Breaking News
प्रकाश आंबेडकर ने दिया कांग्रेस-राकांपा संग गठबंधन का संकेत         ||           रोनाल्डो के गोल से फीफा विश्व कप में मोरक्को के खिलाफ जीता पुर्तगाल         ||           कांग्रेस ने कहा सरकार ने किसानों को एमएसपी पर धोखा दिया         ||           भाजपा ने कहा आईयूएमएल ने रोहित वेमुला के परिवार को धोखा दिया         ||           वित्तमंत्री जेटली ने कहा अरविंद सुब्रह्मण्यम का कार्यकाल नहीं बढ़ाया जाएगा         ||           सेंसेक्स 261 अंकों की तेजी पर बंद         ||           बॉबी देओल 'रेस-3' की सफलता से बेहद खुश हैं         ||           एंडी मरे को हराकर क्वींस क्लब के क्वार्टर फाइनल में किर्गियोस         ||           राजनाथ ने कहा जम्मू एवं कश्मीर से आतंकवादी संगठनों को मार भगाएंगे         ||           कुमारस्वामी ने कहा जुलाई में पूर्ण बजट पेश करूंगा         ||           मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने मदुरै में एम्स के लिए मोदी का आभार जताया         ||           प्रधानमंत्री मोदी झाबुआ की किसान महिलाओं से हुए मुखातिब         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा किसानों की आय बढ़ रही         ||           रेखा 20 साल बाद आईफा 2018 में लाइव परफॉर्म करेंगी         ||           दिनेश चंडीमल पर बॉल टेम्परिंग मामले में एक मैच का प्रतिबंध         ||           छत्तीसगढ़ के अतिरिक्त मुख्य सचिव का जम्मू एवं कश्मीर तबादला         ||           रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने शहीद औरंगजेब के परिवार से मुलाकात की         ||           नेपाल और चीन ने 2.24 अरब डॉलर के 8 समझौते किए         ||           दुनिया का सर्वश्रेष्ठ रेस्तरां इटली का ओस्टेरिया फ्रांसेस्काना         ||           जम्मू एवं कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> अनोखे विधायक जो आज भी कर रहे हैं एक जोड़ी बैल के साथ खेती

अनोखे विधायक जो आज भी कर रहे हैं एक जोड़ी बैल के साथ खेती


Vniindia.com | Wednesday July 22, 2015, 07:39:11 | Visits: 915







नई दिल्ली 22 जुलाई (वीएनआई) चौकीदारी से लेकर पंचर बनाने तक सभी काम कर चुके वंशीधर बौद्ध जो बलहा (बहराईच,उ प्र) से विधायक है आज भी अपने हाथों से खेती करते है और अपने परिवार सहित बलहा विधानसभा क्षेत्र के नई बस्ती टेड़िया में खपरैल और फूस के मकान में रहते हैं

विधायक बनने के बाद भी भौतिक सुख सुविधाओं की चकाचौंध छोड़्कर वंशीधर को खेत में काम करने की न तो झिझक है न ही हल चलाने की। आज भी सदन पहुंचने के बावजूद उनकी दिनचर्या खेत की जोताई से शुरू होती है।

अल्लसुबह जब लोग घरों में सो रहे होते है तब वंशीधर बौद्ध एक जोड़ी बैल के साथ खेत में हल चला रहे होते हैं चूंकि इनके पास अपना ट्रैक्टर भी नहीं है इसलिए बैलों के सहारे पूरी खेती करते हैं, उसके बाद वे जनता के बीच पहुंचकर उनकी बात सुनते हैं।

वंशीधर बौद्ध के पास कारीकोट चहलवा में नौ बीघा जमीन है, जबकि घाघरा के कछार में 60 बीघा की खेती है, लेकिन वह खेती अस्थाई है और अनाज सिर्फ घर भर के लिये पैदा हो पाता है।

वंशीधर बौद्ध अपनी माटी को अपने सपनो तक पहुंचने की सीढी मानते हैं, वो मानते हैं कि माटी की सेवा से ही सदन मे पहुंचें है ,ऐसे में माटी को भूलने का कोई प्रश्न ही नही है|

Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें