Breaking News
पाकिस्तान के नए चीफ जस्टिस बने आसिफ खोसा         ||           प्रकाश राज ने कहा एसी कमरों में बैठकर खेली जा रही है राम मंदिर की राजनीति         ||           भारत ने ऑस्ट्रेलिया को तीसरे एकदिवसीय में 7 विकेट से हराकर सीरीज 2-1 से जीती         ||           आज का दिन : कुंदन लाल सहगल         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने आज 9वें वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट का उद्धाटन किया         ||           उमा भारती ने कहा मायावती पर फिर होगा लखनऊ गेस्ट हाउस जैसा हमला         ||           डीएमके सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण के खिलाफ कोर्ट पहुंची         ||           राजधानी दिल्ली में ठंड का कहर जारी, 7 लोगों की मौत         ||           कन्नौज से चुनाव लड़ सकती हैं डिंपल यादव         ||           मायावती ने कहा मैं कांशीराम की शिष्या हूँ, उन्हीं की स्टाइल में दूंगी जवाब         ||           आज का दिन : सुचित्रा सेन         ||           श्रीनगर में पुलिस टीम पर ग्रेनेड अटैक में तीन पुलिसकर्मी घायल         ||           राम माधव ने कहा राष्ट्र विरोधी ताकतों से कानूनी प्रकिया के जरिए ही निपटना होगा         ||           एन. श्रीनिवासन ने कहा बीसीसीआई में गड़बड़ी         ||           राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गंगा पूजन के लिए प्रयागराज पहुंचे         ||           शशि थरूर ने कहा मोदी को मिला फर्जी फिलिप कोटलर अवॉर्ड पीएमओ को लौटा देना चाहिए         ||           फिल्म निर्माता ने मंदिर में की आत्महत्या         ||           पेट्रोल-डीजल आज फिर महंगा हुआ         ||           माली में आतंकवादियों के हमले में 10 लोगों की मौत         ||           एनआईए ने पश्चिम यूपी और पंजाब समेत 7 ठिकानों पर छापेमारी की         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> चिदंबरम ने कहा भाजपा रोजगार पर चर्चा को अलग रुख दे रही

चिदंबरम ने कहा भाजपा रोजगार पर चर्चा को अलग रुख दे रही


admin ,Vniindia.com | Monday January 29, 2018, 12:53:00 | Visits: 154







नई दिल्ली, 29 जनवरी (वीएनआई)| कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी.चिदंबरम ने आज भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी रोजगार पर चर्चा को अलग रुख दे रही है। 



चिदंबरम ने कहा कि उन्हें नियमित रोजगार चाहने वालों से सहानुभूति है। चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, एक युवा जो पकौड़ा बेच रहा है, वह सम्मानपूर्वक स्व-रोजगार कर रहा है, लेकिन वह गरीब और आकांक्षी है। उससे पूछो और वह आपको बताएगा कि उसे एक नियमित और सुरक्षित रोजगार चाहिए। मेरी सहानुभूति उसके साथ है। उन्होंने कहा, भाजपा को रोजगारों पर चर्चा से भागना नहीं चाहिए। पार्टी को बताना चाहिए कि पिछले तीन वर्षो में कितने नियमित रोजगारों का सृजन हुआ। गौरतलब है प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले सप्ताहांत एक निजी समाचार चैनल को दिए साक्षात्कार के दौरान कहा था, यदि एक शख्स पकौड़ा बेच रहा है और दिन ढलने तक वह 200 रुपये कमा रहा है, तो क्या इसे रोजगार मानना चाहिए या नहीं? मोदी के इसी बयान पर प्रतिक्रियास्वरूप चिदंबरम ने यह टिप्पणी की। 



चिदंबरम ने केंद्र सरकार की ओलचना करते हुए कहा, भाजपा तोड़-मरोड़ करने और धोखे में पारंगत है। पूर्व वित्त मंत्री ने कहा, प्रधानमंत्री ने कहा है कि यहां तक कि पकौड़े बेचना भी रोजगार है। इसी तर्क के आधार पर तो भीख मांगना भी रोजगार है। आजीविका के लिए भीख मांगने के लिए विवश गरीबों और विकलांगों को भी रोजगार प्राप्त लोगों में गिनना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा, सच्चाई यह है कि बीते तीन वर्षो में रोजगारों का सृजन नहीं हुआ है और सरकार को कोई अंदाजा ही नहीं है कि रोजगारों का सृजन कैसे किया जाए? उन्होंने कहा, रोजगारों पर चर्चा में रोजगार और स्वरोजगार के बीच के अंतर को बनाए रखना महत्वपूर्ण है। रोजगार निश्चित, नियमित और सुरक्षित होता है। हम यह जानना चाहते हैं कि इस तरह के कितने रोजगारों का सृजन हुआ। उन्होंने कहा, "पकौड़े बेचना गरीबों के लिए सम्मानीय स्वरोजगार है लेकिन इसे रोजगार में नहीं गिना जा सकता। चिदंबरम ने कहा, भाजपा को इस सवाल का जवाब देना चाहिए कि पिछले तीन वर्षो में कितने निश्चित, नियमित और सुरक्षित रोजगारों का सृजन हुआ?



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें