Breaking News
कटासराज मंदिर के लिए भारत से 139 श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान रवाना         ||           रामदास आठवले ने कहा कार्यक्रम में सुरक्षा इंतजाम नहीं थे पर्याप्त         ||           ब्राजील में बैंक लूट के प्रयास में 14 लोगो की मौत         ||           टीएमसी कार्यकर्ताओं ने भाजपा की रैली के बाद गंगाजल से मैदान का शुद्धिकरण किया         ||           पेट्रोल-डीजल फिर सस्ता हुआ         ||           श्रीनगर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में पांच जवान घायल, दो आतंकी ढेर         ||           जीतू फौजी........         ||           आज का दिन :         ||           new Chief economic adviser         ||           आज का दिन :         ||           पंश्चिम बंगाल में बी.जे.पी की रथ यात्रा         ||           अश्विन .... विन... विन         ||           ज्वाला गुट्टा वोट नहीं डाल पाईं         ||           आर्मी जवान पर इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या का शक:         ||           कुछ आसान हो जायेगा ऑनलाइन ट्रान्सेक्शन         ||           पुजारा की जोरदार पारी .......         ||           . माधुरी दीक्षित और राजनीति ........         ||           आज का दिन :         ||           डिजिटल करेंसी         ||           विराट की खरी खरी         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> फिलिस्तीन और इजराइल संतुलन के साथ प्रगाढ़ता

फिलिस्तीन और इजराइल संतुलन के साथ प्रगाढ़ता


admin ,Vniindia.com | Saturday February 17, 2018, 03:31:00 | Visits: 213







नई दिल्ली, 17 फरवरी, (शोभना जैन/वीएनआई) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हाल ही में जब फिलिस्तीन मुख्यालय रामलला जा रहे थे तो नजारा दिलचस्प था, मोदी का हेलीकॉप्टर जान उन्हें जॉर्डन से रामलला ले जा रहा था तो जॉर्डन के साथ फिलिस्तीन के प्रतिद्वंधी इसरायली वायुसेना के हेलीकॉप्टर भी उनके हेलीकॉप्टर को रामलला ले जाने के लिए सुरक्षा दे रहे थे। 



फिलिस्तीन और इजराइल के बीच लम्बे समय से चले आ रहे तनाव के बीच भारत बदलती दुनिया में अपनी प्राथमिकताओं और दुनिया के मौजूदा घटनाक्रम के मद्देनज़र अब इन दोनों के साथ रिश्तो में बेहद सधे तरीके से संतुलन और सक्रियता दोनों ही बढ़ा रहा है. इसी संतुलन की बानगी काफी कुछ आकाश के इस दृश्य से देखने को मिली. भारत अब दोनों देशो के साथ अपने रिश्ते एक दूसरे की कीमत पर नहीं अपितु स्वतंत्र रूप से अपने राष्ट्रीय हितो और अपनी अंतराष्ट्रीय भूमिका के अनुरूप रख रहा है और दोनों को ही अलग-अलग प्राथमिकता दे रहा है. अब इजराइल और फिलिस्तीन दोनों ही अलग-अलग धरातल पर प्राथमिकता के साथ रखते हुए दोनों ही के साथ रिश्तो में प्रगाढ़ता और संतुलन बनाया जा रहा है।



इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की भारत में गर्मजोशी भरी अगुवाई के फ़ौरन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल में पश्चिम एशिया के तीन देशो, संयुक्त अरब अमीरात और ओमान की यात्रा के दौरान की फिलिस्तीन की भी यात्रा की, जिसमे यह संतुलन साफ तौर पर दिखाई दिया। ऐसे में जबकि पश्चिम एशिया में भी भारत की पहचान खासी अहम् होती जा रही है और इन देशो के साथ उसका सहयोग बढ़ रहा है और वे भी भारत को एक बड़े आर्थिक और सुरक्षा साथी के रूप में देख रहे है- भारत, इजराइल के साथ रिश्ते प्रगाढ़ बनाने की प्राथमिकता के साथ फिलिस्तीन व अरब जगत के साथ भी अपने रिश्तो पर पूरा ध्यान दे रहा है। 15 नवंबर 1988 को स्वतंत्रा की घोषणा के बाद फिलिस्तीन को मान्यता देने वाले पहले देशो में भारत शामिल था। तब से भारत के साथ फिलिस्तीन के संबंध गहरे रहे है, वर्ष 1992 में इजराइल के साथ भारत के कूटनीति संबंध स्थापित हुए है, संबंधो में यथास्थिति के दौर के बाद अब इजराइल के साथ भी द्विपक्षीय संबंध तेजी से बढ़ रहे है, सरकार अब इजराइल और फिलिस्तीन को अलग-अलग रखते हुए सावधानी से दोनों के साथ रिश्तो में सक्रियता और संतुलन बनाये रखने की दिशा में काम कर रही है। साभार-लोकमत (लेखिका वीएनआई न्यूज़ की प्रधान संपादिका है)



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें