Breaking News
आज का दिन :         ||           दीपिका रणबीर का रिसेप्शन         ||           अरविन्द केजरीवाल ने कहा ये लोग मिलकर मुझे मरवाना चाहते हैं         ||           मोदी सरकार ने माना नोटबंटी से किसानों को हुआ बड़ा नुकसान         ||           ऑस्ट्रेलिया ने पहले रोमांचक टी20 में भारत को 4 रन से हराया         ||           मनमोहन सिंह ने राफेल मामले पर कहा दाल में कुछ काला जरूर है         ||           जम्मू कश्मीर में बात सरकार की         ||           सेंसेक्स 275 अंक की गिरावट पर बंद         ||           जम्मू एवं कश्मीर में कांग्रेस-पीडीपी और उमर मिलकर बना सकते है सरकार         ||           राहुल गाँधी से तेलंगाना के सबसे अमीर सांसद ने मुलाकात की         ||           पेंटागन ने कहा पाक को दी जाने वाली 1.66 बिलियन डॉलर की मदद पर लगी रोक         ||           आप विधायक सोमनाथ भारती ने महिला एंकर को आपत्तिजनक शब्द कहे         ||           तेलंगाना में प्राइवेट जेट क्रैश हुआ, पायलट सुरक्षित         ||           अक्षय कुमार आज पंजाब एसआईटी के सामने आज पेश होंगे         ||           केरल कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष एमआई शानवास का निधन         ||           देश के शेयर बाज़ारो के शुरूआती कारोबार में गिरावट का असर         ||           हिज्बुल मुजाहिदीन का आतंकी दिल्ली में गिरफ्तार         ||           केंद्रीय मंत्री हरिभाई चौधरी ने कहा अगर आरोप सही हुए तो राजनीति छोड़ दूंगा         ||           एमसी मैरीकॉम वर्ल्ड चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में         ||           अमृतसर ब्लास्ट मामले में दो संदिग्ध छात्र बठिंडा से गिरफ्तार         ||           
close
Close [X]
अब तक आपने नोटिफिकेशन सब्‍सक्राइब नहीं किया है. अभी सब्‍सक्राइब करें.

Home >> कोयले की जगह रद्दी नोट जलाकर बनी बिजली

कोयले की जगह रद्दी नोट जलाकर बनी बिजली


Vniindia.com | Wednesday January 06, 2016, 08:38:33 | Visits: 612







यांगशेन, चीन 6 जनवरी (वीएनआई) चीन के यांगशेन शहर में बिजली उत्पन्न करने के लिए एक अनोखा तरीका अपनाते हुए अपनी करेंसी को ही जलाना शुरू कर दिया है. चीन के सेंट्रल बैंक ने प्रदूषण पर रोक लगाने और बिजली उत्पादन के लिए हो रहे कोयले के इस्तेमाल को कम करने के उद्देश्य से पहली बार बैंकों में पड़े गंदे नोट को जलाने संबंधी निर्देश पावर कंपनी को दिए हैं. कंपनी के इस कदम के बाद तो चीन में जैसे हलचल मच गई थी. अब यहां हर महीने करीब 30 टन नोटों की रद्दी जलाकर बिजली बनाई जा रही है। माना जा रहा है कि इस तरह से नोटों की रद्दी जलाने से एक घर को 25 साल तक लगातार बिजली आपूर्ति मिल सकेगी।
अब तक शहर में 1800 टन ऐसी रद्दी को जला दिया गया है। सरकार ने 12 नवंबर को 100 युआन के नए नोट जारी किए थे। जलाने से पहले इनके बारिक टुकड़े किए जाते हैं जिसके बाद इसे मशीन में डालकर जला दिया जाता है। हर महीने आते हैं पांच ट्रक शहर में बिजली बनाने के हर महीने पांच ट्रक शहर पहुंचते हैं।हर ट्रक में 30 टन रद्दी नोट होते हैं, जिनकी कुल कीमत तीन अरब युआन तक होती है। हर ट्रक में जितने नोट होते हैं, उससे 30 हजार किलोवॉट की बिजली पैदा हो सकती है।.
नोटों से केवल बिजली नहीं, बल्कि ईंटें भी बनती हैं। जलने के बाद बेकार बची राख को ईंटों के निर्माण के काम में लिया जाता है। इससे यह सुनिश्चित किया जाता है कि नोटों की राख से पर्यावरण को किसी तरह की नुकसान न हो इसलिए यह पर्यावरण प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिहाज से भी सही है

Latest News




कमेंट लिखें


आपका काममें लाइव होते ही आपको सुचना ईमेल पे दे दी जायगी

पोस्ट करें


कमेंट्स (0)


Sorry, No Comment Here.

संबंधित ख़बरें