Breaking News
कन्हैया कुमार ने कहा भाजपा मेरे खिलाफ मां दुर्गा का कर रही है इस्तेमाल         ||           दिवाली पर शर्तो के साथ बिकेंगे पटाखे         ||           पेट्रोल और डीजल आज फिर हुआ सस्ता         ||           विश्व चैंपियनशिप में पहलवान बजरंग को मिला रजत पदक         ||           भारत और पाकिस्‍तान के बीच डीजीएमओ स्‍तर की वार्ता आज         ||           त्रिपुरा में सड़क हादसे में 29 जवान घायल         ||           देश के शेयर बाज़ारो के शुरूआती कारोबार में गिरावट का असर         ||           छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री रमन सिंह को कांग्रेस की तरफ से अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी देंगी चुनौती         ||           राहुल गांधी ने कहा छत्तीसगढ़ के किसानों का कर्ज माफ करके रहूंगा         ||           आज का दिन : कादर खान         ||           सेंसेक्स 182 अंक की गिरावट पर बंद         ||           सर्वोच्च न्यायलय ने मी टू मामले पर तत्काल सुनवाई से किया इनकार         ||           अमृतसर रेल हादसे पर पुलिस कमिश्नर ने कहा जांच के लिए गठित की गई एसआईटी         ||           सर्वोच्च न्यायलय ने शादी के लिए पुरुष की उम्र 18 साल करने से किया इंकार         ||           मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली में पेट्रोल पंप मालिकों की हड़ताल को केंद्र प्रयोजित बताया         ||           राहुल गाँधी ने सीबीआई अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग के बीच प्रधानमंत्री मोदी पर बड़ा हमला बोला         ||           श्रीलंकाई स्पिनर रंगना हेराथ गॉल टेस्ट के बाद लेंगे संन्यास         ||           आतंकियों ने सुरक्षाबलों के ठिकाने पर हमला किया, एक जवान शहीद         ||           बाल यौन शोषण के पीड़ितों से ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने माफी मांगी         ||           पेट्रोल और डीजल लगातार पांचवें दिन फिर सस्ता हुआ         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> जेटली ने कहा नोटबंदी भारतीयों के खर्च के तरीके में बदलाव के लिए

जेटली ने कहा नोटबंदी भारतीयों के खर्च के तरीके में बदलाव के लिए


admin ,Vniindia.com | Tuesday November 07, 2017, 05:42:14 | Visits: 106







नई दिल्ली, 7 नवंबर (वीएनआई)| केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने काले धन पर अंकुश लगाने के लिए उठाए गए नोटबंदी के कदम का जोरदार बचाव करते हुए आज कहा कि नोटबंदी और ऐसे ही उठाए गए अन्य कदम यथास्थिति को भंग कर, भारत जिस तरह से खर्च करता है, उसमें बदलाव की प्रक्रिया को शुरू करने के लिए उठाए गए। 



इंडिया टुडे कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए जेटली ने कहा, नोटबंदी के अलावा अगर आप पिछले तीन-चार सालों में हमारे द्वारा उठाए गए कदम को देखें तो आप पाएंगे कि इस बात को प्रमुख रूप से उभारने में सफल रहे हैं कि भारत में वित्तीय लेनदेन कैसे किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारे पास यह सवाल था कि क्या हमें यथास्थितिवादी बनते हुए ज्यादा मात्रा में नकदी इस्तेमाल करने वाले समाज को सभी गड़बड़ियों के साथ पहले की तह चलने देते रहना चाहिए।



जेटली ने कहा कि उनके सामने यह प्रश्न था कि क्या यथास्थिति पर टिका जाए या फिर इस विश्वास के साथ कदम बढ़ाया जाए कि एक उभरते महत्वाकांक्षी राष्ट्र को खुद में परिवर्तन लाना होगा। रियल एस्टेट खरीदने के लिए आंशिक रूप से नकदी भुगतान करना या टैक्स से बचने के लिए कंपनियों द्वारा दो बैंक अकाउंट रखने की ओर इशारा करते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार ने जो उपाय किए उनके तीन उद्देश्य नकदी के इस्तेमाल में कमी, देश के कर आधार में वृद्धि और डिजिटल लेनदेन में बढ़ोतरी हैं।काले धन के खिलाफ उठाए गए कदम को सतच चलने वाली प्रक्रिया बताते हुए जेटली ने कहा कि तथ्य यह है कि नोटबंदी की यह सफलता है कि ज्यादातर प्रतिबंधित मुद्रा सिस्टम के पास वापस आ गई।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें