Breaking News
प्रधानमंत्री मोदी आज मध्य प्रदेश दौरे पर         ||           मेक्सिको फीफा विश्व कप के अंतिम-16 में प्रवेश करना चाहेगा         ||           दक्षिण कोरिया के साथ अमेरिका का संयुक्त सैन्याभ्यास रद्द         ||           रूस और दक्षिण कोरिया ने सहयोग बढ़ाने की प्रतिबद्धता जताई         ||           राष्ट्रपति कोविंद का क्यूबा से विकासशील देशों को सशक्त बनाने का आह्वान         ||           ओपेक बैठक के बाद तेल की कीमतें बढ़ी         ||           बेल्जियम फीफा विश्व कप में जीत की लय कायम रखने उतरेगा         ||           स्विट्जरलैंड फीफा विश्व कप में शकीरी के गोल से जीता         ||           अमेरिकी डॉलर में गिरावट         ||           अमेरिकी शेयर मिले-जुले रुख के साथ बंद         ||           फीफा विश्व कप 2018 : आज दसवें दिन के होने वाले मैच         ||           योगी आदित्यनाथ ने इंसेफेलाइटिस से प्रभावित जिलों में अभियान चलाने के निर्देश दिए         ||           हिमाचल में भूकंप के झटके         ||           आज का दिन         ||           महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रभारी बने मल्किार्जुन खड़गे         ||           गडकरी ने कहा चाबाहार बंदरगाह 2019 तक पूरा करने को प्रयासरत         ||           भाजपा ने आजाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की         ||           जोकोविक क्वींस क्लब के क्वार्टर फाइनल में         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने वाणिज्य भवन की आधारशिला रखी         ||           राकेश सिंह ने कहा भाजपा के कई विधायकों के टिकट कटेंगे         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> कुडनकुलम की पहली इकाई में विद्युत उत्पादन फिर शुरू

कुडनकुलम की पहली इकाई में विद्युत उत्पादन फिर शुरू


admin ,Vniindia.com | Tuesday August 29, 2017, 03:41:37 | Visits: 331







चेन्नई, 29 अगस्त (वीएनआई)| कुडनकुलम परमाणु विद्युत परियोजना (केएनपीपी) की 1,000 मेगावाट क्षमता वाली पहली इकाई में ईंधन भरने का काम पूरा हो जाने के बाद मंगलवार से विद्युत उत्पादन फिर से शुरू हो गया। 



एक अधिकारी ने बताया, 1,000 मेगावाट परमाणु विद्युत क्षमता वाली पहली इकाई को आज (मंगलवार) 6.30 से सात बजे के बीच ग्रिड से जोड़ दिया गया। फिलहाल लगभग 300 मेगावाट बिजली पैदा हो रही है। उन्होंने बताया कि चूंकि ईंधन फिर से भरा गया है, इसलिए कुछ परीक्षण और किए जाने हैं। बिजली उत्पादन को धीरे-धीरे बढ़ाया जाएगा। 



पहली इकाई को 13 अप्रैल को सलाना रख-रखाव व ईंधन भरने के लिए बंद कर दिया गया था। हर साल रिएक्टर के 163 ईंधन बंडलों में से 54 बंडलों को बदल दिया जाता है। पहली इकाई में दूसरी बार ईंधन भरा गया है। इस बीच, 1,000 मेगावाट की दूसरी इकाई को चार अगस्त को इसलिए बंद कर दिया गया था, क्योंकि उसके स्टेटर में हाइड्रोजन सांद्रता की समस्या पैदा हो गई थी। इस इकाई को फिर से चालू किया जाना बाकी है।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें