Breaking News
पत्रकार से नेता बने आशुतोष ने आम आदमी पार्टी से दिया इस्तीफा         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने लालकिले से सुनाई कविता, अंबर से ऊंचा जाना है         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा 2022 तक भारतीय यान से अंतरिक्ष में जाएगा हिन्दुस्तानी         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने लाल किले से कहा ये देश ना झुकेगा, ना रुकेगा और ना ही थकेगा         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा ईमानदार करदाताओं की वजह से गरीबों के पेट भर पाती है सरकार         ||           सेरेना ने सिनसिनाटी मास्टर्स में जीत से आगाज किया         ||           विशाल भारद्वाज की फिल्म का पोस्टर प्रियंका चोपड़ा ने शेयर किया         ||           'मौत'के बाद भी 'जिंदा' हुई एक नहर         ||           जाने, क्या है राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना         ||           भारतीय हॉकी टीम एशियन गेम्स 2018 के लिए जकार्ता रवाना हुई         ||           राहुल गाँधी ने रूपये में गिरावट को लेकर मोदी का पुराना वीडियो शेयर किया         ||           आज का दिन : अभिनेता शम्मी कपूर         ||           नीतीश ने 'एक देश-एक चुनाव' पर कहा यह संभव नहीं         ||           कांग्रेस की एकसाथ चुनाव पर प्रधानमंत्री मोदी को चुनौती         ||           एमके स्टालिन ने कहा अगर मेरे पिता को मरीना बीच पर दफनाने की जगह ना मिलती तो मर ही जाता         ||           सेंसेक्स 207 अंक की तेजी पर बंद         ||           चुनाव आयुक्त ने कहा बिना संशोधन के पूरे देश में संभव नहीं एक साथ चुनाव         ||           सरकार ने रुपये में ऐतिहासिक गिरावट के बाद कहा चिंता की कोई बात नहीं         ||           छत्तीसगढ़ के राज्यपाल बलरामदास टंडन का निधन         ||           कांग्रेस-विपक्ष ने रुपया 70 के पार जाने को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> बाबरी मामले के सभी याचिकाकर्ता सिब्बल के समर्थन में आए

बाबरी मामले के सभी याचिकाकर्ता सिब्बल के समर्थन में आए


admin ,Vniindia.com | Wednesday December 06, 2017, 09:33:00 | Visits: 107







नई दिल्ली, 6 दिसम्बर (वीएनआई)| बाबरी मस्जिद-रामजन्मभूमि मामले के सभी याचिकाकार्ताओं समेत सुन्नी वक्फ बोर्ड ने कहा है कि वे सर्वोच्च न्यायालय में इस मामले की सुनवाई जुलाई 2019 तक टालने के वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल द्वारा दाखिल याचिका का समर्थन करते हैं।  उनलोगों ने जोर देकर कहा कि हाजी महबूब न तो सुन्नी वक्फ बोर्ड के सदस्य हैं और न हीं वह किसी अधिकार से बोर्ड का प्रतिनिधित्व करते हैं। हाजी महबूब इस मामले में एक कई वादियों में से एक वादी हैं, जिसने बुधवार को सिब्बल की याचिका से असहमति जताई थी।



बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी के सदस्य जफरयाब जिलानी ने कहा, सर्वोच्च न्यायालय में कपिल सिब्बल साहेब ने जो कुछ भी कहा, वह सोच-विचार कर और हमें विश्वास में लेने के बाद कहा। हम उनके रुख का पूरा समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि यह महबूब का व्यक्तिगत विचार हो सकता है, लेकिन यह इस मामले से जुड़े किसी भी पक्ष का आधिकारिक रुख नहीं है। मामले में सुन्नी वक्फ बोर्ड के एक वकील शकील अहमद ने कहा, हाजी महबूब का उनके मुवक्किल से कोई संबंध नहीं है और वह सिर्फ एक अन्य वादी हैं। मामले के प्रमुख वादी और मुकदमे का खर्च वहन कर रहे ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड(एआईएमपीएलबी) ने भी कहा कि सिब्बल की याचिका सही है, जिसमें उन्होंने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव में राम मंदिर मुद्दे को भुना सकती है।



एआईएमपीएलबी के अध्यक्ष मौलाना वली रहमानी ने कहा, हम सर्वोच्च न्यायालय में कपिल सिब्बल की दलील से पूरी तरह सहमत हैं। मामले की सुनवाई 2019 के लोकसभा चुनाव तक टाल देनी चाहिए। सिब्बल ने मंगलवार को सर्वोच्च न्यायालय में बहस करते हुए प्रधान न्यायाधीश के समक्ष कहा कि बाबरी मस्जिद-रामजन्मभूमि मामले की सुनवाई जुलाई 2019 तक टाल देनी चाहिए। उन्होंने बहस के दौरान इस मुद्दे को भाजपा द्वारा राजनीतिकरण करने और वोट बैंक बनाने को आधार बनाकर इस मामले में अपना पक्ष रखा था। न्यायालय ने हालांकि दोनों पक्षों के तर्क सुनने के बाद याचिका खारिज कर दी और इस मामले की सुनवाई आठ फरवरी, 2018 से मुकर्रर कर दी। इस मामले के पहले पक्षकार हाशिम अंसारी के बेटे इकबाल अंसारी ने भी कहा कि उन्हें सिब्बल की दलील से कोई आपत्ति नहीं है।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें