संबंधित मामलों पर असर पड़ सकता है, जिसे विभिन्न सेवाओं के लिए अनिवार्य कर दिया गया है। पैन कार्ड के साथ आधार को जोड़ने का मामला सर्वोच्च न्यायालय में लंबित है। 



प्रसाद ने कहा, सर्वोच्च न्यायालय ने निजता के अधिकार को अनुच्छेद 21 के तहत रखा है। हम इस फैसले और लोगों के अधिकार का सम्मान करने को प्रतिबद्ध हैं, लेकिन यह पूर्ण नहीं है। गोपनीयता का अधिकार राष्ट्रीय सुरक्षा और सामाजिक लाभों के प्रसार के लिए स्पष्ट बंधन है। सरकार को साबित करना होगा कि आधार सामाजिक लाभों के प्रसार के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि आधार के आंकड़े सुरक्षित हैं और इस तकनीक का स्वदेश में भी आविष्कार किया गया है। उन्होंने कहा, आधार की सूचना लीक करने पर 7 लाख रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें