Breaking News
आज का दिन :         ||           आईपीएल कार्यक्रम         ||           संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सर्विसेज परीक्षा के लिए अधिसूचना         ||           माघ पूर्णिमा         ||           किडनी-लिवर बेचने वाले गिरोह का कानपुर पुलिस ने किया पर्दाफाश         ||           सहमति शिव सेना और बीजेपी में         ||           कुलभूषण जाधव केस मे इंटरनेशन कोर्ट में सुनवाई शुरू         ||           राहुल की मौजूदगी मे कांग्रेस में शामिल हुए सांसद कीर्ति आजाद         ||           मारा गया पुलवामा आतंकी हमले का मास्टरमाइंड ग़ाज़ी         ||           आज का दिन :         ||           आज का दिन :         ||           वायु शक्ति-2019         ||           क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया का अनूठा विरोध         ||           पुलवामा हमला-कश्मीर के पॉच अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटाई गई         ||           महानायक शहीदों की आर्थिक मदद के लिए आगे आए हैं.         ||           Hyderabad Special Tomato Chutney         ||           ब्रिटेन ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान से सटे सीमाई इलाकों से दूर रहने की सलाह दी         ||           पुलवामा आतंकी हमले पर चीन की संवेदना में पाकिस्तान व जैश का जिक्र नही         ||           ठोको ताली-सिद्धू का कपिल शर्मा शो से जाना पहले से तय था         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा हम छेाड़ते नहीं, किसी ने छेड़ा तो छोड़ते नहीं         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> महबूबा मुफ्ती ने कहा पीडीपी को तोड़ने की कोशिश की तो पैदा होंगे और सलाउद्दीन

महबूबा मुफ्ती ने कहा पीडीपी को तोड़ने की कोशिश की तो पैदा होंगे और सलाउद्दीन


admin ,Vniindia.com | Friday July 13, 2018, 11:08:00 | Visits: 110







श्रीनगर, 13 जुलाई, (वीएनआई) पीडीपी प्रमुख और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने केद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर दिल्ली 1987 की तरह कश्मीर में वोटिंग के अधिकार को खारिज करेगी तो केंद्र को इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे। 



पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर दिल्ली ने पीडीपी को तोड़ने या कमजोर करने की कोशिश की तो उसे गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि 1987 में जम्मू-कश्मीर में वोटिंग के अधिकार खारिज कर दिए गए थे, जिसके बाद सलाउद्दीन और यासीन मलिक पैदा हुए। अगर फिर ऐसी कोशिश जाती है तोकई और सलाउद्दीन पैदा होंगे। 



महबूबा मुफ्ती का बयान ऐसे समय में आया है जब पूर्व अलगाववादी सज्जाद लोन पीडीपी में एक राजनीतिक नियंत्रण स्थापित कर पीडीपी के बागी विधायकों का समर्थन हासिल करने की कोशिश रहे हैं। कुछ दिनों से यह खबरें चर्चा में है  कि बीजेपी जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के बागी विधायकों की मदद से सरकार बना हिन्दू मुख्यमंत्री नियुक्त करना चाहती है। सूत्रों के अनुसार अगस्त में अमरनाथ यात्रा समाप्त होने के बाद जम्मू कश्मीर की राजनीति में बदलाव देखने को मिल सकता है। हालांकि इसको लेकर बीजेपी कुछ भी कहने से कतरा रही है।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें