Breaking News
मंत्रिमंडल की बारह वर्ष से कम उम्र की बच्चियों से दुष्कर्म पर मृत्युदंड को मंजूरी         ||           सहवाग ने कहा गांगुली के खिलाफ चैपल का मेल पहले मैंने देखा था         ||           परिणीति मेलबर्न की खूबसूरती से प्रभावित हुईं         ||           आज का दिन:         ||           जियोनी नए स्मार्टफोन 26 अप्रैल को लॉन्च करेगी         ||           शिवराज ने कहा बच्ची से दुष्कर्म और हत्या के दोषी को कड़ी सजा मिलेगी         ||           यशवंत सिन्हा ने भाजपा से नाता तोड़ा         ||           छग में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में सीआरपीएफ का जवान शहीद         ||           फिल्म 'संजू' का टीजर मंगलवार सुबह होगा रिलीज         ||           पाकिस्तानी गोलीबारी में घायल जवान ने दम तोड़ा         ||           सोनाक्षी ने कहा आदित्य संग काम करने को उत्साहित हूं         ||           नॉर्डिक देशो से बढ़ती नजदीकी         ||           उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग का ऐलान, परमाणु परीक्षण अब नहीं होंगे         ||           अमेरिका और जापान के रक्षा प्रमुखों की बैठक         ||           नए राष्ट्रमंडल प्रमुख के तौर पर प्रिंस चार्ल्स जिम्मेदारी संभालेंगे         ||           राजधानी दिल्ली में सुबह सुहावना मौसम         ||           शेयर बाजार सामान्य मॉनसून की आहट से गुलजार         ||           चेन्नई ने राजस्थान को 64 रन से पीटा         ||           वाटसन का आईपीएल-11 में दमदार शतक, चेन्नई ने बनाये 204 रन         ||           जेटली ने कहा कांग्रेस राजनीतिक हथियार के तौर पर महाभियोग का कर रही है प्रयोग         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> चैत्र नवरात्र के पांचवे दिन आज मां स्कंदमाता की पूजा

चैत्र नवरात्र के पांचवे दिन आज मां स्कंदमाता की पूजा


admin ,Vniindia.com | Thursday March 22, 2018, 10:55:00 | Visits: 92







नई दिल्ली 22 मार्च (वीएनआई) 18 मार्च से वासंतिक नवरात्र शुरू हो गया है। इस बार की नवरात्रि मान्यता के आधार पर केवल 8 दिन की ही हैं। इसमें 24 मार्च को अष्टमी की पूजन की जाएगी। इस दिन श्रद्धालु माता के महागौरी रूप की आराधना करते हैं। इसके बाद 25 तारीख को श्रीराम नवमी मनाई जाएगी, साथ ही माता की नवमी पूजन भी की जाएगी। आज वासंतिक नवरात्रि का पांचवां दिन है।  



आज माता दुर्गा के पांचवे स्वरूप में मां स्कंदमाता की पूजा की जाएगी। स्कंद का अर्थ है कुमार कार्तिकेय अर्थात माता पार्वती और भगवान शिव के जेष्ठ पुत्र कार्तिकय. जो भगवान स्कंद कुमार की माता है वही है मां स्कंदमाता. शास्त्र अनुसार देवी स्कंदमाता ने अपनी दाई तरफ की ऊपर वाली भुजा से बाल स्वरूप में भगवान कार्तिकेय को गोद में लिया हुआ है। स्कंदमाता स्वरुपिणी देवी की चार भुजाएं हैं। एक भुजा से भगवान स्कंद को गोद में पकड़े हुए हैं, दूसरी भुजा वरमुद्रा में और दो भुजाये जो ऊपर की ओर उठी है, उसमें कमल-पुष्प लिए हुए है। कमल के आसन पर विराजमान होने के कारण इन्हें पद्मासना देवी भी कहा जाता है. सिंह इनका वाहन है. शेर पर सवार होकर माता दुर्गा अपने पांचवें स्वरुप स्कंदमाता के रुप में भक्तजनों के कल्याण के लिए सदैव तत्पर रहती हैं. इन्हें कल्याणकारी शक्ति की अधिष्ठात्री कहा जाता है।



इनकी पूजा के मन्त्र इस प्रकार है :-

"या देवी सर्वभू‍तेषु स्कंदमाता रूपेण संस्थिता. नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:"



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें