Breaking News
अमित शाह ने कहा मोदी देश के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री         ||           रोहिंग्या मामले मे भारत की भूमिका         ||           देवेंद्र फडणवीस ने ऑडियो क्लिप में अपनी आवाज स्वीकारी         ||           जेटली ने कहा राजग सरकार ने बदली देश की दशा-दिशा         ||           मायावती और अखिलेश ने मोदी सरकार बुरी तरह विफल बताया         ||           राहुल गाँधी ने कहा भाजपा सरकार कई मोर्चो पर विफल         ||           तेजस्वी यादव ने कहा 4 साल मोदी सरकार, सस्ता विकास महंगा प्रचार         ||           जादू संगीत का         ||           बल्लेबाजों ने लंदन टेस्ट में पाकिस्तान को मजबूत स्थिति में पहुंचाया         ||           मिथारवाल आईएसएसएफ विश्व कप के फाइनल में सातवें पायदान पर रहे         ||           फिल्म 'परमाणु..' ने पहले दिन 4.82 करोड़ रुपये की कमाई की         ||           अमित शाह ने कहा भाजपा ने तुष्टिकरण की राजनीति को विकास की राजनीति से बदला         ||           संयुक्त राष्ट्र अर्थशास्त्री ने कहा भारत संभावित व्यापार तनाव से निपटने की बेहतर स्थिति में         ||           आज का दिन         ||           पुतिन ने कहा रूस, चीन भागीदारी सर्वश्रेष्ठ स्तर पर         ||           पेले फीफा विश्व कप के लिए रूस जाएंगे         ||           दीपिका पादुकोण का नया जुनून दौड़ना         ||           शिल्पा शेट्टी ने बेटे के जन्मदिन पर आयोजित की शुगर-फ्री पार्टी         ||           राजधानी दिल्ली में लू का कहर जारी रहने की संभावना         ||           मोदी ने सरकार के 4 साल पूरा होने पर कहा, 'भारत सबसे पहले'         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> उप्र के कासगंज हिंसा के बाद पुलिस महानिदेशक ने निर्देश जारी किए

उप्र के कासगंज हिंसा के बाद पुलिस महानिदेशक ने निर्देश जारी किए


admin ,Vniindia.com | Tuesday January 30, 2018, 11:10:00 | Visits: 71







लखनऊ, 30 जनवरी (वीएनआई)| उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहली बार सूबे की कानून व्यवस्था को लेकर घिरते नजर आ रहे हैं। योगी के सख्त रूख के बाद उप्र के पुलिस महानिदेशक ओ.पी सिंह ने कासंगज में हुई सांप्रदायिक हिंसा को लेकर सभी जिलों के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने का निर्देश जारी किया है। 



पुलिस महानिदेशक की ओर से सोमवार देर रात जारी निर्देश में कहा गया है कि किसी भी सांप्रदायिक तनाव के बाद मामले में दोषियों का अतिशीघ्र पता लगाकर कार्रवाई की जाए। इतना ही नहीं, दो पक्षों के बीच हुए विवाद को दोनों पक्षों में संवाद कराकर समाधान कराएं। अराजक तत्वों के मंसूबों को समय रहते निष्क्रिय करें। इसके लिए इंटेलिजेंस रिपोर्ट, लोकल इंटेलिजेंस यूनिट और जनता से भी सहयोग लिया जाए। निर्देश में कहा गया है कि ऐसे तत्वों जिनके भ्रमण आदि से सांप्रदायिक सद्भाव एवं समरसता पर विपरीत प्रभाव पड़ता हो, उनके संबंध में निरोधात्मक कार्रवाई की जाए। हर संवेदनशील स्थल पर सीसीटीवी से निगरानी करें। उन्होंने कहा, "हर ऐसे मामले पर नजर रखें, जिनके कारण सांप्रदायिक विद्वेष की स्थिति बन सकती है। प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए वरिष्ठ अधिकारी खुद मौके पर पहुंचे। दोषी व्यक्तियों के खिलाफ फौरन कार्रवाई हो।"



पुलिस मुखिया की ओर से जारी निर्देश में यह भी कहा गया है कि जिन स्थानों पर सांप्रदायिक घटनाएं हुई हैं, वहां अराजक तत्वों पर कड़ी नजर रखी जाए। जनपद स्तर पर महत्वपूर्ण अवसरों, जैसे धार्मिक पर्व, रैली, शोभा यात्रा आदि का वार्षिक कैलेंडर रखा जाए और सांप्रदायिक घटना के बाद जुलूस निकालने की संभावना को देखते हुए पर्याप्त सुरक्षा दी जाए।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें