Breaking News
प्रकाश आंबेडकर ने दिया कांग्रेस-राकांपा संग गठबंधन का संकेत         ||           रोनाल्डो के गोल से फीफा विश्व कप में मोरक्को के खिलाफ जीता पुर्तगाल         ||           कांग्रेस ने कहा सरकार ने किसानों को एमएसपी पर धोखा दिया         ||           भाजपा ने कहा आईयूएमएल ने रोहित वेमुला के परिवार को धोखा दिया         ||           वित्तमंत्री जेटली ने कहा अरविंद सुब्रह्मण्यम का कार्यकाल नहीं बढ़ाया जाएगा         ||           सेंसेक्स 261 अंकों की तेजी पर बंद         ||           बॉबी देओल 'रेस-3' की सफलता से बेहद खुश हैं         ||           एंडी मरे को हराकर क्वींस क्लब के क्वार्टर फाइनल में किर्गियोस         ||           राजनाथ ने कहा जम्मू एवं कश्मीर से आतंकवादी संगठनों को मार भगाएंगे         ||           कुमारस्वामी ने कहा जुलाई में पूर्ण बजट पेश करूंगा         ||           मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने मदुरै में एम्स के लिए मोदी का आभार जताया         ||           प्रधानमंत्री मोदी झाबुआ की किसान महिलाओं से हुए मुखातिब         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा किसानों की आय बढ़ रही         ||           रेखा 20 साल बाद आईफा 2018 में लाइव परफॉर्म करेंगी         ||           दिनेश चंडीमल पर बॉल टेम्परिंग मामले में एक मैच का प्रतिबंध         ||           छत्तीसगढ़ के अतिरिक्त मुख्य सचिव का जम्मू एवं कश्मीर तबादला         ||           रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने शहीद औरंगजेब के परिवार से मुलाकात की         ||           नेपाल और चीन ने 2.24 अरब डॉलर के 8 समझौते किए         ||           दुनिया का सर्वश्रेष्ठ रेस्तरां इटली का ओस्टेरिया फ्रांसेस्काना         ||           जम्मू एवं कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> कांग्रेस ने सरकार की विदेश नीति को लेकर निंदा की

कांग्रेस ने सरकार की विदेश नीति को लेकर निंदा की


admin ,Vniindia.com | Thursday August 03, 2017, 06:22:25 | Visits: 166







नई दिल्ली, 3 अगस्त (वीएनआई)| मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने आज राज्यसभा में विदेश नीति के मुद्दों खास तौर पर चीन के साथ सैन्य गतिरोध को लेकर सरकार पर निशाना साधा और कहा कि सरकार की वजह से राष्ट्रीय सुरक्षा और राष्ट्र हित खतरे में हैं। 



सदन में विदेश नीति पर बहस की शुरुआत करते हुए वरिष्ठ सदस्य आनंद शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके व चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच हुई बैठक में डोकलाम सीमा गतिरोध क्या चर्चा की गई, इस पर जानकारी देने की मांग की। कांग्रेस नेता ने कहा कि सरकार को परखी गई विदेश नीति को कमजोर व भटकाना नहीं चाहिए और देश हित को कायम रखना चाहिए। चीनी राष्ट्रपति से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो बार मुलाकात का जिक्र करते हुए शर्मा ने कहा, "मोदी जी ने शी जिनपिंग के साथ दो बार मुलाकात की, एक बार अस्ताना में और हैम्बर्ग में और हमसे कहा गया कि दोनों में सार्थक बातचीत हुई। उन्होंने कहा, "चीन इससे क्यों इनकार करता है। मैं अपनी सरकार पर विश्वास करता हूं, लेकिन उनकी इनकार करने में क्या मंशा है।"



शर्मा ने यह भी कहा कि मोदी ने एक बार भी नहीं उल्लेख किया है कि उनकी चीनी राष्ट्रपति से क्या वार्ता हुई। उन्होंने कहा, "यहां तक कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) भी मिले। हम उनसे बैठक के सभी विवरणों का खुलासा नहीं करने के लिए कह रहे हैं, लेकिन यदि गतिरोध का समाधान हो सकता है तो हमें यह विचार दिया जाना चाहिए। कांग्रेस नेता ने कहा, यह सामरिक और राष्ट्रीय हित में जानना हमारा अधिकार है। प्रधानमंत्री चुप नहीं रह सकते। उन्होंने कहा, "हम चाहते हैं कि विदेश मंत्री सुषमा जी (स्वराज) कूटनीति को अवसर दें। हम मानते है कि सभी कूटनीतिक माध्यम बातचीत और भारत के हितों की रक्षा के लिए खुले रहने चाहिए। शर्मा ने उल्लेख किया कि चीन के साथ संबंध बहुत जटिल और असहज हैं। उन्होंने कहा, मुझे उम्मीद है कि विदेश मंत्री पूरी तरह से डोकलाम में चीन के साथ संघर्ष से परिचित हैं। हमारी सुरक्षा और राष्ट्रीय हित खतरे में है। चीन असामान्य रूप से आक्रामक है। उन्होंने भी कहा कि चीनी राष्ट्रपति ने मुद्दे पर दो बार बोला है। उन्होंने कहा, हम जानना चाहते हैं कि चीन के बयान पर सरकार की क्या प्रतिक्रिया है।



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें