Breaking News
मुबंई इंडियंस ने जहीर खान को डॉयरेक्टर नियुक्त किया         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा चार साल पहले किसने सोचा था कांग्रेस नेताओ को सजा होगी         ||           अरुण जेटली ने कहा सरकार ने उर्ज‍ित पटेल से नहीं मांगा इस्‍तीफा         ||           कमलनाथ ने कहा पंचायत के काम के लिए कोई मंत्रालय के चक्कर लगाए, ये बर्दाश्त नहीं         ||           सज्जन कुमार ने राहुल गांधी को पत्र लिख कांग्रेस से दिया इस्तीफा         ||           अमित शाह ने कहा 1984 दंगों में कांग्रेस नेताओं ने किया महिलाओं से बलात्कार         ||           अमेरिका ने कहा सीरिया में रह सकते हैं असद         ||           यूपी विधानसभा का आज से शीतकालीन सत्र         ||           ऑस्ट्रेलिया ने भारत को दूसरे टेस्ट में 146 रन से हराकर सीरीज में बराबरी की         ||           राजधानी दिल्ली पर सर्दी का सितम, उत्तर भारत में अलर्ट जारी         ||           उमर अब्दुल्ला ने कहा इस हाल में मनोहर पर्रिकर से काम कराना अमानवीय         ||           कमलनाथ ने किसानों की कर्जमाफी से जुड़ी फाइल पर किया हस्ताक्षर         ||           कमलनाथ ने मध्‍य प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर ली शपथ         ||           मालदीव के राष्‍ट्रपति पहली विदेश यात्रा पर भारत पहुंचे         ||           लोकसभा में विपक्ष के हंगामा बीच तीन तलाक बिल पेश         ||           कांग्रेस ने कहा कमलनाथ दोषी तो मोदी भी दोषी         ||           जेटली ने कहा सिख दंगो में कांग्रेस के पाप छुप नहीं सकते         ||           पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़े         ||           राजस्थान में अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री और सचिन पायलट ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली         ||           कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को सिख विरोधी दंगों में उम्रकैद         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> हेराल्ड मामले मे भारी राजनैतिक गहमागहमी के बीच सोनिया, राहुल को कोर्ट ने'बिना शर्त' दी जमानत

हेराल्ड मामले मे भारी राजनैतिक गहमागहमी के बीच सोनिया, राहुल को कोर्ट ने'बिना शर्त' दी जमानत


Vniindia.com | Saturday December 19, 2015, 03:39:49 | Visits: 517







नयी दिल्ली,19 दिसंबर (अनुपमा जैन/वीएनआई) राजधानी मे आज भारी राजनैतिक गहमागहमी के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके बेटे व पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी को नेशनल हेराल्ड केश में पटियाला हाउस कोर्ट में 'बिना शर्त' जमानत दे दी गई.पंडित जवाहर लाल नेहरू द्वारा स्थापित नेशनल हेराल्ड अखबार को प्रकाशित करने वाली कंपनी की संपत्ति व शेयरों में कथित हेरफेर के मामले में भाजपा नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने अदालत में याचिका दायर की है. इस मामले मे कॉग्रेस नेताओ की पैरवी कर रहे कॉग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने िस फैसले के बाद कहा कि न्यायलय ने इस मामले में श्री सुब्रमण्यन स्वामी की यह दलील नामंजूर् कर दी कि उनका पासपोर्ट जब्त किया जाये क्योंकि दोनो विदेश जा सकते है ऐसे मे उन दोनो के विदेश जाने पर रोक लगाई जाये. अदालत ने दोनो को पचास हजार रूपये के मुचलके पर जमानत दी. इस मामले पर अगली सुनवाई २० फरवरी को होगी. श्री सिब्बल के अनुसार दोनो नेताओ ने २० फरवरी को मामले की आगे की सुनवाई के दौरान निजी तौर पर पेश नही होने से छूट नही मॉगी बाद मे कॉग्रेस न्यायाधीश ने मामले की सुनवाई शुरू होते ही कुछ ही मिनट मे उन्हे जमानत दे दी. श्री स्वामी द्वारा दोनो कॉग्रेस नेताओ के पासपोर्ट जब्त किये जाने पर कहा कि निश्चय ही यह खराब व्यझार था. दोनो समाज से जुड़ी विशिष्ट हस्तियॉ है. उनके पासपोर्ट जब्त किये जाने का तर्क देना बेहद खराब था . कॉग्रेस् की नेता अंबिका सोनी ने इस मामले को रजानीति से प्रेरित बदले की कार्यवाही बताया.
अदालत ने पिछले पखवाड़े सोनिया गांधी व राहुल गांधी को पेश होने का अादेश दिया था. उनकी पेशी इस मामले मे नये आये मजिस्ट्रेट लवलीन के समक्ष हुई. इससे पूर्व श्री सोनिया गांधी और उनके बेटे व पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी पटियाला हाउस कोर्ट से कुछ पहले ही कार से उतर गये और काफिले के साथ पैदल चल कर कोर्ट के अंदर गये. इस मौके पर बड़ी तादाद मे कॉग्रेस समर्थक मौजूद थे. इससे पूर्व दोपहर में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद के घर पर कांग्रेस नेताओं की बैठक हुई है, जिसमें प्रियंका गांधी भी मौजूद थीं. बैठक में अागे की रणनीति तय की गयी.कोंग्रेस्स अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका सहित लगभग सभी प्रमुख कांग्रेस नेता अदालत पहुंचे
इस पूरे मामले में सोनिया गांधी अपनी सास व पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नक्शे कदम पर खुद को चलते हुए दिखाने की कोशिश करती दिख रही हैं. ध्यान रहे कि 1977 में तत्कालीन मोराजी देसाई सरकार के कार्यकाल में इंदिरा गांधी की गिरफ्तारी हुई थी और उन्होंने जमानत लेने सेे इनकार कर एक रात जेल में रहने का निर्णय लिया था. इंदिरा ने इससे जबरदस्त राजनीतिक सहानुभूति हासिल की और सरकार में वापसी की.श्रीमति गांधी भी कह चुकी है कि वे श्रीमति इंदिरा गांधी की बहू है, वे किसी से नही डरती है
फैसले के बाद कांग्रेस मुख्यालय 24 अकबर रोड पर नेताओं व कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लग गया है ्जिनमे पूर्व प्रधान मंत्री मनमोहन सि भी है
सोनिया गांधी ने शुक्रवार को ही एलान कर दिया था कि वे अदालत में पेश होंगी. उन्होंने इसके पहले अपने पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं को कड़ी हिदायत दी कि उनके अदालत में जाने पर व्यवस्था बनी रहे और वे संयम दिखायें.्वी एन आई

Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें