Breaking News
अखिलेश यादव ने कहा भाजपा ने भारत को 'राष्ट्रीय शर्म' की हालत में पहुंचा दिया         ||           विदेश मंत्री सुषमा ने चीन के राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति से मुलाकात की         ||           मेघालय से अफस्पा हटा, अरुणाचल में आठ थाना क्षेत्रों तक सीमित         ||           विपक्षी दल नायडू के फैसले के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय जाएंगे         ||           मोंटे कार्लो जीतकर एटीपी रैंकिंग में शीर्ष पर बने हुए हैं नडाल         ||           सिमोना हालेप डब्ल्यूटीए रैंकिंग में शीर्ष पर बरक़रार         ||           सेंसेक्स 35 अंकों की तेजी पर बंद         ||           राहुल ने कहा मोदी सरकार सर्वोच्च न्यायालय का दमन कर रही है         ||           केरल में राज्यसभा सीट के लिए कांग्रेस में खींचतान         ||           शमशाद बेगम की पुण्य तिथि पर `         ||           आज का दिन :         ||           रोहित ने कहा हमारी बल्लेबाजी अच्छी नहीं थी         ||           बिहार में भाजपा सांसद का बेटा शराब के नशे में गिरफ्तार         ||           जम्मू एवं कश्मीर में प्रदर्शनकारियों और सेना के बीच संघर्ष में एक छात्र घायल         ||           दिल्ली में तीन मंजिला इमारत में भीषण आग, 2 लोगो की मौत         ||           अमेरिका के टेनेसी में गोलीबारी, 4 लोगो की मौत         ||           लीबिया में झड़प, 2 लोगो की मौत         ||           नाइजीरिया में गोलीबारी, 10 लोगो की मौत         ||           अपनी अनमोल आँखों का गर्मी में रखें खास ख्याल         ||           पूजा भट्ट ने कहा मुझे उस युग में ले चलिए, जब लोग अच्छे थे         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> देश भर मे मकर संक्रांति, पोंगल,बीहू, उत्तरायण की धूम - गंगासागर मे लगभग 20 लाख श्रद्धालुओ का स्नान

देश भर मे मकर संक्रांति, पोंगल,बीहू, उत्तरायण की धूम - गंगासागर मे लगभग 20 लाख श्रद्धालुओ का स्नान


admin ,Vniindia.com | Sunday January 14, 2018, 04:23:00 | Visits: 137







नई दिल्ली/कोलकाता, 14 जनवरी (वीएनआई) भारत सहित दुनिया के कुछ और देशो आज मकर संक्रांति का त्योहार पारंपरिक हर्ष और उल्लास से मनाया जा रहा है. भारत के अलग-अलग हिस्सों के अलावा नेपाल, भूटान और बांग्लादेश से करीब 20 लाख श्रद्धालु आज मकर संक्राति के मौके पर बंगाल की खाड़ी स्थित गंगा नदी के संगम में पुण्य स्नान के लिए एकत्रित हो चुके हैं. हर साल मकर संक्रांति के मौके पर श्रद्धालु मोक्ष की कामना में सागर-संगम में डुबकी लगाने पहुंचे हैं.इस के अलावा देश भर की नदियो पर भी श्रद्धालुओं ने सुबह से ही ढंड की परवाह नही करते हुए डुबकियॉ लगाई और स्नान के बाद पूजा अर्चना और दान दिया. 



आज असम मे बीहू और तमिलनाडु और दक्षिण भारत मे पोंगल का पर्व मनाया जा रहा हैं.हिन्दू मान्यता के मुताबिक साल की 12 संक्रांत‌ियों में मकर संक्रांत‌ि का सबसे महत्व ज्यादा है. इस द‌िन सूर्य मकर राश‌ि में आते हैं और इसके साथ देवताओं का द‌िन शुरु हो जाता है, जो देवशयनी एकादशी से सुप्त हो जाते हैं. मकर संक्रांति को तमिलनाडु में पोंगल, गुजरात में उत्तरायण, असम में बिहू और पश्चिम बंगाल में पौष संक्रांति के नाम से जाना जाता है.भारत के अलावा श्री लंका और थाईलेंड जैसे देशो मेभी यह त्यौहार मनाया जाता है. मकर संक्रांति से पहले शुरू होने वाला गंगासागर का मेला नौ जनवरी से चल रहा है, जो आज खत्म हो जाएगा. मोटे अनुमान के अनुसार  अभी तक करीब 20 लाख लोग यहां पर पहुंच चुके हैं.पिछले साल करीब 15 लाख श्रद्धालु गंगासागर आए थे. इस वर्ष यह आंकड़ा काफी ज्यादा है. 



इस प्रसिद्ध तीर्थस्थल पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. यहां पर राज्य सरकार ने करीब तीन हजार पुलिस कर्मियों की तैनाती की है और रविवार को पुण्य स्नान करने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा पर नजर रखने के लिए सात ड्रोन सेवा में लगाए हैं. असल में पहली बार राज्य सरकार ने गंगासागर मेले में निर्बाध संचार सुनिश्चित करने के लिए अपने अधिकारियों को सैटेलाइट फोन से लैस किया है. गंगासागर मेला की चर्चा हिन्दू धर्मग्रन्थों में मोक्षधाम के तौर पर की जाती है. यह मेला पश्चिम बंगाल में गंगा के सागर से मिलन के स्थान पर लगता है, इसलिए इस स्थान को गंगासागर कहा जाता है. इस मेले में मकर संक्रांति के मौके पर दुनिया भर से लाखों श्रद्धालु मोक्ष की कामना में सागर-संगम में डुबकी लगाते हैं. श्रद्धालुओ मे गंगा सागर की बहुत महत्ता है.गंगासागर के बारे में एक कहावत है कि, 'सब तीरथ बार-बार, गंगासागर एक बार' मतलब साफ है कि गंगासागर की तीर्थयात्रा को सैकड़ों तीर्थयात्राओं के बराबर माना जाता.



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें