Breaking News
अक्षर पटेल और शार्दुल ठाकुर भी चोट के कारण एशिया कप से बाहर         ||           पाकिस्‍तान प्रधानमंत्री इमरान ने प्रधानमंत्री मोदी से शांति की अपील की         ||           हसन नसरुल्ला ने कहा अगली सूचना तक सीरिया में बना रहेगा हिज्बुल्ला         ||           कांग्रेस ने सीमा पर जवान के साथ दरिंदगी पर पूछा, 56 इंच का सीना और लाल आंख कहां हैं         ||           आज का दिन :         ||           अमेरिका ने कहा पाकिस्तानी आतंकी भारत में लगातार कर रहे हैं हमले         ||           हार्दिक पांड्या चोट के कारण एशिया कप से बाहर         ||           मोदी सरकार ने कई छोटी बचत योजनाओं में बढ़ाई ब्‍याज दरें         ||           मुख्तार अब्बास नकवी ने राहुल गांधी को पायरेटेड लैपटॉप बताया         ||           अनुराग कश्यप ने विवादित सीन्स पर सिख समुदाय से माफी मांगी         ||           डीके शिवकुमार ने भाजपा पर किया पलटवार, कहा मैं डरकर भागने वालों में से नहीं         ||           नवाज शरीफ और बेटी मरियम को इस्‍लामाबाद हाई कोर्ट ने दिया जेल से रिहा करने का आदेश         ||           सेंसेक्स 169 अंक की गिरावट पर बंद         ||           भाजपा ने कहा हवाला कारोबार से जुड़ी है कांग्रेस         ||           रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस ने वोट बैंक के लिए नहीं पास होने दिया तीन तलाक बिल         ||           आज का दिन :         ||           कांग्रेस ने तीन तलाक अध्यादेश पर लगाया राजनीति का आरोप         ||           मोदी सरकार ने तीन तलाक अध्यादेश को दी मंजूरी         ||           अर्जुन कपूर ने कहा दादी को लगता है परणीति मेरे लिए पर्फेक्ट दुल्हन है         ||           ममता बनर्जी ने कहा 2019 के लोकसभा चुनाव में देश क्रांति देखेगा         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> कनाडा के प्रधानमंत्री त्रुदो अगले माह भारत में-रिश्ते और मजबूत होंगे

कनाडा के प्रधानमंत्री त्रुदो अगले माह भारत में-रिश्ते और मजबूत होंगे


admin ,Vniindia.com | Tuesday January 23, 2018, 11:31:00 | Visits: 223







नई दिल्ली, 23 जनवरी (वीएनआई) कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन त्रुदो अगले माह भारत की यात्रा पर आ रहे है. श्री त्रुडो, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बुलावे पर 17 से 23 फरवरी तक भारत के राजकीय दौरे पर आ रहे हैं. उन की इस यात्रा को दोनो देशों के बीच आतंकवाद से निबटने, ऊर्जा तथा व्यापार आदि जैसे मुख्य क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने की दृ्ष्टि से खासा अहम माना जारहा है. दोनो देशो की तरफ से आज इस यात्रा की आधिकारिक तौर पर एक साथ घोषणा की गई.प्रधानमंत्री मोदी ने अप्रैल 2015 में कनाडा का द्विपक्षीय दौरा किया था. 



विदेश मंत्रालय ने जारी बयान में कहा कि  सुरक्षा तथा आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में तालमेल और आपसी हितों के वैश्विक एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान इस दौरे का मुख्य घटक होगा. मंत्रालय ने कहा, ‘‘इस दौरे का मुख्य उद्देश्य व्यापार एवं निवेश, ऊर्जा, विज्ञान एवं नवाचार, उच्च शिक्षा, ढांचागत विकास, कौशल विकास और अंतरिक्ष समेत आपसी हितों के मुख्य मुद्दों पर दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करना है.’’ मंत्रालय ने कहा कि दोनों देश लोकतंत्र, बहुलवाद, सभी के लिए समानता और कानूनी नियम जैसे मूल्यों पर आधारित रणनीतिक भागीदारी भी साझा करते हैं. कनाडा द्वारा जारी घोषणा के अनुसार दोनो ही देशो के बीच प्रगाढ् संबंध है, कनाडा इन रिश्तो को और मजबूत बनाने के लिये प्रतिबद्ध है, दोनो ही देशो के बीच अनेक समानताये है और दोनों ही विभिन्नता,लोकतंत्र, स्वतंत्रता तथा कानून के शासन के प्रति समर्पित है. 



इस अवसर पर भारत मे कनाडा के उच्चायुक्त नादिर पटेल ने कहा कि कनाडा भारत के साथ अपने रिश्तों को बहुत सम्मान देता है, यह यात्रा इस बात का प्रतीक है प्रधान मंत्री त्रुडो दोनो के बीच की सामरिक साझीदारी को कितना महत्व देते है, इस बात का पता इस बात से पता चलता है कि गत १८ महीनों मे त्रुडो सरकार के ११ केबीनेट मंत्री भारत यात्रा पर आ चुके है. श्री त्रुडो नई दिल्ली यात्रा के दौरान आगरा, अमृतसर, अहमदाबाद, मुबंई भी जायेंगे. वे इस यात्रा मे  वे ताजमहल के अलावाअमृतसर के हर्मिंदर साहिब, औरअहमदाबाद के अक्षरधाम मंदिर भी जायेंगे. उल्लेखनीय, है कि कनाडा भारत के सबसे बड़े यूरेनियम आपूर्तिकर्ताओं में से है तथा दोनों देशों के बीच परमाणु सहयोग संधि भी है.  नवंबर 2012 में कनाडा के तत्कालीन प्रधानमंत्री स्टीफन हार्पर के बाद अब तक वहां के किसी प्रधानमंत्री ने भारत का दौरा नहीं किया है.



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें