Breaking News
आज का दिन :         ||           पाकिस्तान में पुलिस मुठभेड़ में दंपती की मौत के खिलाफ प्रदर्शन         ||           राफेल नडाल का 11वीं बार ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वॉर्टर फाइनल में पहुंचे         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा महागठबंधन भ्रष्टाचार का गठबंधन         ||           महिला आयोग ने मायावती पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाली भाजपा विधायक को भेजा नोटिस         ||           शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा राफेल पर चीजें छुपाओगे तो कहा ही जाएगा, चौकीदार चोर है         ||           ममता ने कहा मोदी सरकार की एक्सपायरी डेट आ गई         ||           तेजस्वी यादव ने कहा आप भले ही चौकीदार हैं लेकिन देश की जनता थानेदार है         ||           हार्दिक पटेल ने कहा सुभाष चंद्र बोस लड़े थे गोरों से, हम लड़ रहे चोरों से         ||           पटियाला हाउस कोर्ट से आईआरसीटीसी घोटाला मामले में लालू को मिली राहत         ||           डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन के बीच फरवरी में होगी मुलाकात         ||           वित्तमंत्री जेटली ने 'द हिंदू' की रिपोर्ट को झूठ से प्रेरित कहानी बताया         ||           दिल्ली-एनसीआर में बारिश होने की संभावना, 22 जनवरी से बदलेगा मौसम         ||           पाकिस्तान के नए चीफ जस्टिस बने आसिफ खोसा         ||           प्रकाश राज ने कहा एसी कमरों में बैठकर खेली जा रही है राम मंदिर की राजनीति         ||           भारत ने ऑस्ट्रेलिया को तीसरे एकदिवसीय में 7 विकेट से हराकर सीरीज 2-1 से जीती         ||           आज का दिन : कुंदन लाल सहगल         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने आज 9वें वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का उद्धाटन किया         ||           उमा भारती ने कहा मायावती पर फिर होगा लखनऊ गेस्ट हाउस जैसा हमला         ||           डीएमके सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण के खिलाफ कोर्ट पहुंची         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> पेरिस प्रदर्शन- फ्रांस सरकार का ईंधन की बढी कीमतो के फैसले पर रोक लगाने का अहम फैसला

पेरिस प्रदर्शन- फ्रांस सरकार का ईंधन की बढी कीमतो के फैसले पर रोक लगाने का अहम फैसला


admin ,Vniindia.com | Tuesday December 04, 2018, 04:49:00 | Visits: 69







पेरिस, 4 दिसंबर (वीएनआई) फ्रांस में पेट्रोलियम पदार्थों सहित ईंधन की बढ़ती कीमतों को लेकर जारी हिंसक उग्र जन आंदोलन के बीच फ्रांस सरकार ने बढी हुई कीमतों के फैसले पर फिलहाल रोक लगाने का एलान किया है. नई कीमते एक जनवरी से लागू होने वाली थी. इस  के साथ ही सरकार ने  आर्थिक रूप से कमजोर तबके  का जीवन स्तर बेहतर करने के लिये भी कई महत्वपूर्ण कदम उठाने की घोषणा की हैसे पूर्व  फ्रांस सरकार के प्रवक्ता  ने मीडिया से कहा है कि राज्य में शांति बहाली के लिए और प्रदर्शनकारियों से बातचीत के लिए यह कदम सरकार उठा सकती है.



पेरिस में पिछले काफी दिनों से बड़ी संख्या में लोग आपात स्थिति में पहने जाने वाले "पीले रंग" के कोट पहन कर प्रदर्शन कर रहे हैं.पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती क़ीमतों के विरोध में फ्रांस की राजधानी पेरिस में कई घंटों तक प्रदर्शन हुए हैं. पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हुई है जिसमें कम से कम 110 लोग घायल हुए हैं. इस सिलसिले में 260 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है. आगज़नी कर रहे प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े, स्टन ग्रेनेड दागे और पानी की तेज़ बौछार की.



फ्रांस में डीज़ल के दाम पिछले 12 महीने में 23 प्रतिशत से अधिक बढ़ गए हैं. वैश्विक स्तर पर तेल की क़ीमतों में उतार-चढ़ाव रहा है लेकिन फ्रांस के मामले में क़ीमत बढ़ने के बाद कम नहीं हुई. इसकी वजह ये है कि राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की सरकार ने हाइड्रोकार्बन टैक्स बढ़ा दिया है. फ्रांस में पेट्रोल-डीज़ल के बढ़े दामों के विरोध में इससे पहले 17 नवंबर को देशव्यापी प्रदर्शन हुए थे. तब इसमें लगभग तीन लाख लोग सड़कों पर उतरे थे. इसके बाद सोशल मीडिया पर राष्ट्रपति मैक्रों की आर्थिक नीतियों की आलोचना बढ़ती गई और विरोध प्रदर्शन की धार तेज़ होती गईप्रदर्शनकारियों के एक समूह ने पेरिस में कई वाहनों की क्षति पहुंचाई और कई मकानों को नुकसान पहुंचाया है.



फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने शनिवार को उनके खिलाफ प्रदर्शन करने वालों को अराजकता फलाने की चाहत रखने वाला करार देते हुए कहा था कि वह किसी भी सूरत में हिंसा बर्दाश्त नहीं करेंगे. देश में ईंधन की कीमतों में पूर्व नियोजित योजना के तहत हुई वृद्धि का विरोध कर रहे लोग शुक्रवार को हिंसा पर उतर आए.



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें