Breaking News
काबुल हमले की संयुक्त राष्ट्र ने निंदा की         ||           काबुल हमले में मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हुई         ||           पाकिस्तानी गोलीबारी में एक नागरिक की मौत         ||           अमेरिकी उपराष्ट्रपति माइक पेंस इजरायल पहुंचे         ||           नए मुख्य निर्वाचन आयुक्त बने ओम प्रकाश रावत         ||           केजरीवाल ने कहा भगवान ने इसी दिन के लिए हमें 67 सीटें दी थी         ||           अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के विरोध में पूरे अमेरिका में महिलाओं की अगुआई में 'गुलाबी टोपी जुलूस         ||           डावोस मे विश्व आर्थिक मंच में महकेंगी भारतीय व्यजंनो की महक और योग की छटा         ||           गीता बाली की पुण्य तिथि पर         ||           केजरीवाल सरकार के 20 विधायक आज अयोग्य करार, राष्ट्रपति ने लगाई मुहर         ||           आज का दिन :         ||           भारत 4-नेशन्स इन्विटेशनल हॉकी टूर्नामेंट के पहले चरण के फाइनल में हारा         ||           राष्ट्रपति कोविंद ने दिल्ली आग हादसे पर दुख जताया         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्वोत्तर राज्यों को स्थापना दिवस के मौके पर बधाई दी         ||           जम्मू एवं कश्मीर सीमा पर दो दिन चली गोलीबारी के बाद शांति         ||           अय्यारी और 'सोनू की टीटू...' से भिड़ेगी पैडमैन         ||           निमरत कौर ने कहा खुलकर बोलने के लिए महिलाओं को कानून प्रणाली पर भरोसा नहीं         ||           तुर्की ने सीरिया में सैन्य अभियान शुरू किया         ||           दृष्टिबाधित विश्व कप के फाइनल में भारत ने पाकिस्तान को हराया         ||           अमित शाह ने कहा काशी से पूरे विश्व में जा रहा विकास का संदेश         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> उर्दू लेखक देसनावी के सम्मान में गूगल ने बनाया डूडल

उर्दू लेखक देसनावी के सम्मान में गूगल ने बनाया डूडल


admin ,Vniindia.com | Wednesday November 01, 2017, 02:02:00 | Visits: 114







नई दिल्ली, 1 नवंबर (वीएनआई)| दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल ने आज उर्दू भाषा को समृद्ध करने में महत्वपूर्ण योगदान के लिए प्रसिद्ध अब्दुल कावी देसनावी की 87वीं जयंती के मौके पर उनके सम्मान में डूडल बनाया। 



डूडल में देसनावी बीच में बैठे कुछ लिखते नजर आ रहे हैं। सर्च इंजन के शब्द भी उर्दू भाषा की तरह लिखे दिख रहे हैं। भारतीय उर्दू भाषा के लेखक, आलोचक, ग्रंथकार और भाषाविद देसनावी ने उर्दू साहित्य के विकास में मदत्वपूर्ण योगदान दिया।



अपने पांच दशकों के साहित्यिक जीवन में उन्होंने कई कथाओं, आत्मकथओं और कविताओं की रचना की। उनकी कुछ महत्वपूर्ण रचनाओं में 'सात तेहरीरें', 'मोटाला-ए-खोतूल', 'गालिब' और साथ ही अल्लामा मुहम्मद इकबाल और मौलाना अबुल कलाम आजाद पर लेखन शामिल हैं। 1930 में बिहार के देसना गांव में जन्मे देसनावी एक विद्वान परिवार से थे। वह बेहद मजबूत शैक्षणिक पृष्ठभूमि के थे। उनकी प्राथमिक शिक्षा आरा में हुई। उन्होंने मुंबई के सेंट जेवियर कॉलेज से स्नातक और परास्नातक किया। उसके बाद वह भोपाल में सैफिया परास्नातक कॉलेज में प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हुए। उन्हें वहां उर्दू विभाग का प्रमुख बनाया गया। वह कई साहित्यिक और शैक्षणिक संस्थाओं के सदस्य रहे थे। देसनावी का 7 जुलाई, 2011 को भोपाल में निधन हो गया था।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें