Breaking News
अभिनेता श्याम के जन्मदिन पर         ||           मोरक्को के साथ रेल सहयोग समझौते को केंद्रीय मंत्रिमंडल की मंजूरी         ||           आज का दिन :         ||           राशिद की बदौलत अफगानिस्तान ने 4-1 से जीती सीरीज         ||           अग्नि 2 मिसाइल का भारत ने परीक्षण किया         ||           सीबीआई की पीएनबी घोटाले में पूछताछ जारी         ||           जम्मू एवं कश्मीर में हल्के भूकंप के झटके         ||           तेजस्वी ने नीतीश की जापान यात्रा पर कसा तंज         ||           आप और भाजपा में दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ 'बदसलूकी' पर तकरार         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने अरुणाचल, मिजोरम को स्थापना दिवस की बधाई दी         ||           भारतीय हॉकी टीम की सुल्तान अजलान शाह कप के लिए घोषणा         ||           ऋचा चड्ढा ने कहा मैं फिल्म की क्षमता के आधार पर ही हामी भरती हूं         ||           हरदीप पुरी ने कहा स्मार्ट सिटीज योजना देश के शहरों में बदलाव की शुरुआत         ||           बाहुबली महामस्तकाभिषेक के प्रथम कलश की अलौकिक अनुभूति और जन कल्याण...         ||           शीर्ष न्यायालय पीएनबी घोटाले में बैंक उच्च अधिकारियों की भूमिका पर करेगा सुनवाई         ||           सीबीआई की रोटोमैक मामले में छापेमारी जारी         ||           पेरू के पूर्व राष्ट्रपति पर फिर चलेगा मुकदमा         ||           राजधानी दिल्ली में सुबह हल्का कोहरा छाया         ||           शेयर बाजार हरे निशान पर खुले         ||           मिस्र को इजरायल का गैस निर्यात के लिए करार         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> भारत से गहरे रिश्ते चाहते हैं वैश्विक प्रवासी संगठन

भारत से गहरे रिश्ते चाहते हैं वैश्विक प्रवासी संगठन


Vniindia.com | Thursday March 10, 2016, 04:50:00 | Visits: 466







वाशिंगटन, 10 मार्च (वीएनआई)। भारतीय मूल के प्रवासियों के वैश्विक संगठन (जीओपीआईओ) भारतीय मूल के उद्यमियों और व्यापारियों से भारत में निवेश करवाने के प्रयास में जुटा हुआ है। प्रवासी संगठन ने बताया, "भारत में निवेश और व्यापार के अनुकूल सरकार के साथ हमें प्रवासियों के लिए काफी अवसर दिख रहे हैं। हम भारत के विकास में भागीदार बनना चाहते हैं।" जीओपीआईओ के कार्यकारी उपाध्यक्ष नोएललाल ने कहा कि उनका संगठन दुनिया के सभी देशों में जहां भी प्रवासी भारतीय हैं, जाकर उन्हें भारत में निवेश के लिए प्रोत्साहित करेगा। संगठन के उपाध्यक्ष राम गाधावी ने गुजराती मूल के प्रवासी भारतीय लेखकों को अमेरिका में एकजुट किया था। अब वे वैश्विक जीओपीआईओ के मंच पर दुनिया के सभी प्रवासी भारतीय लेखकों को एक साथ लाना चाहते हैं। जीओपीआईओ के संस्थापक अध्यक्ष थॉमस अब्राहम जो इस जीओपीआईओ फाउंडेशन के ट्रस्टी भी हैं, ने कहा कि संगठन भारत और उन देशों में जहां प्रवासी भारतीय हैं, अपनी सामाजिक और कल्याणकारी गतिविधियां बढ़ाएंगी। इस संगठन का गठन 1989 में दुनिया भर के प्रवासी भारतीय लोगों के हितों को बढ़ावा देने के लिए किया गया था। इस संगठन के दुनिया के 24 देशों में 65 चेप्टर हैं और 200 आजीवन सदस्य हैं।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें