Breaking News
प. बंगाल में सांतरागाछी रेलवे स्टेशन पर भगदड़ से 2 लोगो की मौत         ||           योगी आदित्यनाथ ने कहा देश में आपदा आती है तो इटली भाग जाते हैं राहुल गांधी         ||           आज का दिन : तुलसी दास जी         ||           जम्मू कश्मीर के पुंछ सेक्टर में सेना के ब्रिगेड हेडक्वार्टर में धमाका         ||           सेंसेक्स 287 अंक की गिरावट पर बंद         ||           रमन सिंह ने योगी आदित्यनाथ के पैर छूकर भरा पर्चा         ||           मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास की बढ़ेगी सुरक्षा         ||           कन्हैया कुमार ने कहा भाजपा मेरे खिलाफ मां दुर्गा का कर रही है इस्तेमाल         ||           दिवाली पर शर्तो के साथ बिकेंगे पटाखे         ||           पेट्रोल और डीजल आज फिर हुआ सस्ता         ||           विश्व चैंपियनशिप में पहलवान बजरंग को मिला रजत पदक         ||           भारत और पाकिस्‍तान के बीच डीजीएमओ स्‍तर की वार्ता आज         ||           त्रिपुरा में सड़क हादसे में 29 जवान घायल         ||           देश के शेयर बाज़ारो के शुरूआती कारोबार में गिरावट का असर         ||           छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री रमन सिंह को कांग्रेस की तरफ से अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी देंगी चुनौती         ||           राहुल गांधी ने कहा छत्तीसगढ़ के किसानों का कर्ज माफ करके रहूंगा         ||           आज का दिन : कादर खान         ||           सेंसेक्स 182 अंक की गिरावट पर बंद         ||           सर्वोच्च न्यायलय ने मी टू मामले पर तत्काल सुनवाई से किया इनकार         ||           अमृतसर रेल हादसे पर पुलिस कमिश्नर ने कहा जांच के लिए गठित की गई एसआईटी         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> पाकिस्तान से वापस लिया जा सकता है 'सर्वाधिक पसंदीदा देश‘का दर्जा

पाकिस्तान से वापस लिया जा सकता है 'सर्वाधिक पसंदीदा देश‘का दर्जा


Vniindia.com | Tuesday September 27, 2016, 02:56:37 | Visits: 384







नयी दिल्ली,27 सितंबर ( शोभनाजैन/वीएनआई) उरी के कायराना आतंकी हमले के बाद कल पाकिस्तान के साथ हुई सिंधु जल संधि पर भी कड़ा रुख अख्तियार करने के बाद आज भारत की ओर से इस बात के संकेत दिये गये हैं कि वह पाकिस्तान को इकतरफा तौर दिया गया 'सर्वाधिक पसंदीदा देश‘(मोस्ट फेवरेट नेशन) का दर्जा छीन सकता है. इसके लिए प्रधानमंत्री ने आगामी २९ सितंबर को इस मामले पर विचार करने केलिये विदेश मंत्रालय और वाणिज्य मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक करने वाले हैं. गौरतलब है कि ड्ब्ल्यु टी ओ की अंतर राष्ट्रीय संधि के बाद १९९६ मे ही पाकिस्तान को यह दर्जा दे दिया था हालांकि पाकिस्तान ने उसे अब तक यह दर्जा नही दिया है अगर भारत ने यह कदम उठाया तो पाकिस्तान परेशानी में पड़ सकता है.भारत ने पाकिस्तान को इकतरफा तौर पर व्यापार के 'सर्वाधिक पसंदीदा देश‘यह दर्जा दिया था हुआ है. जिसके तहत उसके साथ अधिकतम व्यापार किया जाता है और उसे टैरिफ में काफी छूट भी दी जाती है.उरी की आतंकी हमले मे पाकिस्तान््का सीधा हाथ होने के सबूतो के बाद यह मॉग जोर से उठ रही है कि आब समय आ गया है कि पाकिस्तान के खिलाफ आर्थिक, राजनयिक मोर्चो पर करारा जबाव देने के साथ सीमित सैन्य विकल्पो पर विचार किया जाये

गौरतलब है कि कल सिंधु जल संधि पर भी कड़ा रुख अख्तियार करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि खून और पानी साथ-साथ नहीं बह सकते. सिंधु जल संधि को लेकर हुई बैठक में सिंधु जल संधि को लेकर हुई बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, विदेश सचिव, जल संसाधन सचिव और प्रधानमंत्री कार्यालय के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद. बैठक में यह तय हुआ कि भारत सिंधु, चेनाव और झेलम नदियों की अधिकतम क्षमता का दोहन करेगा.
एसोचेम के अनुसार भारत के कुल ६४१ अरब डॉलर के व्यापार मे पाकिस्तान की हिस्सेदारी मात्र २.६७ अरब डॉलर ही है.वी एन आई

Latest News



Latest Videos



कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें