Breaking News
अमित शाह ने कहा मोदी देश के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री         ||           रोहिंग्या मामले मे भारत की भूमिका         ||           देवेंद्र फडणवीस ने ऑडियो क्लिप में अपनी आवाज स्वीकारी         ||           जेटली ने कहा राजग सरकार ने बदली देश की दशा-दिशा         ||           मायावती और अखिलेश ने मोदी सरकार बुरी तरह विफल बताया         ||           राहुल गाँधी ने कहा भाजपा सरकार कई मोर्चो पर विफल         ||           तेजस्वी यादव ने कहा 4 साल मोदी सरकार, सस्ता विकास महंगा प्रचार         ||           जादू संगीत का         ||           बल्लेबाजों ने लंदन टेस्ट में पाकिस्तान को मजबूत स्थिति में पहुंचाया         ||           मिथारवाल आईएसएसएफ विश्व कप के फाइनल में सातवें पायदान पर रहे         ||           फिल्म 'परमाणु..' ने पहले दिन 4.82 करोड़ रुपये की कमाई की         ||           अमित शाह ने कहा भाजपा ने तुष्टिकरण की राजनीति को विकास की राजनीति से बदला         ||           संयुक्त राष्ट्र अर्थशास्त्री ने कहा भारत संभावित व्यापार तनाव से निपटने की बेहतर स्थिति में         ||           आज का दिन         ||           पुतिन ने कहा रूस, चीन भागीदारी सर्वश्रेष्ठ स्तर पर         ||           पेले फीफा विश्व कप के लिए रूस जाएंगे         ||           दीपिका पादुकोण का नया जुनून दौड़ना         ||           शिल्पा शेट्टी ने बेटे के जन्मदिन पर आयोजित की शुगर-फ्री पार्टी         ||           राजधानी दिल्ली में लू का कहर जारी रहने की संभावना         ||           मोदी ने सरकार के 4 साल पूरा होने पर कहा, 'भारत सबसे पहले'         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> पर्रिकर ने कहा बतौर रक्षामंत्री प्रयास किया न्यूनतम जिंदगियों को ही नुकसान हो

पर्रिकर ने कहा बतौर रक्षामंत्री प्रयास किया न्यूनतम जिंदगियों को ही नुकसान हो


admin ,Vniindia.com | Sunday November 05, 2017, 12:16:39 | Visits: 239







पणजी, 5 नवंबर (वीएनआई)| गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने आज कहा कि जब वह रक्षा मंत्री थे तो उन्होंने हमेशा यह सुनिश्चित किया कि किसी भी स्थिति में न्यूनतम जिंदगियों को ही नुकसान हो। 



जेके सीमेंट स्वच्छ एबिलिटी रन के दूसरे संस्करण के पुरस्कार वितरण समारोह में पर्रिकर ने कहा कि उन्होंने सैन्य बलों के जवानों को खुद शहीद होने की जगह दुश्मन का सफाया करने के निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा, हम अपनी सीमाओं की सुरक्षा में उनके योगदान को नहीं भूल सकते। उन्होंने कहा, देश के लिए सब कुछ बलिदान करना जरूरी है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि जब आप लड़ने जाएं तो अपनी जान गंवा दें, बल्कि आपको अपने दुश्मनों का सफाया कर देना चाहिए। यही लक्ष्य था।



मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि कभी-कभी शारीरिक रूप से अक्षम लोग सामान्य व्यक्ति की तुलना में समाज में ज्यादा योगदान दे सकते हैं। उन्होंने कहा, "मैं यहां आया हूं क्योंकि मैं दिव्यांगों को समाज का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा मानता हूं। वे कभी-कभी सामान्य व्यक्ति से ज्यादा योगदान दे सकते हैं और मैंने इन क्षमताओं को देखा है। कुछ चीजों में उन्हें नुकसान होता लेकिन कुछ अन्य चीजों में मैंने उनकी क्षमताओं को देखा है।"



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें