Breaking News
यौनशोषण के आरोपों से घिरे विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर का इस्तीफा         ||           इराक में आईएस का मास्टरमाइंड मारा गया         ||           भाजपा सांसद उदित राज ने कहा महिलाएं ही चाहती हैं गुलाम बने रहना         ||           सतलोक आश्रम मामले में संत रामपाल समेत सभी आरोपियों को उम्रकैद         ||           आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में विराट कोहली शीर्ष पर बरकरार, पृथ्वी और पंत ने भी लगाई छलांग         ||           प्रधानमंत्री मोदी और चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग नवंबर में अर्जेंटीना में मिलेंगे         ||           डॉनल्ड ट्रंप ने कहा चीन चाहकर भी एक सीमा के बाद जवाब नहीं दे सकता         ||           एमजे अकबर ने पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ दर्ज कराया मानहानि का केस         ||           राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री मोदी पर बोला हमला         ||           अमित शाह ने कहा सपा, बसपा, कांग्रेस के लिए वोटबैंक हैं घुसपैठिए         ||           अफगानिस्तान में तालिबानी हमले में 18 सैनिकों की मौत         ||           देश के शेयर बाज़ारो के शुरूआती कारोबार में गिरावट असर         ||           दो दोस्तों के बीच संभल कर         ||           भारत ने दूसरे टेस्ट में वेस्टइंडीज को 10 विकेट से हराकर सीरीज 2-0 से जीती         ||           तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर अपराधों को लेकर हमला बोला         ||           एम्स से मनोहर पर्रिकर को छुट्टी मिली         ||           आज का दिन :         ||           शिवपाल यादव के मंच पर मुलायम की छोटी बहू अपर्णा पहुंचीं         ||           केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर विदेश दौरे से लौटे         ||           ऋषभ पंत और रहाणे शतक के करीब, दूसरे दिन भारत ने बनाये 308/4 रन         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> भारत और अमेरिकी के रक्षा मंत्रियो के बीच होगी डायरेक्‍ट हॉटलाइन

भारत और अमेरिकी के रक्षा मंत्रियो के बीच होगी डायरेक्‍ट हॉटलाइन


admin ,Vniindia.com | Saturday August 11, 2018, 11:48:00 | Visits: 62







नई दिल्‍ली, 11 अगस्त, (वीएनआई) भारत और अमेरिका के बीच रक्षा सहयोग को लेकर दोनों देशो के रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और जिम मटीज जल्‍द ही हॉटलाइन पर एक दूसरे से संपर्क कर सकेंगे। 



सरकार के सूत्रों की ओर आ रही जानकारी के अनुसार दोनों नेताओं के बीच वैश्विक सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर रियल टाइम कम्‍यूनिकेशन और सेनाओं के बीच आपसी सहयोग बढ़ाने के मकसद से यह फैसला लिया गया है। वहीं इससे जुड़ी घोषणा छह सितंबर को होने की उम्‍मीद है।



रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार भारत इस बात पर रजामंद हो गया है कि दोनों देशों के रक्षा मंत्रियों के बीच एक पूरी तरह से समर्पित हॉटलाइन की सख्‍त जरूरत है। इस हॉटलाइन को शुरू करने का मकसद नौकरशाही से जुड़ी लाल फीताशाही को खत्‍म करने के साथ ही द्विपक्षीय और बहुपक्षीय संबंधों की अहमियत से जुड़े मुद्दों पर लगातार बातचीत को बढ़ावा देना है। गौरतलब है इस तरह की हॉटलाइन के बीच पहली बार प्रस्‍ताव अमेरिका की ओर से साल 2008 में दिया गया था। लेकिन उस समय अमेरिका के इस प्रस्‍ताव को नजरअंदाज कर दिया गया था।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें