Breaking News
आज का दिन :         ||           रविशंकर प्रसाद ने कहा आतंक और कट्टरता के लिए न हो सोशल मीडिया का इस्तेमाल         ||           रानिल विक्रमसिंघे ने कहा पारदर्शिता साइबर स्पेस का अभिन्न अंग         ||           नागपुर टेस्ट में एक बार फिर पिच के तेज गेंदबाजों के अनुकूल होने की उम्मीद         ||           सेंसेक्स 27 अंकों की तेजी पर बंद         ||           फिल्म 'पद्मावती' को ब्रिटेन में 1 दिसंबर को रिलीज करने की मंजूरी         ||           एशेज टेस्ट में विंस और स्टोनमैन के अर्धशतकों के बाद आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों की वापसी         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने श्रीलंका के प्रधानमंत्री से मुलाकात की         ||           राष्ट्रपति कोविंद ने दिवालियापन संहिता अध्यादेश को दी मंजूरी         ||           भारतीय बास्केट में कच्चे तेल की कीमत 61.54 डॉलर प्रति बैरल         ||           पीवी सिंधु हांगकांग ओपन के क्वार्टर फाइनल में         ||           अब गुजरात विधानसभा चुनाव में होगी 'मन की बात, चाय के साथ'         ||           उप्र के अल्पसंख्यक मंत्री मोहसिन रजा का निकाह पंजीकरण रद्द         ||           प्रधानमंत्री मोदी ने कहा सुनिश्चित करना होगा, विरोधी ताकतें डिजिटल स्पेस को खेल का मैदान न बनाएं         ||           श्री केनेथ इयॉन जस्टर ने संभाला भारत मे अमरीका के राजदूत का कार्यभार         ||           शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा मानुषी छिल्लर ने हमें गौरवान्वित किया         ||           कंगना रनौत 'मणिकर्णिका' के सेट पर घायल हुईं         ||           मिस्र की वायु सेना ने हथियारों से लदे 10 वाहन नष्ट किए         ||           परिणीति चोपड़ा ने कहा हमेशा से 'मास एंटरटेनर' का हिस्सा बनना चाहती थी         ||           कश्मीर में पहली बार पथराव करने वालों के खिलाफ एफआईआर वापस होगी         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> हैंड्सकॉम्ब ने कहा रांची में सबसे मुश्किल हालात का सामना किया

हैंड्सकॉम्ब ने कहा रांची में सबसे मुश्किल हालात का सामना किया


user1 ,Vniindia.com | Wednesday March 22, 2017, 01:20:29 | Visits: 180







धर्मशाला, 22 मार्च (वीएनआई)| आस्ट्रेलिया को भारत के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में ड्रॉ तक पहुंचाने वाले मध्यक्रम के बल्लेबाज पीटर हैंड्सकॉम्ब ने कहा कि रांची में उन्होंने अपने अभी तक के करियर में सबसे मुश्किल हालात का सामना किया। हैड्सकॉम्ब ने शॉन मार्श के साथ पांचवें विकेट के लिए 124 रनों की साझेदारी करते हुए भारत के जीत के मंसूबों पारी फेर दिया था और मैच ड्रॉ करा ले गए थे।

हैंड्सकॉम्ब के हवाले से वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने लिखा है, हमारे लिए वह काफी अच्छा रहा। हम उस स्थिति में थे, जहां मुश्किल का सामना था। लेकिन, हमें अपने आप पर भरोसा था कि हम मैच ड्रॉ करा सकते हैं। हम सभी ने इस श्रृंखला में शानदार बल्लेबाजी की है और यह सिर्फ मेरी और मार्श की बात नहीं है। हमारे बाद कोई और होता, वह भी ऐसा करता क्योंकि हमें अपने आप पर भरोसा था और हम अच्छा महसूस कर रहे थे। हैंड्सकॉम्ब ने कहा, वह निश्चित ही मेरे करियर की अभी तक की सबसे मुश्किल परिस्थति थी। भारतीय विकेट पर टेस्ट मैच के पांचवें दिन विश्व के दो सर्वश्रेष्ठ स्पिनरों के सामने बल्लेबाजी करना काफी मुश्किल होता है। मेरे और मार्श के लिए यह अच्छा रहा कि हम इस परिस्थति का सामना कर पाए। उन्होंने कहा, मार्श को खासकर ऑफ स्टम्प के बाहर बने रफ का सामना करना था। जडेजा अधिकतर इसी पर गेंदबाजी कर रहे थे। उनका सामना करना मुश्किल था लेकिन मार्श ने उनका मजबूती से सामना किया जो टीम के लिए अच्छा साबित हुआ। उन्होंने कहा, "जहां तक रणनीति का बात है, हमने एक दूसरे से इस पर ज्यादा बात नहीं की। हम विकेट के बीच में आकर बात कर रहे थे और एक दूसरे से कह रहे थे कि आप अच्छा खेल रहे हो। और, फिर अगले ओवर में हम दोनों के पास अपनी रणनीति होती थी।"

हैंड्सकॉम्ब का कहना है कि उन्हें इस बात की उम्मीद थी कि भारतीय कप्तान ड्रॉ के लिए राजी हो जाएंगे और समय से पहले इस बात की घोषणा कर देंगे। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि अंतिम दिन रांची में बल्लेबाजी करने से उन्हें धर्मशाला में होने वाले टेस्ट मैच में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा, मैंने पहले ही कहा कि मैं यहां बल्लेबाजी करना पसंद कर रहा हूं। यहां बल्लेबाजी करना और कई गेंदों का सामना करना अलग अहसास है। इससे मुझे अगले टेस्ट मैच में मदद मिलेगी। मुझे अपने आप पर अब भरोसा है कि मैं अच्छा कर सकता हूं। अगला टेस्ट मैच दोनों टीमों के लिए बेहद अहम है। दोनों एक-एक मैच जीत चुके हैं। आस्ट्रेलिया के पास 2004 के बाद पहली बार भारत में टेस्ट श्रृंखला जीतने का मौका है। हैंड्सकॉम्ब ने कहा, हम इस बात को जानते हैं। हम जानते हैं कि यहां आकर श्रृंखला जीतना कितना मुश्किल है। लेकिन, इस समय हम मैच पर ध्यान दे रहे हैं न कि इन सभी चीजों पर। हम पिछले तीन मैचों में जिस रणनीति के साथ खेले हैं, अगर उसी पर चले तो हमारे लिए इतिहास रचना आसान होगा।

Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें