Breaking News
मायावती का छत्‍तीसगढ़ में अजीत जोगी से गठबंधन         ||           मायावती ने मध्‍य प्रदेश में अकेले लड़ने का ऐलान किया         ||           अक्षर पटेल और शार्दुल ठाकुर भी चोट के कारण एशिया कप से बाहर         ||           पाकिस्‍तान प्रधानमंत्री इमरान ने प्रधानमंत्री मोदी से शांति की अपील की         ||           हसन नसरुल्ला ने कहा अगली सूचना तक सीरिया में बना रहेगा हिज्बुल्ला         ||           कांग्रेस ने सीमा पर जवान के साथ दरिंदगी पर पूछा, 56 इंच का सीना और लाल आंख कहां हैं         ||           आज का दिन :         ||           अमेरिका ने कहा पाकिस्तानी आतंकी भारत में लगातार कर रहे हैं हमले         ||           हार्दिक पांड्या चोट के कारण एशिया कप से बाहर         ||           मोदी सरकार ने कई छोटी बचत योजनाओं में बढ़ाई ब्‍याज दरें         ||           मुख्तार अब्बास नकवी ने राहुल गांधी को पायरेटेड लैपटॉप बताया         ||           अनुराग कश्यप ने विवादित सीन्स पर सिख समुदाय से माफी मांगी         ||           डीके शिवकुमार ने भाजपा पर किया पलटवार, कहा मैं डरकर भागने वालों में से नहीं         ||           नवाज शरीफ और बेटी मरियम को इस्‍लामाबाद हाई कोर्ट ने दिया जेल से रिहा करने का आदेश         ||           सेंसेक्स 169 अंक की गिरावट पर बंद         ||           भाजपा ने कहा हवाला कारोबार से जुड़ी है कांग्रेस         ||           रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस ने वोट बैंक के लिए नहीं पास होने दिया तीन तलाक बिल         ||           आज का दिन :         ||           कांग्रेस ने तीन तलाक अध्यादेश पर लगाया राजनीति का आरोप         ||           मोदी सरकार ने तीन तलाक अध्यादेश को दी मंजूरी         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> दलाई लामा ने कहा कोई मुस्लिम या ईसाई आतंकवादी नहीं होता

दलाई लामा ने कहा कोई मुस्लिम या ईसाई आतंकवादी नहीं होता


admin ,Vniindia.com | Wednesday October 18, 2017, 03:13:00 | Visits: 176







इंफाल, 18 अक्टूबर (वीएनआई)| तिब्बती बौद्ध धर्मगुरु दलाई लामा ने आज कहा कि कोई भी मुस्लिम या ईसाई आतंकवादी नहीं होता क्योंकि जब वह एक बार आतंकवाद को अपना लेता है तो वह धार्मिक नहीं रह जाता। 



दलाई लामा ने मणिपुर में अपने तीन दिवसीय दौरे के दूसरे दिन कहा, लोग जब आंतकवादी बनते हैं तो उनकी मुस्लिम, ईसाई या अन्य पहचान समाप्त हो जाती है। दलाई लामा ने यह भी कहा कि उन्हें अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का नारा 'अमेरिका फर्स्ट' भी पसंद नहीं है। अहिंसा के उपासक और नोबल पुरस्कार विजेता लामा ने कहा कि हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नहीं है। उन्होंने कहा, "भारत, जिसके पास 1000 वर्षो की अहिंसक परंपरा रही है, अपने प्राचीन ज्ञान से विश्व शांति की स्थापना सुनिश्चित कर सकता है। "



दलाई लामा के अनुसार, "हमारी जितनी भी समस्या है, वह हमने खुद पैदा की है। हमें भावनाओं पर काबू पाना सीखना होगा। गुस्सा सेहत के लिए नुकसानदेह है। दुनिया में 700 करोड़ लोगों में, 600 करोड़ लोग भगवान के बच्चे हैं जबकि 100 करोड़ नास्तिक हैं।" उन्होंने कहा कि दुनिया की समस्याओं को बातचीत के द्वारा सुलझाया जा सकता है। भारत अपने प्राचीन ज्ञान व शिक्षा से दुनिया में शांति स्थापना सुनिश्चित कर सकता है। चीन में भी अगर उसकी साम्यवादी विचारधारा को छोड़ दें तो संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि अमीर और गरीब के बीच खाई नैतिक रूप से गलत है और यह खाई भारत व मणिपुर में भी दिखाई देती है। अपने भाषण में दलाई लामा ने याद करते हुए बताया कि कैसे वह 58 वर्ष पहले एक शरणार्थी के रूप में भारत आए थे। भारत में लगभग एक लाख तिब्बती रहते हैं।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें