Breaking News
लापरवाही से गाड़ी चलाने के आरोप में रहाणे के पिता हिरासत में         ||           लालू ने आरोप लगाया, जद (यू) ने आत्मचिंतन की दी सलाह         ||           कांग्रेस ने कहा सोनिया ने राजनीति नहीं छोड़ी है         ||           प्रियंका और कैटरीना पुरस्कार समारोह में प्रस्तुति देंगी         ||           उत्तर कोरिया पर जापान ने नए एकतरफा प्रतिबंध लगाए         ||           सेंसेक्स में 216 अंकों की तेजी पर बंद         ||           रूस में राष्ट्रपति चुनाव अगले साल 18 मार्च को         ||           अफरीदी ने टी-10 मैच में ली हैट्रिक         ||           भूमि पेडनेकर ने कहा मुझे मेकअप पसंद है         ||           कश्मीर में अलगाववादी नेता मीरवाइज हिरासत में लिए गए         ||           आस्ट्रेलिया एशेज सीरीज में खराब शुरुआत के बाद संभला         ||           तेजस्वी ने कहा एग्जिट पोल पर खुश होने वाले बिहार चुनाव परिणाम को याद करें         ||           आज का दिन:         ||           तीन तलाक पर विधेयक को मंत्रिमंडल की मंजूरी         ||           'न्यूटन' ऑस्कर की दौड़ से हुई बाहर         ||           सोनिया गाँधी ने कहा अब मेरी भूमिका रिटायर होने की         ||           करीना ने कहा सोहा सशक्त महिला हैं         ||           राजस्थान रॉयल्स का आईपीएल टीमों ने स्वागत किया         ||           सर्वोच्च न्यायालय ने आधार को लिंक करने की समय सीमा बढ़ाई         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने सरदार पटेल को उनकी पुण्यतिथि पर याद किया         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> जम्मू कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा के पास पाक ने इस वर्ष पिछले सात साल में सबसे अधिक संघर्ष विराम का उल्लंघन किया

जम्मू कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा के पास पाक ने इस वर्ष पिछले सात साल में सबसे अधिक संघर्ष विराम का उल्लंघन किया


admin ,Vniindia.com | Sunday December 03, 2017, 02:02:34 | Visits: 64







नई दिल्ली, 3 दिसंबर (वीएनआई) पाकिस्तान ने इस साल जम्मू कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा के पास पिछले सात साल में सबसे अधिक 724 से अधिक बार संघर्ष विराम उल्लंघन किया है.  गृह मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने इस साल अक्तूबर तक अंतरराष्ट्रीय सीमा एवं नियंत्रण रेखा के पास 724 बार संघर्षविराम उल्लंघन किया है, जबकि वर्ष 2016 में यह संख्या 449 थी.



गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने आंकड़े का हवाला देते हुए कहा कि अक्तूबर तक सीमा पार से हुई गोलीबारी में कम से कम 12 स्थानीय नागरिक मारे गये एवं 17 सुरक्षा कर्मी शहीद हो गये. इसके अनुसार सीमा पार से हुई गोलीबारी में कुल 79 स्थानीय नागरिक और 67 सुरक्षा कर्मी घायल हुए. अंतरराष्ट्रीय सीमा, नियंत्रण रेखा और जम्मू कमश्मीर में वास्तविक जमीनी स्थिति रेखा (एजीपीएल) के पास भारत एवं पाकिस्तान के बीच युद्धविराम नवंबर 2003 से लागू है.



पाकिस्तान के साथ लगती भारत की 3,323 किलोमीटर लंबी सीमा रेखा है, जिसमें जम्मू कश्मीर में 221 किलोमीटर अंतरराष्ट्रीय सीमा और 740 किलोमीटर नियंत्रण रेखा से लगती है. वर्ष 2016 में संघर्ष विराम उल्लंघन की 449 घटनाएं हुई थीं जिनमें 13 स्थानीय नागरिक मारे गये थे एवं 13 सुरक्षा कर्मी शहीद हो गये थे तथा 83 स्थानीय नागरिक एवं 99 सुरक्षाकर्मी घायल हो गये थे. वर्ष 2015 में संघर्ष विराम उल्लंघन की 405 घटनाएं, वर्ष 2013 में 347, वर्ष 2012 में 114, वर्ष 2011 में 62 और वर्ष 2010 में 62 घटनाएं हुई थीं. वीएनआई



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें