Breaking News
राहुल गाँधी ने कहा प्रधानमंत्री जब भी विदेश दौरे पर जाएं, नीरव को वापस लेते आएं         ||           आप पार्टी ने कहा हमारे नेताओं, कार्यकर्ताओं से मार-पीट की गई         ||           कोहली ने आईसीसी की टेस्ट और वनडे रैंकिंग में पार किए 900 अंक         ||           विवेक अग्निहोत्री की 'द ताशकंद फाइल्स' की शूटिंग दिल्ली में         ||           दिल्ली के उपराज्यपाल से केंद्र ने रपट मांगी         ||           भारत सेंचुरियन टी-20 में सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा         ||           राजनाथ ने कहा दिल्ली के मुख्य सचिव पर कथित हमले से 'गहरी पीड़ा' हुई         ||           सेंसेक्स 71 अंकों की गिरावट पर बंद         ||           अभिनेता श्याम के जन्मदिन पर         ||           मोरक्को के साथ रेल सहयोग समझौते को केंद्रीय मंत्रिमंडल की मंजूरी         ||           आज का दिन :         ||           राशिद की बदौलत अफगानिस्तान ने 4-1 से जीती सीरीज         ||           अग्नि 2 मिसाइल का भारत ने परीक्षण किया         ||           सीबीआई की पीएनबी घोटाले में पूछताछ जारी         ||           जम्मू एवं कश्मीर में हल्के भूकंप के झटके         ||           तेजस्वी ने नीतीश की जापान यात्रा पर कसा तंज         ||           आप और भाजपा में दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ 'बदसलूकी' पर तकरार         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने अरुणाचल, मिजोरम को स्थापना दिवस की बधाई दी         ||           भारतीय हॉकी टीम की सुल्तान अजलान शाह कप के लिए घोषणा         ||           ऋचा चड्ढा ने कहा मैं फिल्म की क्षमता के आधार पर ही हामी भरती हूं         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> देश-भक्ति की लौ

देश-भक्ति की लौ


admin ,Vniindia.com | Saturday August 12, 2017, 03:52:08 | Visits: 211







खास बातें


1 देश-भक्ति की लौ

   नयी  दिल्ली 12-08-2017,सुनील कुमार ,वी एन  आई



 



वो  शहीद ,अपनी   शहादत  पर



लोगों    की  आँखों   में  आंसू  नहीं



एक  आग  देखना   चाहता  था,



वो  आग जो  हर  नौजवान  के दिल



में देश  भक्ति  की  लौ  जला  सके!



 



   वो जांबाज़ कुछ  देर   और



किसी   गोली का  निशाना 



नहीं    बनना  चाहता था



ताकि  20 ,30   को  नहीं



वो   दुश्मन के    कई    जथ्थों  को



 मौत  की  नींद  सुला सके        



 



 क्या  अजीब    जज्बा  था  उस जांबाज़  का



   वो   जंग के  मैदान  में जाना    चाहता था



 ताकि शहीदों  में   अपना नाम  लिखवा सके



 और तिरंगे    में  लिपटा  अपने गाँव 



वापस आ  सके     



 



 



 



 



Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें