Breaking News
कन्हैया कुमार ने कहा भाजपा मेरे खिलाफ मां दुर्गा का कर रही है इस्तेमाल         ||           दिवाली पर शर्तो के साथ बिकेंगे पटाखे         ||           पेट्रोल और डीजल आज फिर हुआ सस्ता         ||           विश्व चैंपियनशिप में पहलवान बजरंग को मिला रजत पदक         ||           भारत और पाकिस्‍तान के बीच डीजीएमओ स्‍तर की वार्ता आज         ||           त्रिपुरा में सड़क हादसे में 29 जवान घायल         ||           देश के शेयर बाज़ारो के शुरूआती कारोबार में गिरावट का असर         ||           छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री रमन सिंह को कांग्रेस की तरफ से अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी देंगी चुनौती         ||           राहुल गांधी ने कहा छत्तीसगढ़ के किसानों का कर्ज माफ करके रहूंगा         ||           आज का दिन : कादर खान         ||           सेंसेक्स 182 अंक की गिरावट पर बंद         ||           सर्वोच्च न्यायलय ने मी टू मामले पर तत्काल सुनवाई से किया इनकार         ||           अमृतसर रेल हादसे पर पुलिस कमिश्नर ने कहा जांच के लिए गठित की गई एसआईटी         ||           सर्वोच्च न्यायलय ने शादी के लिए पुरुष की उम्र 18 साल करने से किया इंकार         ||           मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली में पेट्रोल पंप मालिकों की हड़ताल को केंद्र प्रयोजित बताया         ||           राहुल गाँधी ने सीबीआई अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग के बीच प्रधानमंत्री मोदी पर बड़ा हमला बोला         ||           श्रीलंकाई स्पिनर रंगना हेराथ गॉल टेस्ट के बाद लेंगे संन्यास         ||           आतंकियों ने सुरक्षाबलों के ठिकाने पर हमला किया, एक जवान शहीद         ||           बाल यौन शोषण के पीड़ितों से ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने माफी मांगी         ||           पेट्रोल और डीजल लगातार पांचवें दिन फिर सस्ता हुआ         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> मोदी ने कहा 100 फीसदी एफडीआई के साथ खाद्य क्षेत्र पर विशेष जोर

मोदी ने कहा 100 फीसदी एफडीआई के साथ खाद्य क्षेत्र पर विशेष जोर


admin ,Vniindia.com | Friday November 03, 2017, 06:48:41 | Visits: 151







नई दिल्ली, 3 नवंबर (वीएनआई)| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि खाद्य क्षेत्र में 100 फीसदी प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को मंजूरी दी गई है और सरकार की महत्वाकांक्षी 'मेक इन इंडिया' कार्यक्रम में इस क्षेत्र पर विशेष जोर दिया जा रहा है। 



खाद्य उद्योग के तीन दिवसीय वैश्विक सम्मेलन का यहां उद्घाटन करते हुए मोदी ने कहा कि खाद्य प्रसंस्करण की भारत में पुरानी प्रथा है और सरल, घरेलू तकनीकों जैसे 'किण्वन' से मशहूर अचार, पापड़, चटनी और मुरब्बा बनाया जाता है, जिसे दुनिया भर में अमीर-गरीब सभी पसंद करते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने देश को इस क्षेत्र का 'सबसे पसंदीदा गंतव्य बनाने के लिए परिवर्तनकारी पहल की श्रृंखला की शुरुआत की है।'



वर्ल्ड फूड इंडिया सम्मेलन में 30 देशों की 200 कंपनियां और 2,000 प्रतिनिधि शामिल हुए हैं। इसके अलावा इसमें देश के 28 राज्यों और 18 मंत्रालयों और व्यापार प्रतिनिधिमंडलों ने हिस्सा लिया है। साथ ही इसमें सभी प्रमुख घरेलू खाद्य प्रंसस्करण कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारी भी हिस्सा ले रहे हैं। मोदी ने कहा कि हाल में ही लांच किए गए 'निवेश बंधु' पोर्टल पर केंद्र और राज्य सरकारों की नीतियों और खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र को प्रदान की जाने वाली प्रोत्साहन योजनाओं की जानकारी मिलेगी। खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने अपने संबोधन में कहा कि इस तीन दिवसीय वैश्विक आयोजन के दौरान 10 अरब डॉलर के समझौतों पर हस्ताक्षर होने की संभावना है। 



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें