Breaking News
प्रोफ़ेसर सतीश धवन         ||           राहुल गाँधी ने राफेल को लेकर मोदी पर फिर बोला हमला, कहा मोदीजी मुझसे आंख ना मिला सके         ||           सेंसेक्स 347 अंक की तेजी पर बंद         ||           सुप्रीम कोर्ट ने दागी नेताओं के फैसले पर कहा संसद कानून बनाए         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा जितना कीचड़ उछालोगे, उतना कमल खिलेगा         ||           आज का दिन :         ||           आईआईटी रुड़की के 35 छात्र हिमाचल में ट्रैकिंग के दौरान लापता         ||           डोनाल्ड ट्रंप ने कहा मैं भारत से प्यार करता हूं, मोदी मेरे मित्र         ||           भाजपा ने नोबेल शांति पुरस्कार के लिए प्रधानमंत्री मोदी के नाम की शुरू की मुहिम         ||           पेट्रोल-डीजल के दाम आज फिर बढ़े         ||           देश के शेयर बाज़ारो के शुरूआती कारोबार में गिरावट का असर         ||           आज का दिन:         ||           भाजपा ने राहुल गांधी पर पाकिस्तान कनेक्शन का आरोप लगाया         ||           राहुल गांधी ने कहा चौकीदार ने अनिल अंबानी से चोरी करवाई         ||           बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष विस्वनाथ दत्त का निधन         ||           मध्य प्रदेश में पद्मा शुक्ला ने भाजपा से इस्तीफा         ||           राहुल गांधी आज से दो दिवसीय अमेठी दौरे पर हैं         ||           प्रधानमंत्री मोदी आज सिक्किम के पहले एयरपोर्ट का करेंगे उद्घाटन         ||           देश के शेयर बाज़ारो के शुरूआती कारोबार में गिरावट का असर         ||           शिखर धवन और रोहित शर्मा ने जड़ा शतक, भारत ने पाकिस्तान को दूसरी बार एशिया कप में हराया         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> चित्रकार नन्दलाल बोस की पुण्य तिथि पर

चित्रकार नन्दलाल बोस की पुण्य तिथि पर


admin ,Vniindia.com | Monday April 16, 2018, 05:21:42 | Visits: 122







खास बातें


1 चित्रकार नन्दलाल बोस की पुण्य तिथि पर

सुनील कुमार ,वी एन  आई ,नयी  दिल्ली 16 -04-2018



 



 



नंदलाल बोस का  जन्म: 3 दिसम्बर, 1882 को   मुंगेर   में  हुआ ;निधन  16 अप्रैल, 1966  को कोलकोता  में  हुआ  वे जाने  माने  चित्रकार थे। नंदलाल बोस ने संविधान की मूल प्रति का डिजाइन बनाया था। इनके प्रसिद्ध चित्रों में है--'डांडी मार्च', 'संथाली कन्या', 'सती का देह त्याग' इत्यादि है। नंदलाल बोस ने चित्रकारों और कला अध्यापन के अतिरिक्त इन्होंने तीन पुस्तिकाएँ भी लिखीं-रूपावली, शिल्पकला और शिल्प चर्चा। ये अवनीन्द्रनाथ ठाकुर के प्रख्यात शिष्य थे।



अपनी  पेंटिंग्स  में वे   इंडियन  स्टाइल  के  लिए  जाने  जाते  थे! उन्होंने  कला भवन,शांतिनिकेतन   में  प्रिंसिपल   के  रूप  में  भी कार्य  किया !



 



 



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें