Breaking News
सेनेगल ने फीफा विश्व कप में पोलैंड को 2-1 से दी मात         ||           ओसाको के हेडर गोल से फीफा विश्व कप में जापान का विजयी आगाज         ||           महबूबा ने कहा कश्मीर में जोर-जबरदस्ती की नीति कारगर नहीं होगी         ||           राहुल गांधी का जन्मदिन कांग्रेस ने मनाया         ||           कांग्रेस ने कहा भाजपा ने कश्मीर को बर्बाद कर दिया         ||           उमर अब्दुल्ला ने कहा जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने का जनादेश नहीं         ||           श्रीलंका और वेस्टइंडीज के बीच सेंट लूसिया टेस्ट ड्रॉ पर समाप्त         ||           ओवैसी ने कहा राज्यपाल शासन से कश्मीर में हालात सामान्य नहीं होंगे         ||           भारतीय महिला हॉकी टीम ने जीत के साथ किया स्पेन दौरे का समापन         ||           ममता बनर्जी ने राहुल को 48वें जन्मदिन पर बधाई दी         ||           शिवसेना के स्थापना दिवस पर ममता ने उद्धव को बधाई दी         ||           उमर अब्दुल्ला राज्यपाल वोहरा से मिलने पहुंचे         ||           शिवसेना ने कहा बीजेपी-पीडीपी गठबंधन राष्ट्र विरोधी था         ||           नितिन गडकरी 'सतत विकास के लिए जल 2018-2028’ में भाग लेने के लिए ताजिकिस्तान रवाना         ||           सेंसेक्स 262 अंकों की गिरावट पर बंद         ||           जम्मू एवं कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस्तीफा दिया         ||           जम्मू एवं कश्मीर में पीडीपी-बीजेपी गठबंधन टूटा         ||           नेपाल के प्रधानमंत्री चीन दौरे के लिए रवाना         ||           ओली ने कहा चीन के साथ सहयोग बढ़ाने का इच्छुक नेपाल         ||           मनीष सिसोदिया और जैन को अस्पताल से छुट्टी मिली         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> मायावती ने कहा भाजपा का अन्याय जारी रहा, तो बौद्ध धर्म अपना लूंगी

मायावती ने कहा भाजपा का अन्याय जारी रहा, तो बौद्ध धर्म अपना लूंगी


admin ,Vniindia.com | Tuesday October 24, 2017, 06:08:00 | Visits: 2839







आजमगढ़ (उप्र), 24 अक्टूबर (वीएनआई)। बसपा अध्यक्ष और उत्तरप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने आज कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा कि केंद्र और उत्तर प्रदेश की सरकार दलितों व पिछड़ों के साथ अन्याय कर रही है। साथ ही उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा ने दलितों, मुस्लिमों और दबे-कुचले लोगों को सताना बंद नहीं किया, तो वह समर्थकों के साथ बौद्ध धर्म अपना लेंगी।



मायावती ने रानी की सराय स्थित चेकपोस्ट मैदान में आयोजित सम्मेलन में कहा, भाजपा जातीय संघर्ष करवा कर वोटबैंक की राजनीतिक चाल चल रही है। इसे किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अब जनता जाग गई है, आने वाले निकाय चुनाव में बसपा मजूबत होगी। उन्होंने कहा कि केंद्र और उप्र सहित देश के कई राज्यों में भाजपा आरएसएस की विचारधारा को लागू करने में लगी है। वह हिंदुत्व के मुद्दे पर आगे बढ़ रही है और दलित व मुसलमानों को प्रताड़ित कर रही है, लेकिन प्रधानमंत्री नए भारत के निर्माण की बात कहकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। भाजपा कैसा नया भारत बनाएगी, अंदाजा लगाया जा सकता है। मायावती ने सहारनपुर हिंसा का जिक्र करते हुए कहा, शब्बीरपुर गांव में सोची-समझी साजिश के तहत भाजपा ने दलितों के बीच संघर्ष कराया और मेरी हत्या की साजिश की, ताकि मेरे साथ ही बसपा का सफाया हो जाए। लेकिन वे कामयाब नहीं हो पाए। दलितों के खिलाफ हिंसा के मुद्दे पर राज्यसभा से इस्तीफा दे चुकीं मायावती ने कहा, "जब मैंने राज्यसभा में तथ्यों के साथ बात रखी, तो सत्ता पक्ष के लोगों ने शोरगुल किया और मुझे बोलने नहीं दिया। इस वजह से मुझे 18 जुलाई को राज्यसभा की सदस्य पद से इस्तीफा देना पड़ा। जब हम देश की सबसे बड़ी संस्था में गरीब और दलितों के हित की बात नहीं रख सकते तो मेरे लिए राज्यसभा में बने रहने का औचित्य नहीं था।



मायावती ने आगे कहा कि मोदी विदेश में अपनी छोटी-छोटी उपलब्धि बता रहे हैं। लेकिन अपने किसी भी वायदे को पूरा नहीं किया। उन्होंने ईवीएम में गड़बड़ी का जिक्र किया और कहा, "भाजपा लोकसभा चुनाव में वोट बैंक को मजबूत करने के लिए फिर से सर्जिकल स्ट्राइक का नाटक कर सकती है। चुनाव से पहले भाजपा सांठगांठ से दाऊद को इब्राहिम को भारत ला सकती है। हमें भाजपा के फर्जी दावों में नहीं पड़ना है। हम लोगों को भाजपा के झांसे से बाहर लाएंगे। भाजपा के लिए अब आने वाले दिन अच्छे नहीं हैं। मायावती ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि इस तरह के बहकावे में आकर आप भाजपा को वोट मत देना। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, "योगी पूर्वाचल का विकास तब करेंगे जब उन्हें फुर्सत मिलेगी। वाराणसी, अयोध्या, मथुरा और चित्रकुट में कितनी भी पूजा कर लें धर्म के सहारे भी जीत नहीं होगी। अयोध्या में राम मंदिर बनने से किसी भी दलित का विकास नहीं होगा। दलितों के लिए भगवान बाबा साहेब अंबेडकर ही हैं।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें