Breaking News
उपेंद्र कुशवाहा ने एनडीए का साथ छोड़ते हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल से दिया इस्तीफा         ||           डीएमके अध्यक्ष स्टालिन दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल से मुलाकात की         ||           ऑस्ट्रेलिया के संघर्ष पर आश्विन की फिरकी ने फेरा पानी, भारत ने पहला टेस्ट 31 रन से जीता         ||           भारत ने सार्क सम्मेलन में पीओके मंत्री के विरोध में किया वॉक आउट         ||           दिल्ली के मयूर विहार में बाइक सवार की गोली मारकर हत्या         ||           राजधानी दिल्ली में धुंध की चादर की बीच प्रदूषण का प्रकोप जारी         ||           कटासराज मंदिर के लिए भारत से 139 श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान रवाना         ||           रामदास आठवले ने कहा कार्यक्रम में सुरक्षा इंतजाम नहीं थे पर्याप्त         ||           ब्राजील में बैंक लूट के प्रयास में 14 लोगो की मौत         ||           टीएमसी कार्यकर्ताओं ने भाजपा की रैली के बाद गंगाजल से मैदान का शुद्धिकरण किया         ||           पेट्रोल-डीजल फिर सस्ता हुआ         ||           श्रीनगर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में पांच जवान घायल, दो आतंकी ढेर         ||           जीतू फौजी........         ||           आज का दिन :         ||           new Chief economic adviser         ||           आज का दिन :         ||           पंश्चिम बंगाल में बी.जे.पी की रथ यात्रा         ||           अश्विन .... विन... विन         ||           ज्वाला गुट्टा वोट नहीं डाल पाईं         ||           आर्मी जवान पर इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या का शक:         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> मैक्रों ने कहा भारत का सबसे बेहतरीन साझेदार है फ्रांस

मैक्रों ने कहा भारत का सबसे बेहतरीन साझेदार है फ्रांस


admin ,Vniindia.com | Saturday March 10, 2018, 04:03:00 | Visits: 197







नई दिल्ली, 10 मार्च (वीएनआई)| चार दिवसीय भारत दौरे पर आये फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने आज कहा कि फ्रांस, भारत का सबसे बेहतरीन साझेदार देश और यूरोप में भारत के प्रवेश का बिंदु होना चाहिए। इस दौरान वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) सम्मेलन की सह अध्यक्षता करेंगे। 



मैक्रों ने कहा कि इस दौरे के उनके तीन उद्देश्य हैं। उन्होंने राष्ट्रपति भवन में अपने औपचारिक स्वागत के बाद संवाददाताओं को बताया कि उनका पहला उद्देश्य रक्षा, अनुसंधान एवं विज्ञान, विशेष रूप से युवा, उच्च शिक्षा और विज्ञान के क्षेत्र में भारत और फ्रांस की रणनीतिक साझेदारी का नया युग शुरू करना है। मैक्रों ने कहा, यह महत्वपूर्ण है कि क्योंकि आतंकवाद के संदर्भ में दोनों देशों के बीच कई सामान्य चुनौतियां और साझा जोखिम हैं। उन्होंने कहा, "इस यात्रा का दूसरा उद्देश्य अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (सम्मेलन) का आयोजन करना है। उन्होंने कहा,, तीसरा उद्देश्य यह संदेश देना है कि फ्रांस विशेष रूप से यूरोप में भारत का बेहतरीन साझेदार देश और यूरोप में प्रवेश का बिंदु होना चाहिए।"



इसके बाद शनिवार को ही मोदी और मैक्रों एक द्विपक्षीय सम्मेलन में हिस्सा लेंगे, जिसके बाद कई क्षेत्रों में समझौते होने की संभावना हैं। मोदी और मैक्रों शनिवार को आईएसए सम्मेलन की सह अध्यक्षता करेंगे, जिसे मोदी और फ्रांस के पूर्व राष्ट्रति फ्रांस्वा ओलांद ने 2015 में पेरिस जलवायु सम्मेलन के दौरान शुरू किया था।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें