Breaking News
प्रधानमंत्री मोदी ने सर्वदलीय बैठक में कहा हर मुद्दे पर चर्चा करेंगे, कांग्रेस की राफेल डील पर चर्चा की मांग         ||           उपेंद्र कुशवाहा ने एनडीए का साथ छोड़ते हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल से दिया इस्तीफा         ||           डीएमके अध्यक्ष स्टालिन दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल से मुलाकात की         ||           ऑस्ट्रेलिया के संघर्ष पर आश्विन की फिरकी ने फेरा पानी, भारत ने पहला टेस्ट 31 रन से जीता         ||           भारत ने सार्क सम्मेलन में पीओके मंत्री के विरोध में किया वॉक आउट         ||           दिल्ली के मयूर विहार में बाइक सवार की गोली मारकर हत्या         ||           राजधानी दिल्ली में धुंध की चादर की बीच प्रदूषण का प्रकोप जारी         ||           कटासराज मंदिर के लिए भारत से 139 श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान रवाना         ||           रामदास आठवले ने कहा कार्यक्रम में सुरक्षा इंतजाम नहीं थे पर्याप्त         ||           ब्राजील में बैंक लूट के प्रयास में 14 लोगो की मौत         ||           टीएमसी कार्यकर्ताओं ने भाजपा की रैली के बाद गंगाजल से मैदान का शुद्धिकरण किया         ||           पेट्रोल-डीजल फिर सस्ता हुआ         ||           श्रीनगर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में पांच जवान घायल, दो आतंकी ढेर         ||           जीतू फौजी........         ||           आज का दिन :         ||           new Chief economic adviser         ||           आज का दिन :         ||           पंश्चिम बंगाल में बी.जे.पी की रथ यात्रा         ||           अश्विन .... विन... विन         ||           ज्वाला गुट्टा वोट नहीं डाल पाईं         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> चित्रकार नन्दलाल बोस की पुण्य तिथि पर

चित्रकार नन्दलाल बोस की पुण्य तिथि पर


admin ,Vniindia.com | Monday April 16, 2018, 05:21:42 | Visits: 183







खास बातें


1 चित्रकार नन्दलाल बोस की पुण्य तिथि पर

सुनील कुमार ,वी एन  आई ,नयी  दिल्ली 16 -04-2018



 



 



नंदलाल बोस का  जन्म: 3 दिसम्बर, 1882 को   मुंगेर   में  हुआ ;निधन  16 अप्रैल, 1966  को कोलकोता  में  हुआ  वे जाने  माने  चित्रकार थे। नंदलाल बोस ने संविधान की मूल प्रति का डिजाइन बनाया था। इनके प्रसिद्ध चित्रों में है--'डांडी मार्च', 'संथाली कन्या', 'सती का देह त्याग' इत्यादि है। नंदलाल बोस ने चित्रकारों और कला अध्यापन के अतिरिक्त इन्होंने तीन पुस्तिकाएँ भी लिखीं-रूपावली, शिल्पकला और शिल्प चर्चा। ये अवनीन्द्रनाथ ठाकुर के प्रख्यात शिष्य थे।



अपनी  पेंटिंग्स  में वे   इंडियन  स्टाइल  के  लिए  जाने  जाते  थे! उन्होंने  कला भवन,शांतिनिकेतन   में  प्रिंसिपल   के  रूप  में  भी कार्य  किया !



 



 



Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें