Breaking News
प्रकाश आंबेडकर ने दिया कांग्रेस-राकांपा संग गठबंधन का संकेत         ||           रोनाल्डो के गोल से फीफा विश्व कप में मोरक्को के खिलाफ जीता पुर्तगाल         ||           कांग्रेस ने कहा सरकार ने किसानों को एमएसपी पर धोखा दिया         ||           भाजपा ने कहा आईयूएमएल ने रोहित वेमुला के परिवार को धोखा दिया         ||           वित्तमंत्री जेटली ने कहा अरविंद सुब्रह्मण्यम का कार्यकाल नहीं बढ़ाया जाएगा         ||           सेंसेक्स 261 अंकों की तेजी पर बंद         ||           बॉबी देओल 'रेस-3' की सफलता से बेहद खुश हैं         ||           एंडी मरे को हराकर क्वींस क्लब के क्वार्टर फाइनल में किर्गियोस         ||           राजनाथ ने कहा जम्मू एवं कश्मीर से आतंकवादी संगठनों को मार भगाएंगे         ||           कुमारस्वामी ने कहा जुलाई में पूर्ण बजट पेश करूंगा         ||           मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने मदुरै में एम्स के लिए मोदी का आभार जताया         ||           प्रधानमंत्री मोदी झाबुआ की किसान महिलाओं से हुए मुखातिब         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा किसानों की आय बढ़ रही         ||           रेखा 20 साल बाद आईफा 2018 में लाइव परफॉर्म करेंगी         ||           दिनेश चंडीमल पर बॉल टेम्परिंग मामले में एक मैच का प्रतिबंध         ||           छत्तीसगढ़ के अतिरिक्त मुख्य सचिव का जम्मू एवं कश्मीर तबादला         ||           रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने शहीद औरंगजेब के परिवार से मुलाकात की         ||           नेपाल और चीन ने 2.24 अरब डॉलर के 8 समझौते किए         ||           दुनिया का सर्वश्रेष्ठ रेस्तरां इटली का ओस्टेरिया फ्रांसेस्काना         ||           जम्मू एवं कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> एसओएल में पेपर लीक होने से डीयू प्रशासन का वर्गीय चरित्र जगजाहिर - केवाईएस

एसओएल में पेपर लीक होने से डीयू प्रशासन का वर्गीय चरित्र जगजाहिर - केवाईएस


Vniindia.com | Sunday May 31, 2015, 02:09:19 | Visits: 450







नई दिल्ली, 31 मई, (वीएनआई) क्रांतिकारी युवा संगठन ने एसओएल में पिछले दिनों बी.कॉम. फाइनल ईयर के 3 पेपर लगातार लीक होने पर दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन की कड़ी आलोचना की है| साथ ही उन्होंने कहा कि बुधवार को इकोनॉमिक्स, गुरुवार को बिज़नेस इंग्लिश, शुक्रवार को फाइनेंसियल मैनेजमेंट के पेपर लीक होना एसओएल प्रशासन के कुप्रबंधन और छात्रों के प्रति गैर-जिम्मेदारना व्यवहार दिखता है| एसओएल शिक्षण संस्थान के नाम पर मजाक बना हुआ है| यहाँ छात्रों को शिक्षा व ज्ञान के स्थान पर एडमिस्ट्रशन के आलस, कम क्लासेज, पीसीपी मेसेज में धांधली, आल रूट बस पास न होना जैसी समस्याओं से लेकर परीक्षा के समय डेट्स न क्लियर होना, एसओएल बिल्डिंग के कॉरिडोर में एग्जाम देना, एडमिट कार्ड न निकलना, रिजल्ट लेट आना इत्यादि समस्याएं झेलनी पड़ती है|

केवाईएस ने एसओएल में लगातार तीन दिन पेपर लीक होने पर आलोचना करते हुए कहा कि एसओएल की परीक्षाओं में पेपर लीक हुए परन्तु दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन ने कोई कदम नहीं उठाया| साथ ही संगठन ने आरोप लगाते हुए बताया कि इससे मानव संसाधन मंत्रालय और दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन के वर्गीय चरित्र का पता चलता है जिसे गरीब परिवारों से आने वाले 4 लाख छात्रों के भविष्य से कोई मतलब नहीं है|

केवाईएस ने बताया कि स्कूल ऑफ़ ओपन लर्निंग के छात्रों को साल में 10 दिन से भी कम क्लासे मिलने के कारण एसओएल के कोर्सों की मार्किट वैल्यू बेहद कम है| रेगुलर कॉलेज में सीबीसीएस के आने के कारण और पेपर लीक जैसे घटनाओं के कारण एसओएल के कॉरेस्पोंडेंस छात्रों के कोर्सों का वैल्यू और गिरेगा|

Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें