Breaking News
किडनी-लिवर बेचने वाले गिरोह का कानपुर पुलिस ने किया पर्दाफाश         ||           सहमति शिव सेना और बीजेपी में         ||           कुलभूषण जाधव केस मे इंटरनेशन कोर्ट में सुनवाई शुरू         ||           राहुल की मौजूदगी मे कांग्रेस में शामिल हुए सांसद कीर्ति आजाद         ||           मारा गया पुलवामा आतंकी हमले का मास्टरमाइंड ग़ाज़ी         ||           आज का दिन :         ||           आज का दिन :         ||           वायु शक्ति-2019         ||           क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया का अनूठा विरोध         ||           पुलवामा हमला-कश्मीर के पॉच अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटाई गई         ||           महानायक शहीदों की आर्थिक मदद के लिए आगे आए हैं.         ||           Hyderabad Special Tomato Chutney         ||           ब्रिटेन ने अपने नागरिकों को पाकिस्तान से सटे सीमाई इलाकों से दूर रहने की सलाह दी         ||           पुलवामा आतंकी हमले पर चीन की संवेदना में पाकिस्तान व जैश का जिक्र नही         ||           ठोको ताली-सिद्धू का कपिल शर्मा शो से जाना पहले से तय था         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा हम छेाड़ते नहीं, किसी ने छेड़ा तो छोड़ते नहीं         ||           राजनाथ सिंह ने इंटेलीजेंस के अफसरों से मुलाकात की         ||           वंदे भारत एक्सप्रेस         ||           लोकसभा चुनाव की तारीखों के बाद जारी होगा IPL 2019 का कार्यक्र्म         ||           सब दलों कि मीटिंग बैठक में गृह मंत्री बोले- सुरक्षा बलों को पूरी छूट         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> हामिद अंसारी ने कहा मेरे विदाई समारोह में पीएम की टिप्पणी को बहुतों ने परंपरा के विरुद्ध माना

हामिद अंसारी ने कहा मेरे विदाई समारोह में पीएम की टिप्पणी को बहुतों ने परंपरा के विरुद्ध माना


admin ,Vniindia.com | Monday July 09, 2018, 01:52:00 | Visits: 98







नई दिल्ली, 09 जुलाई, (वीएनआई) भारत के पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने अपने पद से सेवानिवृत होने के एक साल बाद प्रधानमंत्री मोदी की विदाई भाषण में की टिप्पणी को लेकर प्रतिक्रिया दी। 



हामिद अंसारी ने कहा कि विदाई भाषण में मोदी की टिप्पणी को बहुत से लोग मानते हैं कि वह मौके के लिहाज से ठीक कॉमेंट नहीं था। उन्होंने कहा, 'काफी लोगों का ऐसा विचार है कि विदाई भाषण के वक्त की गई उनकी टिप्पणी परंपरा के अनुकूल नहीं थी।' गौरतलब है कि 10 अगस्त 2017 हामिद अंसारी (2007-2017) का उप राष्ट्रपति के रूप में कार्यकाल का आखिरी दिन था।  उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति के तौर पर कार्यकाल समाप्त होने के मौके पर परंपरा के अनुसार सभी दलों के नेताओं ने उन्हें विदाई दी थी। राज्यसभा सभापति के तौर पर कार्यकाल के आखिरी दिन विदाई भाषण में प्रचलित परंपरा के अनुसार पीएम मोदी ने हामिद अंसारी का शुक्रिया अदा करते हुए राजनयिक और उपराष्ट्रपति के तौर पर उनके कार्यकाल की सराहना की थी। 



पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी ने एक न्यूज़ एजेंसी से बातचीत में कहा, प्रधानमंत्री ने इस विदाई समारोह में हिस्सा लिया था और कार्यकाल की प्रशंसा के दौरान उन्होंने मेरे व्यक्तिगत रुझानों की ओर भी संकेत दिए थे। उन्होंने मुस्लिम मुल्कों में बतौर राजदूत मेरे कार्यकाल का उल्लेख किया था। राजदूत के पद से सेवानिवृत होने के बाद अल्पसंख्यकों से जुड़े मुद्दों पर मेरी सक्रियता की तरफ उनका संकेत था। अंसारी ने कहा, 'उनका संकेत शायद बेंगलुरु में दिए मेरे उस भाषण और राज्यसभा टीवी को दिए इंटरव्यू का था जिसमें मैंने कहा था कि अल्पसंख्यक और कुछ दूसरे समुदाय के युवाओं में बेचैनी और असुरक्षा का भाव है।' बता दें कि उनके इस कॉमेंट पर उस वक्त सोशल मीडिया में काफी हंगामा भी हुआ था। कुछ लोगों ने हामिद अंसारी से सहमकि जताई तो कुछ ने विरोध किया।  उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी आलोचना करनेवालों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'सोशल मीडिया पर मौजूद कुछ वफादार लोगों ने इस बयान के खिलाफ एक तरीके से दुष्प्रचार की मुहिम ही छेड़ दी। दूसरी तरफ, कुछ ऐसे भी लोग थे जिन्होंने अखबारों में इससे संबंधित लेख और गंभीर संपादकीय लिखे और उनमें माना कि विदाई समारोह के दौरान पीएम की टिप्पणी संसदीय परंपरा के अनुकूल नहीं थी।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें