Breaking News
केकेआर ने हैदराबाद को 6 विकेट से हराया         ||           कांग्रेस-जेएमएम के बीच झारखंड में हुआ गठबंधन         ||           आज का दिन : विश्व टी.बी         ||           सपना चौधरी ने कांग्रेस में शामिल होने से साफ इनकार किया         ||           "सॉसद, विधायक पुलवामा शहीद परिवारों के लिये अपने एक माह का वेतन/पैंशन"दें - वयोवृद्ध की मार्मिक अपील         ||           कन्हैया कुमार बेगूसराय से लेफ्ट उम्मीदवार के तौर पर लड़ेंगे चुनाव         ||           नवजोत सिंह सिद्धू ने मोदी पर साधा निशाना, बोले कोई और करे तो कैरेक्टर ढीला         ||           लोकसभा चुनाव में सपा के लिए प्रचार नहीं करेंगे मुलायम सिंह यादव         ||           थाईलैंड में सैन्य तख्तापलट के बाद से पहली बार मतदान         ||           शीला दीक्षित ने कहा मुझसे या राहुल गांधी से केजरीवाल ने नहीं की बात         ||           अखिलेश यादव आजमगढ़ से लड़ेंगे चुनाव         ||           शाहनवाज हुसैन का भागलपुर से टिकट कटने पर छलका दर्द         ||           स्‍मृति ईरानी ने कहा 'भाग राहुल भाग' सिंहासन खाली करो         ||           अरविंद केजरीवाल दिल्ली पुलिस पर बरसे, मोदी पर साधा निशाना         ||           कांग्रेस ने 38 लोकसभा सीटों के लिए किया उम्मीदवारों का ऐलान         ||           चेन्नई ने आरसीबी को 7 विकेट से हराकर आईपीएल में जीत से आगाज किया         ||           भाजपा ने उमा भारती को राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया         ||           भाजपा ने लोकसभा चुनाव के लिए 46 उम्मीदवारों की पांचवी लिस्ट जारी की         ||           आज का दिन : भगत सिंह ,राजगुरु और सुखदेव         ||           जेडीएस ने कहा तुमकुर से लड़ेंगे एचडी देवगौड़ा         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> किसानों की महाराष्ट्र में हड़ताल खत्म-सरकार ने कहा 70 प्रतिशत मॉगे मानेगी,कर्ज माफी पर 31 अक्टूबर तक फैसला होगा

किसानों की महाराष्ट्र में हड़ताल खत्म-सरकार ने कहा 70 प्रतिशत मॉगे मानेगी,कर्ज माफी पर 31 अक्टूबर तक फैसला होगा


user1 ,Vniindia.com | Saturday June 03, 2017, 05:01:19 | Visits: 752







मुंबई3 जून (वी एन आई) महाराष्ट्र में किसानों ने कर्ज माफी सहित कई मुद्दों को लेकर पिछले दो दिनों से चल रही हड़ताल राज्य के मुख्यमंत्री के साथ बैठक के बाद आज तड़के चार बजे खत्म कर दी।

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ किसान क्रांति कोर समिति के नेताओं के बीच लगभग पांच घंटे तक चली बैठक के बाद किसानों ने यह हड़ताल खत्म कर दी। फडणवीस ने बैठक के बाद संवाददाताओं को बताया, हम किसानों की कर्जमाफी के लिए तैयार हैं। हम इस उद्देश्य के लिए एक समिति बनाएंगे जिसमें किसानों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे और इस पर 31 अक्टूबर को फैसला लिया जाएगा। वहीं किसान क्रांति के नेताओं ने कहा कि सरकार ने उनकी 70 फीसदी मांगों को मंजूर कर लिया है और हम तत्काल भाव से अपनी हड़ताल खत्म कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के सरकारी आवास पर हुई बैठक में यह फैसला हुआ. बैठक में लिए प्रमुख फैसले कुछ इस तरह हैं.

फैसला लिया गया कि छोटे किसानों की कर्ज़माफ़ी के लिए एक कमेटी बनाई जाएगी. 31 अक्टूबर से पहले इस पूरे मामले पर फैसला लिया जाएगा.

न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम दाम देना अपराध माननेवाला कानून महाराष्ट्र विधानसभा के आगामी मॉनसून सत्र में पास किया जाएगा. दूध का न्यूनतम समर्थन मूल्य तय होगा. 20 जून तक इसका फैसला लिया जाएगा. बिजली बिलों में रियायत के लिए पहल होगी. बिजली बिल पर लगा ब्याज और जुर्माना माफ़ होगा.

आंदोलन के दरम्यान किसानों के खिलाफ़ दर्ज़ हुए मामले वापस होंगे. लेकिन, हिंसा करनेवालों के खिलाफ़ कार्रवाई जारी रहेगी. आंदोलन के दौरान अपनी जान गंवाने वाले किसान अशोक मोरे के परिजनों को वित्तीय सहायता दी जाएगी. बैठक में लिए फैसलों की जानकारी मुख्यमंत्री फड़णवीस ने खुद मीडिया को दी. जबकि, आंदोलन की अगुवाई करने वाले किसान क्रांति संगठन के नेता जयाजी सुर्यवंशी ने मुख्यमंत्री के साथ बातचीत को सकारात्मक बताया है और उम्मीद जताई है कि वे अपने बयानों पर खरे उतरेंगे.

हालांकि, आंदोलन वापस लेने की घोषणा के साथ किसानों के नेताओं में फूट स्पष्ट हो चुकी है. महाराष्ट्र किसान यूनियन के सचिव अशोक नवले ने किसान हड़ताल वापस लेने के फैसले को असमाधानकारक बताया है. नवले ने मीडिया को बताया कि मुख्यमंत्री फड़णवीस ने किसानों की सम्पूर्ण कर्ज़माफ़ी करने के संदर्भ में कोई भी फैसला नहीं लिया. जो भी ऐलान हुए हैं वो ठोस नहीं हैं.


Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें