Breaking News
प्रकाश आंबेडकर ने दिया कांग्रेस-राकांपा संग गठबंधन का संकेत         ||           रोनाल्डो के गोल से फीफा विश्व कप में मोरक्को के खिलाफ जीता पुर्तगाल         ||           कांग्रेस ने कहा सरकार ने किसानों को एमएसपी पर धोखा दिया         ||           भाजपा ने कहा आईयूएमएल ने रोहित वेमुला के परिवार को धोखा दिया         ||           वित्तमंत्री जेटली ने कहा अरविंद सुब्रह्मण्यम का कार्यकाल नहीं बढ़ाया जाएगा         ||           सेंसेक्स 261 अंकों की तेजी पर बंद         ||           बॉबी देओल 'रेस-3' की सफलता से बेहद खुश हैं         ||           एंडी मरे को हराकर क्वींस क्लब के क्वार्टर फाइनल में किर्गियोस         ||           राजनाथ ने कहा जम्मू एवं कश्मीर से आतंकवादी संगठनों को मार भगाएंगे         ||           कुमारस्वामी ने कहा जुलाई में पूर्ण बजट पेश करूंगा         ||           मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने मदुरै में एम्स के लिए मोदी का आभार जताया         ||           प्रधानमंत्री मोदी झाबुआ की किसान महिलाओं से हुए मुखातिब         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा किसानों की आय बढ़ रही         ||           रेखा 20 साल बाद आईफा 2018 में लाइव परफॉर्म करेंगी         ||           दिनेश चंडीमल पर बॉल टेम्परिंग मामले में एक मैच का प्रतिबंध         ||           छत्तीसगढ़ के अतिरिक्त मुख्य सचिव का जम्मू एवं कश्मीर तबादला         ||           रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने शहीद औरंगजेब के परिवार से मुलाकात की         ||           नेपाल और चीन ने 2.24 अरब डॉलर के 8 समझौते किए         ||           दुनिया का सर्वश्रेष्ठ रेस्तरां इटली का ओस्टेरिया फ्रांसेस्काना         ||           जम्मू एवं कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> वाराणासी फ्लाईओवर हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हुई

वाराणासी फ्लाईओवर हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हुई


admin ,Vniindia.com | Wednesday May 16, 2018, 09:44:00 | Visits: 46







लखनऊ/वाराणसी, 16 मई (वीएनआई)| प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में बीते मंगलवार शाम को कैंट रेलवे स्टेशन के समीप निर्माणाधीन लाईओवर हादसे में मृतकों की संख्या 18 हो गई है। इस हादसे में तीन लोगों को जिंदा बचा लिया गया जबकि 30 अन्य घायल हुए हैं। 



इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी देर रात वाराणासी पहुंचकर हादसे की जानकारी ली और अधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी किया। योगी से पहले उनके निर्देश पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने नौ बजे शहर पहुंच कर दुर्घटनास्थल का जायजा लिया। उप मुख्यमंत्री मौर्य ने उप्र सेतु निगम के चार अभियंताओं को निलंबित कर दिया है। इनमें चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर एच सी तिवारी, प्राजेक्ट मैनेजर के आर सूदन, सहायक अभियंता राजेश सिंह और अवर अभियंता लालचंद शामिल हैं। हादसे की जांच के लिए तकनीकी टीम का गठन किया गया है। हालांकि हादसे के बाद बनारस पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सर्किट हाउस में कहा कि घटना में 15 लोगों की मौत हुई है और 11 घायल हैं। लेकिन देर रात मृतकों की संख्या 18 तक पहुंच गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस हादसे की हकीकत जानने के लिए तीन सदस्यीय तकनीकी टीम का गठन किया गया है। टीम की रिपोर्ट के बाद हादसे के जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की जाएगी। यह घटना बहुत दुखद है। उन्होंने बताया कि हादसे के बाद ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मुझसे जानकारी ली और इसके बाद मैंने उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य को यहां भेज दिया था। हमारी प्राथमिकता घायलों को बेहतर इलाज देने की है। मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये, गंभीर रूप से घायलों को दो-दो लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये की मदद की जा रही है।



गौरतलब है कि निर्माणाधीन चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर के दो बीम मंगलवार शाम सड़क पर गिर पड़े। बीम के नीचे महानगर सेवा की एक बस सहित दर्जन भर वाहन दब गए। बीम के नीचे दबे वाहनों को गैस कटर से काट कर सेना और एनडीआरएफ के जवानों ने 18 शव और 30 से अधिक घायलों को बाहर निकाला है। घायलों में से 14 की हालत गंभीर बताई गई है। हादसे के लगभग आधा घंटे बाद पुलिस पहुंची और तकरीबन डेढ़ घंटे बाद राहत और बचाव कार्य शुरू हुआ। रात 10 बजे राहत कार्य का पहला चरण समाप्त हो गया। इस दौरान देरी से राहत और बचाव कार्य शुरू होने के कारण भीड़ में मौजूद लोगों ने पुलिस-प्रशासन के विरोध में कई बार नारेबाजी की। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो लगभग साढ़े पांच बजे दो बीम गिरीं। एईएन कलोनी व आसपास के लोगों ने किनारे दबे लोगों को कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला। इसके बाद अंदर फंसे लोगों को निकालने में जुट गए। एनडीआरएफ के आने के बाद बचाव कार्य में तेजी आई। लगभग साढ़े सात बजे लोगों को निकाला जाना शुरू हुआ। 



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें