Breaking News
आज का दिन :         ||           जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में दो जवान जख्‍मी         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा मैं स्‍वतंत्रता सेनानियों के आगे नतमस्‍तक हूं         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने पुलिस स्मारक का उद्घाटन किया         ||           साइना नेहवाल डेनमार्क ओपन के फाइनल में पहुंचीं         ||           मुंबई ने दिल्ली को 4 विकेट से हराकर तीसरी बार जीती विजय हजारे ट्रॉफी         ||           संजय राउत ने कहा राम मंदिर के लिए अब कानून ना बना तो फिर कभी नहीं बनेगा         ||           अमेरिका ने भारत से कहा काट्सा बचने के लिए F-16 एयरक्राफ्ट खरीदो         ||           मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह अमृतसर ट्रैन हादसे में घायलों से मिले, मजिस्ट्रेट जांच के आदेश         ||           भारतीय गेंदबाज़ प्रवीण कुमार ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा         ||           आज का दिन : क्रिकेटर वीरेंद्र सहबाग         ||           सऊदी अरब ने कहा पत्रकार जमाल खशोगी की हो चुकी है मौत         ||           पेट्रोल-डीजल के दाम आज फिर कम हुए         ||           नवजोत सिंह सिद्धू दशहरा रेल हादसे में घायलों से मिलने पहुंचे         ||           रेलवे ने अमृतसर ट्रेन हादसे पर कहा हम जिम्मेदार नहीं         ||           पंजाब सरकार ने अमृतसर रेल हादसे के बाद राजकीय शोक का ऐलान किया         ||           अमृतसर ट्रेन हादसे में 61 लोगों की मौत         ||           बात रावण की         ||           आज का दिन :         ||           अजीत जोगी छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> देश भर मे मकर संक्रांति, पोंगल,बीहू, उत्तरायण की धूम - गंगासागर मे लगभग 20 लाख श्रद्धालुओ का स्नान

देश भर मे मकर संक्रांति, पोंगल,बीहू, उत्तरायण की धूम - गंगासागर मे लगभग 20 लाख श्रद्धालुओ का स्नान


admin ,Vniindia.com | Sunday January 14, 2018, 04:23:00 | Visits: 175







नई दिल्ली/कोलकाता, 14 जनवरी (वीएनआई) भारत सहित दुनिया के कुछ और देशो आज मकर संक्रांति का त्योहार पारंपरिक हर्ष और उल्लास से मनाया जा रहा है. भारत के अलग-अलग हिस्सों के अलावा नेपाल, भूटान और बांग्लादेश से करीब 20 लाख श्रद्धालु आज मकर संक्राति के मौके पर बंगाल की खाड़ी स्थित गंगा नदी के संगम में पुण्य स्नान के लिए एकत्रित हो चुके हैं. हर साल मकर संक्रांति के मौके पर श्रद्धालु मोक्ष की कामना में सागर-संगम में डुबकी लगाने पहुंचे हैं.इस के अलावा देश भर की नदियो पर भी श्रद्धालुओं ने सुबह से ही ढंड की परवाह नही करते हुए डुबकियॉ लगाई और स्नान के बाद पूजा अर्चना और दान दिया. 



आज असम मे बीहू और तमिलनाडु और दक्षिण भारत मे पोंगल का पर्व मनाया जा रहा हैं.हिन्दू मान्यता के मुताबिक साल की 12 संक्रांत‌ियों में मकर संक्रांत‌ि का सबसे महत्व ज्यादा है. इस द‌िन सूर्य मकर राश‌ि में आते हैं और इसके साथ देवताओं का द‌िन शुरु हो जाता है, जो देवशयनी एकादशी से सुप्त हो जाते हैं. मकर संक्रांति को तमिलनाडु में पोंगल, गुजरात में उत्तरायण, असम में बिहू और पश्चिम बंगाल में पौष संक्रांति के नाम से जाना जाता है.भारत के अलावा श्री लंका और थाईलेंड जैसे देशो मेभी यह त्यौहार मनाया जाता है. मकर संक्रांति से पहले शुरू होने वाला गंगासागर का मेला नौ जनवरी से चल रहा है, जो आज खत्म हो जाएगा. मोटे अनुमान के अनुसार  अभी तक करीब 20 लाख लोग यहां पर पहुंच चुके हैं.पिछले साल करीब 15 लाख श्रद्धालु गंगासागर आए थे. इस वर्ष यह आंकड़ा काफी ज्यादा है. 



इस प्रसिद्ध तीर्थस्थल पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. यहां पर राज्य सरकार ने करीब तीन हजार पुलिस कर्मियों की तैनाती की है और रविवार को पुण्य स्नान करने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा पर नजर रखने के लिए सात ड्रोन सेवा में लगाए हैं. असल में पहली बार राज्य सरकार ने गंगासागर मेले में निर्बाध संचार सुनिश्चित करने के लिए अपने अधिकारियों को सैटेलाइट फोन से लैस किया है. गंगासागर मेला की चर्चा हिन्दू धर्मग्रन्थों में मोक्षधाम के तौर पर की जाती है. यह मेला पश्चिम बंगाल में गंगा के सागर से मिलन के स्थान पर लगता है, इसलिए इस स्थान को गंगासागर कहा जाता है. इस मेले में मकर संक्रांति के मौके पर दुनिया भर से लाखों श्रद्धालु मोक्ष की कामना में सागर-संगम में डुबकी लगाते हैं. श्रद्धालुओ मे गंगा सागर की बहुत महत्ता है.गंगासागर के बारे में एक कहावत है कि, 'सब तीरथ बार-बार, गंगासागर एक बार' मतलब साफ है कि गंगासागर की तीर्थयात्रा को सैकड़ों तीर्थयात्राओं के बराबर माना जाता.



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें