Breaking News
पांड्या और कार्तिक विश्व एकादश की टीम का हिस्सा होंगे         ||           केशव मौर्य ने कहा विपक्षियों को सता रहा प्रधानमंत्री मोदी का डर         ||           अभिनेता श्याम की पुण्य तिथि पर         ||           आज का दिन :         ||           प्रधानमंत्री मोदी कर्नाटक के भाजपा उम्मीदवारों से संवाद करेंगे         ||           सेंसेक्स 115 अंकों की गिरावट पर बंद         ||           भारत और मंगोलिया व्यापार बढ़ाने, आतंकवाद से मिलकर मुकाबला करने पर सहमत         ||           सिद्धार्थ कौल को आईपीएल-11 में आचार संहिता के उल्लंघन पर फटकार         ||           2013 दुष्कर्म मामले में आसाराम बापू को उम्रकैद की सजा         ||           ब्रावो ने कहा हमें कैरिबियाई लोगों की मदद करने का मौका नहीं दिया गया         ||           जयवर्धने ने कहा किसी ने भी जिम्मेदारी नहीं ली         ||           भारत ने कहा धन की कमी के कारण संयुक्त राष्ट्र के शांति निर्माण प्रयासों में रुकावट         ||           फिल्म 'नमस्ते इंग्लैंड' का नया पोस्टर रिलीज         ||           सलमान खान ने कश्मीर में महबूबा मुफ्ती से मुलाकात की         ||           असम मंत्रिमंडल में 6 नए चेहरे शामिल होने की संभावना         ||           दुष्कर्म मामले में आसाराम बापू दोषी करार         ||           राजधानी दिल्ली में धूपभरी सुबह         ||           उप्र में तेज धूप निकलने से तापमान में वृद्धि         ||           शेयर बाजार लाल निशान पर खुले         ||           ईरान की परमाणु अप्रसार संधि तोड़ने की धमकी         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> पेट से जुड़े सर के साथ पैदा हुई दुहमुही बच्ची जटिल ऑपरेशन के बाद अब हो रही है ठीक,जल्द सुनाई देगी उसकी किलकारियॉ

पेट से जुड़े सर के साथ पैदा हुई दुहमुही बच्ची जटिल ऑपरेशन के बाद अब हो रही है ठीक,जल्द सुनाई देगी उसकी किलकारियॉ


user1 ,Vniindia.com | Tuesday May 02, 2017, 04:29:24 | Visits: 674







जयपुर,3 मई (वी एन आई) जयपुर के एक अस्पताल के डॉक्टरों ने और दो सर के साथ पैदा हुई दुधमुंही बच्ची का दुर्लभ ऑप्रेशन करके उसे ही नहीं बल्कि उसके परिवार वालों को भी एक नयी जिंदगी दे दी।ऑप्रेशन के बाद अब यह 6 दिन की बच्ची अब ठीक हो रही है तथा स्वस्थ है
जेके लोन हॉस्पिटल के शिशु रोग सर्जरी के विशेषज्ञ, प्रोफेसर डां. प्रवीण माथुर की टीम ने यह जटिल ऑप्रेशन किया जो 5 घंटों तक चला। बच्ची का एक अतिरिक्त हाथ भी गर्दन के पास निकला हुआ था और इसे भी ऑप्रेशन से हटा दिया गया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बच्ची की माँ भीलवाड़ा के जहाजपुर की रहने वाली है और जहाजपुर में ही इसने 26 अप्रैल को इस बच्ची को जन्म दिया था। इस बच्ची का जन्म भी इतना आसान नहीं था और डॉक्टरों को इस डिलेवरी के लिए काफी मशक्क्त करनी पड़ी थी।
पैरासिटिक ट्विन्स की श्रेणी में आने वाला यह केस दुनिया में एक-दो मिलियन बच्चों में से किसी एक में ही मुश्किल से ही दिखाई देता है। ऐसे केस में बच्चे के बचने की संभावना काफी कम या यूं कहें की लगभग न के बराबर होती है।
डॉक्टर प्रवीण माथुर ने बताया कि यह केस पहले प्रोफेसर रेडियोलॉजी डॉ. राजकुमार यादव की देखरेख में रखा गया। वहां एक्स रे और सिटी स्कैन के बाद यह पता चला कि धड़ से जुड़े सर में खून की आपूर्ति हार्ट और लीवर से हो रही थी। यह सर भी पूरी तरह से जिन्दा था और काम कर रहा था।



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें