Breaking News
स्मृति ने कहा कांग्रेस मुखिया के परिवार ने खुद को ही दिए भारत रत्न         ||           आज का दिन:         ||           मोदी ने कहा कांग्रेस ने केरल में परियोजनाओं को सालों लटकाए रखा         ||           डॉनल्ड ट्रंप ने कहा चीन और भारत के साथ संबंध रखना अच्छा है         ||           देश के शेयर बाज़ारो के शुरूआती कारोबार में तेजी का असर         ||           संतों व श्रद्धालुओं के पहले शाही स्नान के साथ कुम्भ 2019 का आगाज         ||           कुमारस्वामी ने येदुरप्पा पर विधायकों के खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया         ||           प्रशांत भूषण सीबीआई के अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव की नियुक्ति के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे         ||           कन्हैया कुमार ने देशद्रोह मामले में चार्जशीट दायर होने पर कहा थैंक यू मोदी जी         ||           अमेरिका की खाड़ी विवाद खत्म करने की अपील         ||           लाईब्रेरी मज़ाक नही विकास की राह है         ||           प्रयागराज कुंभ में सिलेंडर ब्लास्ट से दिगंबर अखाड़े में लगी आग         ||           हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी सरफराज जम्‍मू कश्‍मीर के बांदीपोरा से पकड़ा गया         ||           मुंबई में सातवें दिन भी जारी है बेस्ट बसों की हड़ताल         ||           राजधानी दिल्ली में ठंड बढ़ी, कोहरे के कारण 12 ट्रेनें लेट         ||           आज का दिन :         ||           राम माधव ने कहा राहुल गांधी के विदेश दौरे का मतलब देश की छवि को खराब करना         ||           उद्धव ने कहा शिवसेना को हराने वाला पैदा नहीं हुआ         ||           कांग्रेस ने कहा यूपी में सभी 80 सीटों पर अकेले लड़ेंगे         ||           राष्ट्रपति ने सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण बिल को दी मंजूरी         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> नवरात्र के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की करे पूजा

नवरात्र के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की करे पूजा


admin ,Vniindia.com | Monday March 19, 2018, 01:02:00 | Visits: 192







नई दिल्ली 19 मार्च (वीएनआई) कल से वासंतिक नवरात्र शुरू हो गया है। इस बार की नवरात्रि मान्यता के आधार पर केवल 8 दिन की ही हैं। इसमें 24 मार्च को अष्टमी की पूजन की जाएगी। इस दिन श्रद्धालु माता के महागौरी रूप की आराधना करते हैं। इसके बाद 25 तारीख को श्रीराम नवमी मनाई जाएगी, साथ ही माता की नवमी पूजन भी की जाएगी। आज वासंतिक नवरात्रि का दूसरा दिन है और आज नवदुर्गा के दूसरे स्वरूप की पूजा की जा रही है. लेकिन खास बात ये है कि आज ही नवदुर्गा के तीसरे स्वरूप की भी उपासना की जा रही है. यानी आज नवरात्रि की तिथि भले ही दूसरी है लेकिन दूसरा और तीसरा नवरात्रा दोनों आज ही हैं.यानि इस बार एक नवरात्रा कम होगा क्योंकि आज मां के दूसरे और तीसरे दोनों स्वरूप की पूजा की जा रही है है. 



नवरात्र के दूसरे दिन भगवती मां ब्रह्मचारिणी की पूजा का विधान है। ब्रह्मचारिणी देवी भगवती दुर्गा की नौ शक्तियों का दूसरा स्वरूप ब्रह्मचारिणी का है। यहां ब्रह्म शब्द का अर्थ तपस्या से है और ब्रह्मचारिणी अर्थात् तप की चारिणी – तप का आचरण करने वाली। शास्त्रों ने कहा भी है कि वेदस्तत्वं तपो ब्रह्म। माता का स्वरूप पूर्ण ज्योर्तिमय एवं अत्यंत भव्य है। उनके दाहिने हाथ में जप की माला एवं बायें हाथ में कमण्डलु है।साधक एवं योगी इस दिन अपने मन को भगवती मां के श्री चरणों मे एकाग्रचित करके स्वाधिष्ठान चक्र में स्थित करते हैं और मां की कृपा प्राप्त करते हैं।  ज्योतिषाचार्यों के अनुसार माता अपने पूर्व जन्म में हिमालय की पुत्री के रूप में उत्पन्न हुई थी। तब नारदजी के उपदेश से भगवान शंकरजी को पति रूप में पाने के लिए कठिन तपस्या की थी। ऐसी तपस्या करने के बाद इनका नाम ब्रह्मचारिणी पड़ा। तपस्या कई हजार वर्षों तक करने के बाद बिना खाये-पिये रहने के कारण इनका एक नाम अर्पणा भी पड़ा। इनकी इस तपस्या से तीनों लोकों में हाहाकार मच गया। सभी देव, ऋषि, मुनि उनकी सराहना करने लगे। अंत में ब्रह्माजी ने आकाशवाणी के द्वारा कहा हे देवी आज तक ऐसी कठिन तपस्या किसी ने नहीं की। इसलिए भगवान शिव तुम्हें पति रूप में प्राप्त होंगे।



मां जगदम्बा का यह दूसरा रूप भक्तों और सिद्धों को अनंत फल देने वाला है। इनकी उपासना से मनुष्य में तप, त्याग, वैराग्य, सदाचार की वृद्धि होती है। मां ब्रह्मचारिणी की कृपा से सर्वत्र सिद्धि और विजय की प्राप्ति होती है और मनुष्य का मन कर्तव्य पथ से विचलित नहीं होता। मां सबके भण्डार भरती है। 

मां ब्रह्मचारिणी की उपासना करने का मंत्र बहुत ही आसान है। मां जगदम्बे की भक्ति पाने के लिए इसे कंठस्थ कर नवरात्रि में द्वितीय दिन इसका जाप करना चाहिए।

मंत्र इस प्रकार है:

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ ब्रह्मचारिणी रूपेण संस्थिता।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें