Breaking News
मायावती ने कहा भाजपा सरकार के दलित-विरोधी रवैये का परिणाम है कालपी की घटना         ||           कांग्रेस ने बीएचयू मामले में मोदी-योगी का पुतला फूंका, सिर मुंड़ाया         ||           मोदी और शाह ने बीएचयू की घटना पर योगी से बात की         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा भ्रष्टाचार के विरुद्ध लड़ाई जारी, मेरा कोई रिश्तेदार नहीं         ||           बीएचयू मामले में सपाई गिरफ्तार, अखिलेश ने कहा 'डंडे मातरम'         ||           चोटिल एश्टन भारत के खिलाफ जारी वनडे सीरीज से बाहर हुए         ||           भारतीय बास्केट में कच्चे तेल की कीमत 55.77 डॉलर प्रति बैरल         ||           सेंसेक्स 296 अंकों की गिरावट पर बंद         ||           भारत दौरे के लिए न्यूजीलैंड टीम की घोषणा, नीशम और ब्रूम बाहर         ||           बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अर्थव्यवस्था की प्रशंसा की, राहुल गाँधी पर बोला हमला         ||           नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक रूप में राजीव महर्षि ने शपथ ली         ||           पीवी सिंधु पद्म भूषण, पहलवान जाधव पद्म श्री के लिए नामांकित         ||           आज का दिन :         ||           अंतर्राष्ट्रीय संसदों को पत्र भेजकर उत्तर कोरिया ने डोनाल्ड ट्रंप की निंदा की         ||           डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया सहित 8 देशों पर यात्रा प्रतिबंध लगाया         ||           पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पाकिस्तान लौटे         ||           तृणमूल से मुकुल रॉय 6 साल के लिए निलंबित         ||           मुकुल रॉय ने तृणमूल कांग्रेस छोड़ने का ऐलान किया         ||           कांग्रेस ने बीएचयू हिंसा पर मोदी की चुप्पी पर उठाए सवाल         ||           मुलायम ने कहा अखिलेश मेरा बेटा है, लेकिन उसके निर्णयों से सहमत नहीं         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> 'जानलेवा जिका विषाणु ' के अमरीकी क्षेत्र में40 लाख लोगो के संक्रमित होने की आशंका -भारत में सतर्कता

'जानलेवा जिका विषाणु ' के अमरीकी क्षेत्र में40 लाख लोगो के संक्रमित होने की आशंका -भारत में सतर्कता


Vniindia.com | Friday January 29, 2016, 11:57:56 | Visits: 423







जिनेवा, 29 जनवरी अनुपमा जैन(वीएनआई)जानलेवा जिका विषाणु के दुनिया भर में फैलाने के खतरे के मद्देनजर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने रोग से बचने के लिए सतर्कता बरतने केसलाह दे है साथ ही आगाह किया कि जिका विषाणु ‘भयानक तरीके से' अमेरिकी देशों में फैल रहा है और 40 लाख तक लोगों को संक्रमित कर सकता है. संगठन ने साथ ही भारत सहित उन सभी देशों को एक चेतावनी जारी की जहां ऐडीज मच्छरों के वाहक पाए जाते हैं जो डेंगू और चिकुनगुनिया को भी जन्म देते हैं. ऐडीज ऐगिपटाए मच्छर जिका विषाणु को जन्म देते हैं जो डेंगू और चिकुनगुनिया भी फैलाता है. दोनों ही बीमारियां भारत जैसे उष्णकटिबंधीय देशों के लिए बडी सार्वजनिक स्वास्थ्य समस्याएं हैं. दुनिया भर में इस बीमारी से निबटने के बारेमे युद्ध स्तर पर कदम उठाये जा रहे है और सावधानी बरतने के निर्देश जारीकिये जा रहे है
जिका का प्रकोप पिछले साल ब्राजील से शुरू हुआ और 24 अमेरिकी देशों में फैल चुका है. जिका जन्म दोष और माइक्रोसेफली जैसी मस्तिष्क संबंधी विकारों के लिए जिम्मेदार है. माइक्रोसेफली के कारण बच्चे असामान्य रूप से छोटे सिर के साथ पैदा होते हैं. इसी बीच डब्ल्यूएचओ प्रमुख मार्गरेट चान ने आज कहा कि जन्म दोष में तेजी से बढोतरी के लिए जिम्मेदार कहा जा रहा ‘जिका' वायरस भयावह ढंग से फैल रहा है. अमरीका ने भी अपने देश की विशेष तौर पर गर्भाती स्त्रियों को संक्रमण वाले देशो में नहीं जाने की सलाह दीहै . इसी बीच भारतीय मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने भी भारत में गर्भवती महिलाओं को उन देशों की यात्रा करने से परहेज करना चाहिए जहां मच्छरों से होने वाले जिका वायरस की आशंका है. जिका वायरस से माइक्रोसेफाली नामक बीमारी होती है. इस शब्द का अर्थ है छोटा दिमाग. इस बीमारी में दिमाग पूर्ण रूप से विकसित नहीं हो पाता है. आईएमए ने कहा कि जिन महिलाओं ने ऐसी यात्राएं की हैं और उसमें जिका बीमारी के लक्षण जैसे बुखार, रैशेज, मांसपेशियों पर दर्द आदि दिख रहे हों तो उन्हें यात्रा के दौरान या फिर दो सप्ताह के भीतर वायरस की जांच करा लेनी चाहिए.
सुश्री मार्गरेट ने कहा, ‘जिका अब भयावह ढंग से फैल रहा है. अलार्म का स्तर बहुत अधिक है.' डब्ल्यूएचओ का अनुमान है कि अमेरिकी देशों में जिका के 30 से 40 लाख मामले हो सकते हैं. इसी बीच अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने कहा कि वह ब्राजील के रियो ड जेनेरियो में इस साल होने वाले ओलंपिक खेलों से पहले सभी राष्ट्रीय ओलंपिक संघों को जिका से निपटने की सलाह देगा. आईओसी के अध्यक्ष थॉमस बाक ने कहा कि समिति मच्छर जनित विषाणु को लेकर ब्राजीली अधिकारियों और डब्ल्यूएचओ के साथ ‘करीबी संपर्क' में है.वी एन आई

Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें