Breaking News
आज का दिन:         ||           महाराष्ट्र कांग्रेस के प्रभारी बने मल्किार्जुन खड़गे         ||           गडकरी ने कहा चाबाहार बंदरगाह 2019 तक पूरा करने को प्रयासरत         ||           भाजपा ने आजाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की         ||           जोकोविक क्वींस क्लब के क्वार्टर फाइनल में         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने वाणिज्य भवन की आधारशिला रखी         ||           राकेश सिंह ने कहा भाजपा के कई विधायकों के टिकट कटेंगे         ||           गोवा खनन संकट पर प्रधानमंत्री मोदी से पर्रिकर करेंगे मुलाकात         ||           रोजर फेडरर हाले टेनिस ओपन के क्वार्टर फाइनल में         ||           मेलानिया ट्रंप की जैकेट को लेकर विवाद         ||           आस्ट्रेलिया फिंच, मार्श के शतक के बावजूद चौथा वनडे हारी         ||           परिणीती के साथ काम से ब्रेक लेना चाहते हैं अर्जुन         ||           ट्रक चालकों ने हड़ताल वापस ली         ||           जापान में ज्वालामुखी विस्फोट         ||           जम्मू एवं कश्मीर मुठभेड़ में आईएस के तीन आतंकवादी ढेर         ||           जदयू ने कहा तेजस्वी 'लंपटीकरण' का 'टैग' हटाने के लिए कार्रवाई की हिम्मत दिखाएं         ||           फिल्म 'लव सोनिया' का फर्स्ट लुक जारी         ||           व्हाइट हाउस ने सरकार में सुधार के लिए योजना पेश की         ||           आइसलैंड फीफा विश्व कप में दूसरे मैच में नाइजीरिया से भिड़ेगा         ||           ब्राजील और कोस्टा रिका फीफा विश्व कप में आज होंगे आमने-सामने         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> ईरान ने कहा यूरोप और अमेरिका परमाणु हथियार नष्ट करें तब वार्ता संभव

ईरान ने कहा यूरोप और अमेरिका परमाणु हथियार नष्ट करें तब वार्ता संभव


admin ,Vniindia.com | Sunday March 04, 2018, 10:16:00 | Visits: 134







तेहरान, 4 मार्च (वीएनआई)| ईरान की सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज कहा कि ईरान तब तक अपने मिसाइल कार्यक्रम पर बातचीत नहीं करेगा, जब तक यूरोप और अमेरिका अपने परमाणु हथियारों और मिसाइलों को नष्ट नहीं कर देते। 



ईरान की सेनाओं के उपसेना प्रमुख ब्रिगेडियर जनरल मसूद जाजायेरी ने शनिवार को कहा, अमेरिका जिस हताशा के साथ ईरान की परमाणु क्षमताओं पर प्रतिबंध लगाने की बात कह रहा है, वह सपना कभी पूरा नहीं होने वाला। जाजायेरी ने कहा, ईरान की परमाणु शक्ति को लेकर अमेरिका की चिंता क्षेत्र में उनकी निराशा और हार से उपजी है। इसके अलावा ईरान के रक्षा शक्ति के विकास से अमेरिका कमजोर स्थिति में आ गया है। उन्होंने अमेरिका से क्षेत्र छोड़ देने का आग्रह किया है। उन्होंने जोर देकर कहा, ईरान के मिसाइल कार्यक्रम के लिए वार्ता की पूर्व शर्त यह है कि अमेरिका और यूरोप अपने परमाणु हथियारों और लंबी दूरी की मिसाइलों को नष्ट करें।



अमेरिका के दबाव में यूरोप ने मिसाइल कार्यक्रमों पर दोबारा चर्चा के लिए ईरान पर दबाव बढ़ाया है। ईरान ने दोहराया है कि उसके सैन्य बल रक्षा क्षमताओं को बढ़ाना जारी रखेंगे। वहीं, ईरान के विदेश मंत्री ने भी कहा है कि ईरान अपने घरेलू मामलों और रक्षात्मक नीतियों विशेष रूप से मिसाइल कार्यक्रम में किसी तरह के हस्तक्षेप को मंजूरी नहीं देगा।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें